Homeराज्यहरियाणामहेंद्रगढ़ : अनुसूचित जाति के बेरोजगार युवाओं के लिए मछली पालन प्रशिक्षण...

महेंद्रगढ़ : अनुसूचित जाति के बेरोजगार युवाओं के लिए मछली पालन प्रशिक्षण शुरू

नीरज कौशिक, महेंद्रगढ़ :
मत्स्य अधिकारी सोमदत्त द्वारा अनुसूचित जाति से संबंधित बेरोजगार युवाओं को दिया जाने वाला मछली पालन का प्रशिक्षण आज लघु सचिवालय के कमरा नंबर 123 में शुरू किया। इस दौरान उन्होंने विभाग द्वारा अनुसूचित जाति से संबंधित मिलने वाले अनुदान के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने बताया कि कोई भी किसान किसी भी पंचायती जोहड को मछली पालन के लिए पट्टे पर लेता है तो उसको प्रथम वर्ष पट्टा राशि का 50 प्रतिशत या अधिकतम 50000 हजार रुपए प्रति हेक्टेयर के हिसाब से जो भी कम हो का अनुदान मिलता है। इसके अतिरिक्त तालाब में खाद  खुराक डालने के लिए अधिकतम 90000 प्रति हेक्टेयर के हिसाब से अनुदान मिलता है व जाल खरीदने पर अधिकतम 7500 रुपए का अनुदान भी मिलता है। प्रशिक्षण के दौरान सौ रुपए प्रतिदिन के हिसाब से कुल दस दिन का 1000 रुपए प्रशिक्षण भत्ता व 100 रुपए कुल आने-जाने का किराया भी मिलता है। यदि कोई भी अनुसूचित जाति से संबंधित बेरोजगार युवक या युवती प्रशिक्षण लेना चाहता है तो वह भी सरल पोर्टल के माध्यम से अपना आवेदन मछली पालन विभाग को भेज सकता है। आवेदन करने के लिए उसके पास फैमिली आईडी, जाति प्रमाण पत्र, बैंक कापी, आधार कार्ड व एक पासपोर्ट साइज की फोटो होनी अनिवार्य है। अधिक जानकारी के लिए आप लघु सचिवालय में स्थित मत्स्य अधिकारी महेंद्रगढ के कार्यालय कमरा नंबर 205 में सम्पर्क कर सकते है या जिला मत्स्य अधिकारी नारनौल के कार्यालय में भी सम्पर्क कर सकते हैं।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular