Homeहरियाणाकरनालअसंध थाने में हवालाती ने लगाई फांसी, परिवार ने किया हंगामा

असंध थाने में हवालाती ने लगाई फांसी, परिवार ने किया हंगामा

इशिका ठाकुर, करनाल (असंध) :

  • तीन दिन से था हवालात में, लड़ाई झगड़े का था आरोप

असंध थाना में एक 23 वर्षीय हवालाती ने लगाई फांसी

युवक ने अपने ही पायजामे से फंदा लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। मृतक युवक पिछले 3 दिनों से लड़ाई झगड़े तथा छेड़छाड़ की शिकायत के आरोप में हवालात में बंद था। मृतक युवक का नाम रमेश कुमार है जोकि असंध के वार्ड नंबर 3 का रहने वाला है। मृतक रमेश की पत्नी तथा दो बच्चे हैं। मृतक रमेश की मौत पर गुस्साए परिजनों ने पुलिस थाने के बाहर जांच की मांग को लेकर हंगामा किया। परिजनों का कहना है कि जब तक मामले की जांच नहीं हो जाती तब तक वह मृतक का संस्कार नहीं करेंगे।

मृतक के पिता ने पुलिस पर लगाया आरोप

मृतक रमेश के पिता सुखा ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस ने उनसे धक्के से कागजों पर अंगूठा लगवा लिया है। मृतक रमेश की काम करते समय मिस्त्री के साथ थोड़ी सी कहासुनी हो गई थी, मिस्त्री की पत्नी ने रमेश पर मारपीट करने तथा छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए पुलिस को शिकायत दे दी। जिसके चलते पुलिस ने उसे हवालात में बंद कर दिया। रमेश पिछले 3 दिन से हवालात में बंद था। मामले को लेकर कई बार पंचायत की गई लेकिन पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की और रमेश को लगातार तीन दिनों तक हवालात में बंद रखा। मृतक रमेश के पिता ने पुलिस पर लापरवाही बरतने तथा उनसे जबरदस्ती कागजों पर अंगूठा लगवाने का आरोप लगाया है। मृतक रमेश के पिता का कहना है कि जब तक सचाई का पता नहीं लगता तब तक शव नहीं उठाएंगे।

मृतक रमेश की पत्नी किरणजीत ने बताया कि उसके पति पर एक महिला ने मारपीट तथा छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया था। जबकि उसके पति की मामूली कहासुनी मिस्त्री के साथ हुई थी और उसके पति का महिला के साथ कोई भी लेना देना नहीं था। मृतक रमेश की पत्नी ने कहा की महिला ने उसके पति को जान से मरवाने की धमकी भी दी थी।

ये भी पढ़ें : कैथल के देबन गांव में संदिज्ध सामान मिलने के कारण मधुबन से बुलाई बम रोधक टीम

ये भी पढ़ें : आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन-आरोग्य के लाभार्थियों के अनुभवों को लेकर तैयार की जा रही डॉक्यूमेंट्री फिल्म

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular