Homeहरियाणाकरनालयातायात के नियमों का पढ़ाया पाठ, पुलवामा शहीदों को श्रद्धांजलि Traffic Rules...

यातायात के नियमों का पढ़ाया पाठ, पुलवामा शहीदों को श्रद्धांजलि Traffic Rules Awareness

प्रवीण वालिया, करनाल:
Traffic Rules Awareness : गुरु नानक खालसा कॉलेज करनाल के एनएसएस के स्वयंसेवकों ने तीसरे दिन करनाल के ट्रैफिक पार्क में जाकर यातायात नियमों की जानकारी प्राप्त की। स्वयं सेविकाओं ने ट्रैफिक पार्क में जाकर स्कूटी चलाना सीखा और यातायात नियमों के बारे में जाना। छात्राओं में स्कूटी सीखने का भारी उत्साह था।

Read Also : जानिए माघ पूर्णिमा कब है? जाने इस दिन पूजा का सही शुभ मुहूर्त एवं स्नान-दान के महत्व के बारे में Magh Purnima 2022

यातायात नियमों के पालन का वादा (Traffic Rules Awareness)

ट्रेनर दीपा अरोड़ा और रवि कुमार के निर्देशन में छात्राओं ने ड्राइविंग की जानकारी ली और उनकी कक्षा लगाकर विभिन्न जानकारियां प्राप्त की। होंडा करनाल के प्रमुख अरविंद कुमार ने कहा कि सरकार एवं करनाल ट्रैफिक पुलिस के सहयोग से ट्रैफिक पार्क विभिन्न प्रकार की गतिविधियों के साथ-साथ वाहन चलाने का प्रशिक्षण भी देता है। ट्रैफिक पुलिस के उपनिरीक्षक अशोक शर्मा ने स्वयंसेवकों को यातायात के नियमों का पालन करने का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि जीवन एक बार मिलता है सडक दुर्घटना में जीवन को मत गवाएं।

हेलमेट का जरूर इस्तेमाल करें दोपहिया वाहन चालक (Tribute to the martyrs of Pulwama)

दोपहिया वाहन पर हेलमेट का प्रयोग अवश्य करना चाहिए। सभी प्रकार के दस्तावेज अपने साथ या डीजी लॉकर में अवश्य रखें। यातायात नियमों की अवहेलना पर अब भारी भरकम जुमार्ना भी लगता है। एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी डा. बीर सिंह एवं डॉ दीपक ने दीपा अरोड़ा व अशोक शर्मा को स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया जबकि ट्रेफिक पार्क द्वारा सभी को प्रमाण पत्र भी प्रदान किए गए।

कैंडल मार्च भी निकाला (Tribute to the martyrs of Pulwama)

Traffic Rules Awareness : रात को स्वयंसेवको ने पुलवामा में शहीद हुए सेनिकों को श्रद्धांजलि देते हुए गांव में कैंडल मार्च निकाला। कालेज प्रबंधन समिति के प्रधान सरदार कंवरजीत सिंह प्रिंस एवं प्राचार्य डा. मेजर सिंह ने सभी स्वयंसेवकों को हौसला अफजाई की एवं उन्हें सभी प्रकार की सुविधाएं प्रदान की। उसके बाद गांव शामगढ़ में जाकर छात्र छात्राओं ने गांव की गलियों की सफाई की एवं गलियों का कूड़ा करकट उठाकर गलियों, चौराहों एवं सडकों को चमकाया व स्वच्छता, शिक्षा, पराली न जलाने तथा जल संरक्षण का संदेश दिया।

Read Also : खेलते कूदते बच्चे ही अच्छे, मायूस बच्चा चिंता का विषय International Childhood Cancer Day

Connect With Us : TwitterFacebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular