Homeहरियाणाकरनालहथियारों के बल पर राहगीरों को लूटने वाले तीन आरोपी पकड़े

हथियारों के बल पर राहगीरों को लूटने वाले तीन आरोपी पकड़े

करनाल (प्रवीण वालिया) गिरोह बनाकर घातक हथियारों के साथ राहगीरों से लूटपाट करने वाले तीन आरोपियों को डिटेक्टिव स्टाफ इंचार्ज निरीक्षक हरजिंद्र सिंह के नेतृत्व में पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दो-तीन जुलाई की रात को डिटेक्टिव स्टाफ की टीम को सूचना मिली कि आरोपी फरमान पुत्र सत्तार जिला सहारनपुर उत्तर प्रदेश, हनीश पुत्र लियाकत, निजाकत पुत्र शौकत व मनवर उर्फ भूरा पुत्र याकुब जिला सहारनपुर ने मिलकर चोरी व लूटपाट जैसी गंभीर वारदातों को अंजाम देने के लिए गैंग बनाया हुआ है। जो अपने पास घातक हथियार रखते हैं और आने-जाने वाले राहगीरों को हथियारों के बल पर डरा-धमका कर लूट करते हैं।

उपरोक्त आरोपी आज भी गांव सलारु से करनाल की तरफ आते समय सडक के पास बनी एक बाबा की कुटिया, जिसमें रात के समय कोई नहीं रहता है, उसमें मौजूद हैं और सडक पर आने-जाने वालों से लूट की कोशिश कर रहे हैं। सूचना के आधार पर एएसआई हिम्मत सिंह डिटेक्टिव स्टाफ की अध्यक्षता में एक रैडिंग पार्टी तैयार ही गई। योजना अनुसार मोटरसाईकिल पर सवार होकर टीम का एक सदस्य आरोपियों के छुपे होने के ठिकाने के पास पंहुचा तो उनमें से एक आरोपी ने पुलिस टीम के सदस्य की मोटरसाईकिल को टॉर्च जलाकर लूटने के लिए रूकवाया। जैसे ही मोटरसाईकिल रुकी तो गाड़ी में पीछे से आ रही पुलिस टीम द्वारा तीन आरोपियों फरमान, हनीश, निजाकत को मौका पर से काबू किया गया।

लेकिन अंधेरे का फायदा उठाकर चौथा आरोपी मनवर बिना नम्बर की मोटरसाईकिल पर भागने में कामयाब रहा। गिरफ्तार तीनों आरोपियों की तलाशी लेने पर उनके कब्जे से एक अवैध देशी पिस्तौल 12 बोर, एक अवैध देशी पिस्तौल 315 बोर, 6 जिंदा कारतूस व एक लोहे का सरिया बरामद किया गया। इस संबंध में आरोपियों के खिलाफ थाना सदर करनाल में धारा 398,401 आईपीसी व 25/54/59 आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। आरोपियों को 3 जुलाई को अदालत में पेश कर रिमाण्ड हासिल किया जाएगा। दौराने रिमाण्ड आरोपियों से गहनता से पूछताछ व जिला करनाल के अन्य मामलों में भी संलिप्तता का पता लगाया जाएगा।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular