Homeहरियाणामहेंद्रगढ़यादव सभा ने मनाया श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव

यादव सभा ने मनाया श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव

  • कार्यक्रम में क्षेत्र के प्रतिभावान बच्चों को किया सम्मानित
  • श्री कृष्ण ने कहा था की कर्म करो उसका फल अवश्य मिलेगा:- राव दानसिंह

नीरज कौशिक, Mahendragarh News:
यादव धर्मशाला महेंद्रगढ़ के प्रांगण में 19 अगस्त शुक्रवार को श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव एवं भव्य प्रतिभा- सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। यादव सभा के मीडिया प्रभारी कप्तान राजेंद्र सिंह खेड़ा ने जानकारी देते हुए बताया की जन्माष्टमी पर्व हवन के साथ प्रारंभ किया गया सुबेदार ब्रह्मदेव आर्य एवं कंवर सिंह आर्य ने हवन संपन्न कराया।

आयोजन के मुख्य अतिथि

आयोजन के मुख्य अतिथि स्थानीय विधायक एवं पूर्व संसदीय सचिव राव दान सिंह थे एवं पूर्व विधायक नांगल चौधरी एवं यदुवंशी शिक्षा निकेतन के चेयरमैन राव बहादुर सिंह अध्यक्ष रहे। मंच संचालन पूर्व बी ई ओ राजेंद्र सिंह, एवं हरियाणा युवा यादव महासभा के कार्यकारी अध्यक्ष एवं सामाजिक कार्यकर्ता अनिल भगडाना ने किया। मुख्य अतिथि महोदय एवं अध्यक्ष महोदय तथा देश के महान योगी एवं आध्यात्मिक गुरू डॉ. आचार्य प्र‌द्दुम्न जी महाराज आर्ष गुरुकुल खानपुर महेंद्रगढ़ एवं स्वामी समर्पणानंद जी भगभद् भक्ति आश्रम दड़ोली का धर्मशाला प्रांगण में पहुंचने पर यादव सभा के प्रधान डॉ. प्रेम राज यादव एवं समस्त कार्यकारिणी ने फूल मालाओं से एवं गुलदस्ता भेंट कर उनका स्वागत किया।

समारोह में कार्यक्रम प्रस्तुत किए

समारोह में महाशय नंदराम वैद्य रेडियो सिंगर वैदिक मिसाइल बलाहा कलां ने उपदेश व भजन कार्यक्रम प्रस्तुत किए। मुख्य अतिथि महोदय ने क्षेत्र के होनहार बच्चों को एवं सामाजिक कार्यों में अलग-अलग क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वालों को स्मृति चिन्ह एवं प्रशस्ति पत्र भेंट कर उनका सम्मान किया गया।

जन्माष्टमी पर्व पर यादव सभा सार्वजनिक पुस्तकालय भवन निर्माण में एक कमरे के निमित्त (111000 ) एक लाख ग्यारह हजार रुपए का योगदान देने वालों में कप्तान राजेंद्र सिंह खेड़ा, अंकित यादव सुपुत्र अजीत डोर कलां गुरुग्राम, संजय बोहरा सुपुत्र अभय सिंह गांव झुक, सुरेश कुमार सुपुत्र सुरजीत सिंह गुडाना, छाजू राम सुपुत्र रामकरण, पल/निहालपुरा, रामकुमार सुपुत्र कुंदन राम पल/निहालपुरा ने यादव धर्मशाला में एक कमरे के निमित्त (51000)हजार रूपए का योगदान दिया।

कर्म करो उसका फल अवश्य मिलेगा

सभी दानवीरों का पगड़ी, लोई, एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मान किया गया। मुख्य अतिथि महोदय ने अपने संबोधन में कृष्ण जन्माष्टमी पर्व की सभी को बधाई और शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि भगवान योगेश्वर कृष्ण ने गीता में जो उपदेश दिए हैं वह संसार की 182 भाषाओं में प्रचलित है इसे हर मानव को पढ़ना चाहिए। योगेश्वर भगवान कृष्ण ने कहा है कि आप अपने कर्म करो उसका फल अवश्य मिलेगा। आप लोग इसी तरह एकजुट होकर रहे।

मुख्य अतिथि ने एक लाख ग्यारह हजार रुपए देने की घोषणा की

मुख्य अतिथि महोदय ने भी यादव सभा सार्वजनिक पुस्तकालय भवन निर्माण में एक कमरे के निमित्त (111000 ) एक लाख ग्यारह हजार रुपए का योगदान देने की घोषणा की। राव बहादुर सिंह ने भी अपने संबोधन में कृष्णा जन्माष्टमी पर्व की बधाई एवं शुभकामनाएं दी और उन्होंने कहा मैं तो शिक्षा के क्षेत्र में जहां पर नया स्कूल बनाता हूं सबसे पहले योगेश्वर भगवान श्रीकृष्ण की मूर्ति स्थापना करता हूं और उसका फल आप सबके सामने है। अध्यक्ष महोदय ने भी सार्वजनिक पुस्तकालय भवन निर्माण में 1 लाख 11000 हजार रूपए योगदान देने की घोषणा की।

इस अवसर पर उपस्थित

इस अवसर पर यादव सभा के पूर्व प्रधान रामकुमार, रिटायर्ड प्रोफेसर बस्तीराम खैरवाल, कानूनी सलाहकार वरिष्ठ अधिवक्ता धर्मवीर सिंह यादव, डॉ. राजबीर, डॉ. रामपाल, डॉक्टर रामस्वरूप खेड़ा, सभा के उपाध्यक्ष महावीर प्रसाद डी पी ई, सूबेदार ब्रह्मदेव आर्य, सचिव रोहताश सिंह, कोषाध्यक्ष बाबू जगदीश प्रसाद, सह सचिव पूर्व बीईओ जगदेव सिंह, सदस्य पूर्व बीईओ वेदपाल, बलवंत बोहरा, बाबू मलखान सिंह, सुबेदार रघुवीर सिंह, पूर्व गोशाला प्रधान कप्तान सुरेंद्र सिंह, मास्टर सरजीत सिंह, डॉक्टर जे पी यादव, मास्टर जयसिंह गोसेवक रेवाड़ी, यादव सभा के पूर्व सचिव रण सिंह, एवं समाज के अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular