Homeराज्यहरियाणामहेंद्रगढ़ : यादव सभा ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर पंचायती राज...

महेंद्रगढ़ : यादव सभा ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर पंचायती राज चुनावों में पिछड़ा वर्ग-बी के लिए भी मांगा आरक्षण

नीरज कौशिक,  महेंद्रगढ़ :
यादव सभा महेंद्रगढ़ का एक शिष्टमंडल 13 जुलाई मंगलवार को सभा के प्रधान डा. प्रेमराज यादव की अगुवाई में उपायुक्त अजय कुमार से मिला और पंचायती राज चुनावों में पिछड़ा वर्ग बी को भी आरक्षण दिए जाने के संबंध में यादव सभा की तरफ से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। हरियाणा युवा यादव महासभा के जिला कार्यकारी अध्यक्ष और सामाजिक कार्यकर्ता अनिल भगडाना ने बताया कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव में पिछड़ा वर्ग-ए हेतु आरक्षण का प्रावधान किया है जोकि स्वागत योग्य है लेकिन ना जाने किस मंशा के तहत प्रदेश के कमेरे वर्ग में शुमार पिछड़ा वर्ग-बी जिसमें अहीर, गुर्जर, सैनी और मेव शामिल हैं, को इस आरक्षण का लाभ नहीं दिया गया जबकि आरक्षण की प्रत्येक व्यवस्था में संपूर्ण पिछड़ा वर्ग को सामूहिक आरक्षण दिए जाने का प्रावधान है।
यादव सभा ने ज्ञापन के माध्यम से मुख्यमंत्री से अपील की है कि प्रदेश की जनसंख्या का एक बहुत बड़ा हिस्सा पिछड़ा वर्ग से संबंधित है और इस वर्ग का एक बहुत बड़ा जनसमूह पिछड़ा वर्ग-बी में समाहित है। अत: एक ही वर्ग में 2 प्रकार की व्यवस्था करने से न केवल पिछड़ा वर्ग को दो भागों में तोड़ने का काम किया जा रहा है बल्कि सरकार से वैचारिक समानता रखने वाला पिछड़ा वर्ग-बी अपने आप को ठगा हुआ महसूस कर रहा है।यादव सभा ने ज्ञापन के माध्यम से मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि नगर निकाय चुनावों की तर्ज पर पंचायती राज चुनावों जिसमें पंच, सरपंच, ब्लॉक समिति सदस्य और जिला पार्षद शामिल हैं, में भी पिछड़ा वर्ग-बी के प्रतिनिधित्व को आरक्षित करते हुए प्रदेश के एक बहुत बड़े जनसमूह को न्याय देने का काम करें। उपायुक्त को ज्ञापन सौंपने के उपरांत यादव सभा का शिष्टमंडल उपमंडल अधिकारी (ना.) दिनेश कुमार से मिला और शहर में विकास से संबंधित अनेक बिंदुओं पर चर्चा की।

शिष्टमंडल ने कहा कि चूंकि अब नगरपालिका के प्रशासक के तौर पर एसडीएम नियुक्त कर दिए गए हैं जिससे कि सालों बाद नगरवासियों को विकास कार्यों के प्रति एक उम्मीद जगी है इसलिए बिना किसी विलंब के नवनियुक्त प्रशासक को अब शहर की चरमराई व्यवस्था को दुरुस्त करना चाहिए जिसमें बिजली, पानी, सड़कें, साफ-सफाई इत्यादि शामिल हैं। यादव सभा ने शहर में एकमात्र पार्क के रखरखाव के बारे में भी एसडीएम से चर्चा की और बस स्टैंड पर शरारती तत्वों तथा चोर-उचक्कों से निजात पाने के लिए एक स्थाई चौकी और पीसीआर की व्यवस्था करवाने का आग्रह किया।  शिष्टमंडल ने शहर में व्याप्त अतिक्रमण और अवैध कब्जों को लेकर भी एसडीएम से कड़ी कार्रवाई करने का आग्रह किया ताकि शहर में रोज-रोज के जाम से मुक्ति मिल सके। इस अवसर पर सभा के प्रधान डा. प्रेमराज यादव, उपाध्यक्ष महावीर प्रसाद डीपीई, सूबेदार ब्रह्मदेव आर्य, कोषाध्यक्ष जगदीश प्रसाद, सभा के कानूनी सलाहकार और वरिष्ठ अधिवक्ता धर्मवीर यादव, कार्यकारिणी सदस्य वेदपाल बीईओ, बहादुर सिंह थानेदार आदि उपस्थित रहे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular