Homeहरियाणामहेंद्रगढ़धूमधाम से मनाया श्रीकृष्णा स्कूल में श्रीकृष्ण जन्मोत्सव

धूमधाम से मनाया श्रीकृष्णा स्कूल में श्रीकृष्ण जन्मोत्सव

  • भगवान श्रीकृष्ण जगत गुरू तथा सम्पूर्ण जगत की अखंड आत्मा है:- कर्मवीर राव
  • कार्यक्रम के दौरान नर्सरी से बारहवीं तक के विद्यार्थियों ने लिया भाग लिया

नीरज कौशिक, महेंद्रगढ़:
श्रीकृष्णा स्कूल महेंद्रगढ़ में शुक्रवार को श्रीकृष्ण जन्मोत्सव बड़े ही उत्साह एवं धूमधाम के साथ मनाया गया। कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि एमडी कर्मवीर राव रहे वहीं अध्यक्षता स्कूल प्राचार्य वीरेंद्र सिंह द्वारा की गई। इस बारे में जानकारी देते स्कूल के संगीत अध्यापक मनोज जांगड़ा व संदीप निराला ने संयुक्त रूप से बताया कि श्रीकृष्णा स्कूल महेंद्रगढ़ में श्रीकृष्ण जन्मोत्सव पर सांस्कृतिक कार्यक्रम, भजन, डांस आदि आयोजित किए गए। इसमें स्कूल के विद्यार्थियों ने बढ़चढ़ कर भाग लिया।

यशोमती मैया से बोले पर झूमे विद्यार्थी

उन्होंने बताया कि नच-नच मेरी मोरनी तू नच, मैया यशोदा मैं मेरा कहैन्या, यशोमती मैया से बोले नंदलाला, राधा क्यूं गोरी मै क्यूं काला, सुन ले ओ मोहन सहित विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों में अपनी शानदार प्रस्तुति दी। वहीं दूसरी ओर ग्यारहवी कक्षा के छात्र रोहन ने सांवली सूरत पे मोहन, दिल दीवाना हो गया भजन गाकर विद्यार्थियों में जोश भर दिया। कार्यक्रम में राधा-कृष्ण बनकर भी विद्यार्थियों ने श्रीकृष्ण की लीलाओं का मंचन किया। वहीं मिडल हैड सुरेंद्र कुमार ने संस्कृत श्लोक सुनाकर भगवान श्रीकृष्ण के बारे में विद्यार्थियों को विस्तारपूर्वक जानकारी दी। इस अवसर पर स्कूल के एमडी कर्मवीर राव ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव संपूर्ण विश्व में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। यह पावन पर्व सदियों से विश्व वसुंधरा पर आस्था, विश्वास, धर्म, कर्म तथा संघर्षों से प्राप्त विजय को प्रदर्शित करता है।

श्रीकृष्ण को बताया संपूर्ण जगत की अखंड आत्मा

भगवान श्रीकृष्ण जगत गुरु तथा सम्पूर्ण जगत की अखंड आत्मा है जो हमें समय-समय पर बतलाती है कि जब-जब धर्म का पतन होगा तब-तब धर्म के उत्थान के लिए योगेश्वर श्रीकृष्ण की प्रेरणा जगत को विश्वास तथा आस्था से प्रकाशमय व गतिमान करती है। भगवान श्रीकृष्ण एक श्रेष्ठ व्यक्ति ही नहीं बल्कि संघर्षों का प्रतीक है। इस मौके पर स्कूल के प्राचार्य वीरेंद्र सिंह ने विद्यार्थियों को बधाई देते हुए कहा कि हिंदू धर्म में भगवान श्रीकृष्ण का जन्म एक उत्सव की तरह है। भगवान श्रीकृष्ण युगों-युगों से प्रत्येक व्यक्ति के हृदय में निवास करते है एवं भगवान श्रीकृष्ण का आशीर्वाद पाने के लिए लोग व्रत रखते है। उन्होंने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव बड़े ही धूमधाम के साथ आस्था एवं श्रद्धा से मनाया जाता है। उन्होंने विद्यार्थियों एवं स्कूल स्टाफ को जन्माष्टमी पर्व की शुभकामनाएं देते हुए जीवन में आगे बढ़ने के लिए भी प्रेरित किया। कार्यक्रम के अंत में प्रतिभागियों को सम्मानित किया गया वहीं जिला स्तरीय मार्च पास्ट में भाग लेने वाले विद्यार्थियों को भी मेडल देकर सम्मानित किया गया।

SHARE
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular