Homeहरियाणामहेंद्रगढ़श्रीकृष्णा स्कूल महेंद्रगढ़ में राखी बनाओ प्रतियोगिता

श्रीकृष्णा स्कूल महेंद्रगढ़ में राखी बनाओ प्रतियोगिता

  • प्रतियोगिता में निक्की और साधना प्रथम, वंशीका रही द्वितीय

नीरज कौशिक, Mahendragarh News:
श्रीकृष्णा सीनियर सेकेंडरी स्कूल महेंद्रगढ़ में बुधवार को रक्षाबंधन पर्व पर राखी बनाओ प्रतियोगिता हुई। इसमें मुख्य अतिथि स्कूल के एमडी कर्मवीर राव उपस्थित रहे जबकि अध्यक्षता प्राचार्य वीरेंद्र सिंह की ओरसे की गई।

ये रहे प्रतियोगिता के परिणाम

मिडिल हेड सुरेंद्र कुमार ने बताया कि राखी बनाओ प्रतियोगिता का आयोजन कक्षा एलकेजी से आठवीं कक्षा तक किया गया। जिसमें विद्यार्थियों ने सुंदर-सुंदर राखियां बनाकर अपनी प्रस्तुति दी। प्री-प्राइमरी हेड संतोष यादव ने बताया कि कक्षा एलकेजी से गार्गी प्रथम, कियान ने द्वितीय व आन्या ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। हेड नत्थुराम ने बताया कि कक्षा दूसरी से कशीष, प्रियांशू प्रथम, हर्ष, योजित ने द्वितीय व जयंत ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

कक्षा तीसरी से वंशिका, हिमानी ने प्रथम, अनमोल, गुंजन ने द्वितीय व छविकांत, भूमिका, वंशिक ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। कक्षा चौथी से ओजस्वी, दश ने प्रथम स्थान, साहित, साक्षी ने द्वितीय व रोनित, इशिका, सर्वजीत ने तृतीय स्थान प्राप्त किया वहीं कक्षा पांचवी से मयंक, गौरव ने प्रथम, दिक्षा, इशिका ने द्वितीय व मुकुल, इशिका व मनन ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

रक्षाबंधन का सांस्कृतिक और सामाजिक महत्व

मिडल हेड सुरेंद्र कुमार ने बताया कि कक्षा छठी से आठवीं तक राखी प्रतियोगिता में कक्षा छठी से दीप्ति व निधि प्रथम, भावना ने द्वितीय तथा वर्षा, हेमंत ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। वहीं कक्षा सातवीं से तान्या प्रथम, रश्मि ने द्वितीय व देवेंद्र, सविना ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। कक्षा आठवीं से निक्की, साधना प्रथम, खुशी, वंशिका ने द्वितीय व राम, हिमांशी ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

इस मौके पर स्कूल के एमडी कर्मवीर राव ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि राखी पर्व भाई-बहन के रिश्तों की अटूट डोर का प्रतीक है। भारतीय परम्पराओं का यह एक ऐसा पर्व है, जो केवल भाई बहन के स्नेह के साथ-साथ हर सामाजिक संबंध को मजबूत करता है। इसलिए यह पर्व भाई-बहन के प्रेम के साथ-साथ सांस्कृतिक, सामाजिक महत्त्व भी रखता है।

भावनात्मक संबंधों का प्रतीक रक्षाबंधन: प्रचार्य

Rakhi Making Competition in Shri Krishna School Mahendragarh
Rakhi Making Competition in Shri Krishna School Mahendragarh

स्कूल के प्राचार्य वीरेंद्र सिंह ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि आज के दौर में जब रिश्ते धुधंलाते जा रहे हैं, ऐसे में भाई-बहन के पवित्र रिश्ते को रक्षाबंधन का पर्व मजबूत प्रेम पूर्ण आधार देता है रक्षाबंधन भाई एवं बहन के भावनात्मक संबंधों का प्रतीक पर्व है। उन्होंने कहा कि इस पर्व पर बहन अपने भाई की कलाई पर धागा बांधकर उनकी दीघार्यु एवं सुरक्षा की कामना करती है।

उन्होंने कहा कि रक्षाबंधन के दिन केवल अपनी बहन की रक्षा का संकल्प मात्र नहीं लेना चाहिए बल्कि नारी जगत के मान-सम्मान और अधिकारों की रक्षा का संकल्प लेना चाहिए ताकि सही मायनों में राखी के दायित्वों का निर्वहन किया जा सके। रक्षाबंधन पर्व पर हमें देश व धर्म की रक्षा का भी संकल्प लेना चाहिए। इस मौके पर स्कूल का समस्त स्टाफ उपस्थित रहा।

ये भी पढ़ें : यादव धर्मशाला में आयोजित शिविर में 182 मरीजों के नेत्रों की हुई जांच

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular