Homeराज्यहरियाणामहेंद्रगढ़ : राष्ट्रीय शिक्षा नीति के सोपानों को क्रियान्वित करने के लिए...

महेंद्रगढ़ : राष्ट्रीय शिक्षा नीति के सोपानों को क्रियान्वित करने के लिए दी जाएगी आनलाइन ट्रेनिंग

नीरज कौशिक, महेंद्रगढ़ :
जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान महेंद्रगढ़ में शुक्रवार को निष्ठा 2.0 और निष्ठा 3.0 के संदर्भ में एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिला शिक्षा अधिकारी सुनील दत्त, डाइट प्राचार्य सुभाष चंद्र यादव व जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी विजेंद्र श्योराण की गरिमामय उपस्थिति में इस कार्यशाला का सफल संचालन हुआ। राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के तहत एसएलएन फंडामेंटल लिटरेसी एंड न्यूमेरिसी पर आधारित इस कार्यशाला में भारत सरकार व हरियाणा सरकार की महत्वाकांक्षी योजना निपुण भारत के विषय में विस्तार से चर्चा की गई जिले के पांचों खंडों से आए हुए एबीआरसी बीआरपी वह सिम को आगामी रूपरेखा के विषय में विस्तार से बताया गया। डाइट प्राचार्य सुभाष चंद्र यादव ने बताया कि जब तक भारत के प्रत्येक बच्चे को गणितीय गणना और संख्यात्मक ज्ञान नहीं होगा तब तक राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 का सही अनुपालन नहीं होगा।

जिला शिक्षा अधिकारी सुनील दत्त ने बताया की अध्यापकों को पूरे मनोबल व निष्ठा के साथ समाज के अंतिम छोर पर खड़े बच्चों तक भी शिक्षा की ज्योति को पहुंचाना है। जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी विजेंद्र श्योराण ने एबीआरसी बीआरपी व डाइट फैकेल्टी को बेहतर कार्य करने के लिए शाबाशी दी तथा भविष्य में भी अच्छा कार्य करने की उम्मीद जताई। जिला तकनीकी समन्वयक डा. विक्रम सिंह ने संपूर्ण ट्रेनिंग के बारे में विस्तार से बताया तथा तकनीकी खामियों को दूर करने के उपाय सुझाए। जिला समन्वयक लाल सिंह यादव ने अध्यापकों का मनोबल बनाए रखने के लिए विभिन्न पहलुओं पर विचार करने पर जोर दिया। इस कार्यशाला में डाइट के वरिष्ठ प्रवक्ता रामेश्वर दास, राजेश दुआ, डा. सुरेंद्र व प्रवक्ता नरेश कुमार, सूर्यकांत यादव, मुरारी लाल गुप्ता, सुनीता यादव, मनोज कुमार व मनु यादव के अलावा अटेली, कनीना, महेंद्रगढ़, नांगल चौधरी व नारनौल के खंड शिक्षा अधिकारी संतोष चौहान, अभय राम, पवन कुमार भारद्वाज, भूप सिंह रंगा व सुभाष सांवरिया उपस्थित रहे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments