Homeहरियाणाकरनालनाबालिग भतीजे को चाचा ने उतारा मौत के घाट

नाबालिग भतीजे को चाचा ने उतारा मौत के घाट

इशिका ठाकुर, करनाल:
बड़ौता गांव में चाचा ने कुछ लोगों के साथ मिलकर अपने भतीजे पर चाकू से हमला कर दिया। इससे हमले से उसकी मौत हो गई। युवक के भाई की हालत गंभीर है। घायल युवक को कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया है। घटना से परिवार और रिश्तेदारों में मातम का माहौल है। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीम का गठन भी कर दिया है।

चाचा-चाची समेत सात फंसे केस में

बीती रात करीब 9 बजे गांव बड़ौता में किसी बात को लेकर चाचा भतीजों में झगड़ा हो गया था। इस झगड़े में चाचा ने अपने परिवार व कुछ लोगों के साथ मिलकर भजीते अरुण (16) और बड़े भाई अमन पर चाकू से हमला कर दिया। इस हमले में दोनों भाई गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को उपचार के लिए कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया गया, जहां अरूण ने दम तोड़ दिया। घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम की कार्रवाई शुरू की।

हुक्का पीने की बात पर हुई थी कहासुनी

परिजनों ने बताया कि अरुण अपने दोस्तों के साथ रात करीब 9 बजे चौपाल के पास बैठकर हुक्का पी रहा था। इस दौरान चाचा राजेश व अरूण के बीच कहासुनी हो गई। आरोप है कि जब अरूण की मां सुमन ने राजेश का विरोध किया तो उसने सुमन पर हाथ उठा दिया। जिसको अरुण बर्दास्त नहीं कर सका और चाचा के साथ उसका झगड़ा हो गया। झगड़ा इतना बढ़ गया कि राजेश ने अपने परिवार के कुछ लोगों के साथ मिलकर अरुण पर चाकू से हमला कर दिया। जिसमें अरुण व उसका बड़ा भाई अमन गंभीर रूप से घायल हो गए। घायल अमन का मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा है। अमन की हालत नाजुक बनी हुई है।

दो तीन दिन पहले हुई थी कहासुनी: एसएचओ

थाना प्रभारी सज्जन सिंह ने बताया कि अरुण उर्फ सनम का पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है। वहीं बड़ा भाई अमन गंभीर हालत में अस्पताल में उपचाराधीन है। हत्या का आरोप चाचा सहित कुछ लोग पर लगा है। उन्होंने बताया कि दो तीन दिन पहले कुछ कहा सुनी हुई थी, जिसे लेकर बीती रात भी झगड़ा हुआ और चाचा ने कुछ लोगों के साथ मिलकर भतीजे की हत्या कर दी।

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular