HomeहरियाणाफतेहाबादLand Rigging Case जमीन विवाद में फंसे फरार एसडीएम का ट्रांसफर

Land Rigging Case जमीन विवाद में फंसे फरार एसडीएम का ट्रांसफर

आज समाज डिजिटल, फतेहाबाद:

Land Rigging Case : विजिलेंस के जाल में फंसे रतिया के फरार एसडीएम का सरकार ने ट्रांसफर कर दिया है। शुक्रवार को साल के अंतिम दिन जारी अफसरों की तबादला सूची में उनको रतिया से हटाकर कला एवं सांस्कृतिक विभाग में संयुक्त निदेशक बनाया गया है।

23 दिसंबर से फरार है एसडीएम Land Rigging Case

फतेहाबाद के रतिया में जमीन रजिस्ट्री के एक मामले में विजिलेंस ने भारत भूषण और उनकी पत्नी सरिता के खिलाफ मामला दर्ज किया है और वह फरार चल रहे हैं। गिरफ्तारी के डर से एसडीएम 23 दिसंबर से फरार हैं। उन्होंने गिरफ्तारी से बचने के लिए फतेहाबाद के सेशन कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका लगाई हुई है, जिस पर 3 जनवरी को कोर्ट में सुनवाई होनी है।

चल रही जांच, लेकिन सरकार मूक Land Rigging Case

विजिलेंस के जाल में फंसे होने के बावजूद प्रदेश सरकार ने फिलहाल अपने इस अधिकारी के खिलाफ निलंबन जैसा कोई कदम नहीं उठाया। इनका रतिया से चंडीगढ़ ट्रांसफर जरूर कर दिया। अब वे कम महत्व वाले विभाग कला एवं सांस्कृतिक विभाग में संयुक्त निदेशक नियुक्त की जिम्मेदारी संभालेंगे। उनकी जॉइनिंग कब होगी, इस पर अभी संशय है, क्योंकि विजिलेंस उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

इस धांधली का है आरोप Land Rigging Case

रतिया में फतेहाबाद रोड पर मिगलानी अस्पताल के पास 24 कनाल 7 मरले जमीन की रजिस्ट्री के विवाद में रऊट भारत भूषण का नाम आया है। विजिलेंस के ऊरढ राकेश मलिक की मानें तो जमीन की रजिस्ट्री 1 करोड़ 65 लाख 28 हजार में होनी थी, लेकिन इसे बहुत कम 40 लाख रुपए में कर दी गई। इसमें न तो एनओसी नगरपालिका से ली गई और न ही प्रॉपर्टी आईडी ली गई। इस जमीन के एक हिस्से की रजिस्ट्री भारत भूषण की पत्नी सरीता और दूसरे हिस्से की बाला राम की पत्नी कर्मजीत कौर के नाम से हुई है। बताया गया है कि भारत भूषण के बालाराम ने ही पूरा खेल रचा था।

Also Read: करनाल में शादी के पांच दिन बाद दुल्हन ने लगाया फंदा 

SHARE
Mohit Sainihttps://indianews.in/author/mohit-saini/
Humanity Is the Best Religion In The Word
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments