Homeहरियाणाकरनालवासु गर्ग ने देश में पाई 33वीं रैंक

वासु गर्ग ने देश में पाई 33वीं रैंक

प्रवीण वालिया, करनाल:
जेनिसिस क्लासिस के 12 सालों की यात्रा में इस बार का पढ़ाव सबसे स्वर्णिम रहा। जिसने पहली इतिहास रच दिया। जेनिसिस क्लासिस के 75 विद्यार्थियों ने 720 में से 590 से अधिक अंक लेकर सरकारी मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश मार्ग प्रशस्त कर दिया। गत देर रात मेडिकल कॉलेजों के लिए आयोजित प्रवेश परीक्षा नीट का रिजल्ट घोषित किया गया।

कई अभ्यर्थियों ने पाई अच्छी रैंकिंग

vasu-garg-got-33rd-rank
vasu-garg-got-33rd-rank
जेनिसिस के वासु गर्ग ने 720 में 705 अंक प्राप्त कर ऑल इंडिया 33वीं रेंक प्राप्त की। पहले प्रयास में ही उसने यह सफलता अर्जित की। उसके बाद गुंजन नागपाल 690 अंक प्राप्त कर 390रेंक और रिदम बिंदल ने 682 अंक प्राप्त कर 634वीं रेंक, इशिता ने 680 अंक प्राप्त कर ऑल इंडिया 741वी रेंक ,आशुषी 670 अंक, अदिति धीमान 665 अंक, अंजलि गोयल 665 अंक, पराग 660 अंक, मुस्कान मिगलानी 655 अंक, उदय 655 अंक, कौशल नरेश 650 अंक, आंचल काम्बोज 646 अंक, पुल्कित सिंह 646 अंक, संचित सचदेवा 645 अंक, सान्या गांधी 640 अंक, यशिका 636 अंक,  शादाब चौधरी 635 अंक, कृतिका 635 अंक,  ईरा गर्ग 635 अंक, यशिका 631 अंक, अर्पन वर्मा 630 अंक, विजय 627 अंक, आराध्या कटारिया 623 अंक, परागंया कटारिया 623 अंक, जसवीन कौर 610 अंक, वंशिका बजाज 610 अंक, आशीष 610 अंक, मन्नु शर्मा 609 अंक, निष्ठा बजाज 606 अंक, अंश 606 अंक, अश्विनी कुमार 603 अंक,  शीतल देवी 600 अंक, अमित ग्रेवाल 600 अंक प्राप्त किए।
कार्डिकसर्जन बनना चाहता है वासु गर्ग
वासु विरेन गर्ग ने नीट-यूजी में 705 अंक प्राप्त कर आल इंडिया रैंक 33 हासिल की है। वासु ने बताया कि वह पिछले दो सालों से जेनिसिस क्लासिस करनाल का क्लासरूम स्टूडेंट हूं। मैं डाक्टर इसलिए बनना चाहता हूं क्योंकि यह ऐसा फील्ड है, जिसमें आप दूसरों की मदद कर खुद को सेटिस्फाई कर सकते हो। जेनिसिस का माहौल बिल्कुल घर जैसा लगता है। सभी लोग कोटा की ओर भागते हैं मगर मैने और मेरे अभिभावकों ने करनाल में रहकर ही मेरी डाक्टर बनने की तैयारी जेनिसिस के साथ शुरू की। यह मेरे लिए सही साबित हुआ। जेनिसिस में हर अभिभावक के सपने साकार करने के लिए हर संसाधन है।

ये भी पढ़ें : भारत-पाक क्रिकेट मैच पर सट्टा लगाते 3 गिरफ्तार

ये भी पढ़ें : निगम की टीमों ने कई थोक विक्रेताओं व दुकानदारों पर की छापेमारी

ये भी पढ़ें : डेंगू ने अपने पांव पसारना शुरू कर दिया हैं, डेंगू के 7 पॉजिटिव मामले

ये भी पढ़ें : कुपोषण मुक्त भारत के सपने को साकार करने के लिए राष्ट्रीय पोषण माह अभियान को बनाएं जन आंदोलन

ये भी पढ़ें : पुलिस अधीक्षक ने दिया आमजन के लिए संदेशvasu-garg-got-33rd-rank

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular