Homeहरियाणाअंबालाआईएमटी से हजारों युवाओं को मिलेगा लाभ : कार्तिक शर्मा

आईएमटी से हजारों युवाओं को मिलेगा लाभ : कार्तिक शर्मा

आज समाज डिजिटल, नई दिल्‍ली । Kartik Sharma : सांसद कार्तिक शर्मा ने अम्‍बाला में आईएमटी को लेकर मंजूरी मिलने पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल का धन्यवाद किया। उन्‍होंने नई दिल्‍ली में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि हरियाणा के सीएम के कारण आईएमटी की सौगात अम्‍बाला को मिली है।

उन्होंने कहा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री विनोद शर्मा ने अम्‍बाला में आईएमटी को लेकर लंबे समय से लड़ाई लड़ी थी और यह लोगों की एक बड़ी डिमांड भी थी। आईएमटी के आने से यहां के युवाओं को काफी फायदा मिलेगा। हजारों युवाओं को रोजगार मिल सकेगा। ईको सिस्टम को फायदा होगा और व्यवसाय भी बढ़ेगा।

लंबे समय से थी आईएमटी की मांग

सांसद कार्तिक शर्मा ने बताया कि अम्‍बाला के लोगों की यह लंबे समय से मांग थी कि यह आईएमटी यहां के लोगों को मिले। मैं मुख्यमंत्री का एक बार फिर धन्यवाद करता हूं कि उन्होंने अम्‍बाला के लोगों की बात सुनी और लोगों को आईएमटी का तोहफा दिया। मुख्‍यमंत्री ने अम्‍बाला के युवाओं की आवाज सुनी और यह उपहार दिया है। इससे अम्‍बाला में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे और क्षेत्र में खुशहाली ।

उन्होंने कहा कि इसमें कोई शक नहीं कि जहां भी आईएमटी आती है, उस इलाके में काफी विकास होता है। व्यवसाय बढ़ता है, रोजगार के अवसर बढ़ते हैं। आईएमटी लगने से न केवल रोजगार मिलेगा, बल्कि यहां के लोकल उद्योग को भी काफी बल मिल सकेगा।

अम्‍बाला मेरा घर, हर युवा को रोजगार दिलाना मेरा उद्देश्य

मैंने अंबाला को सांसद के तौर पर गोद लिया है और यह मेरा घर है। अम्‍बाला के विकास और रोजगार के अवसरों के बारे में मैं लगातार सोचता रहता हूं। मुझे अम्‍बाला से काफी प्‍यार मिला है। मेरा यही उद्देश्य है कि हर युवा को रोजगार मिले। आईएमटी का मैं बहुत स्वागत करता हूं। वहीं उन्होंने संसद का जिक्र करते हुए कहा कि संसद का अनुभव अच्छा रहा।

हालांकि संसद किन्‍हीं कारणों के कारण ज्‍यादा चल नहीं सकी। फि‍र भी मुझे अच्‍छा अनुभव हुआ। यहां से मुझे काफी कुछ सीखने को मिलेगा। इसके साथ ही अब संसद में हरियाणा के लोगों की बात रखने का मुझे अवसर मिला है।

एक देश, एक संविधान, एक झंडा, हर घर तिरंगा

हमारा एक नारा था एक देश, एक संविधान, एक झंडा, हर घर तिरंगा। इसी के चलते हमने हर घर तिरंगा अभियान की शुरुआत की थी। 5 अगस्त को यह अभियान श्रीनगर के लाल चौक से शुरू हुआ था। पहली बार लाल चौक पर डिबेट हुई इसके बाद तिरंगा यात्रा शुरू हुई। इस दौरान राज्‍यपाल मनोज सिन्‍हा ने ग्रेट इंडिया रन को रवाना किया। इसके बाद 15 अगस्‍त को दिल्‍ली में केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने इसे रिसीव किया।

मुझे लाल चौक पर तिरंगा फहराने का मौका मिला जोकि मेरे लिए एक नया अनुभव था। मशाल को लाल चौक से इंडिया गेट तक लाया गया। ऐसे आयोजन इसलिए महत्वपूर्ण होते हैं, क्योंकि ऐसे कार्यक्रम देश की एकता और अखंडता को बढ़ावा देते हैं।

आज से 30 वर्ष पहले भाजपा के वरष्ठि नेता मुरली मनोहर जोशी व माननीय प्रधानमंत्री ने श्रीनगर के लाल चौक से तिरंगा यात्रा शुरू की थी। उस समय और आज में जमीन आसमान का अंतर है। अब कानून व्‍यवस्‍था है, देश में सकारात्‍मक अमूलचूल परिवर्तन और बदलाव आए हैं, जिस कारण हम वहां तिरंगा फहरा सके।

Read More : पूर्व केंद्रीय मंत्री विनोद शर्मा का सपना साकार, अंबाला में लगेगा आईएमटी, युवाओं को रोजगार

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular