HomeहरियाणाकरनालSystem Change to Take Advantage of Schemes घर बैठे मिलेगा सरकारी योजनाओं...

System Change to Take Advantage of Schemes घर बैठे मिलेगा सरकारी योजनाओं का लाभ

हरियाणा के इतिहास में व्यवस्था परिवर्तन को लेकर एक बहुत बड़ा दिन : मुख्यमंत्री System Change to Take Advantage of Schemes

इशिका ठाकुर,करनाल:

System Change to Take Advantage of Schemes: मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के तहत विश्व स्वास्थ्य दिवस के मौके पर हरियाणा सरकार ने परिवार पहचान पत्र बनाकर पात्र व्यक्तियों को घर बैठे-बैठे सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचाने को लेकर व्यवस्था परिवर्तन की एक नई पहल की है। ऐसी पहल करने वाला हरियाणा देश का पहला राज्य बन गया है, अब पात्र व्यक्ति को योजना का लाभ लेने के लिए कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे बल्कि पात्र व्यक्ति से जरूरी दस्तावेज लेने के लिए अधिकारियों/कर्मचारी उसके घर जाएंगे। यानि अब प्यासा कुएं के पास नहीं बल्कि सरकारी कुआं प्यासे के पाए जाएगा।

मुख्यमंत्री वीरवार को पंचकूला से वर्चुअल कार्यक्रम के माध्यम से जिला मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रमों में उपस्थित मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत खंड स्तर पर लगाए गए अंत्योदय मेलों के लाभार्थियों तथा परिवार पहचान पत्र के आधार पर पात्र व्यक्तियों को सरकार की योजनाओं के स्वीकृति पत्र वितरित कर रहे थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव वी. उमाशंकर भी उपस्थित रहे।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि आज का दिन हरियाणा के इतिहास में व्यवस्था परिवर्तन को लेकर एक बहुत बड़ा दिन है। अब हरियाणा सरकार द्वारा डिजिटल तरीके से परिवार पहचान पत्र के आधार पर विभिन्न विभागों की योजनाओं का ऑनलाईन लाभ देने की योजना की शुरूआत की गई है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुलाकात के दौरान पूछा कि पीपीपी कार्ड के आधार पर योजनाओं का लाभ पहुंचाने का मकसद क्या है? इस पर मुख्यमंत्री का उत्तर था कि निस्वार्थ भावना से अंतिम पड़ाव पर बैठे गरीब व्यक्ति को सरकार की योजना का लाभ उनके घर बैठे-बैठे मिले। जबकि अंग्रेजो के समय में अधिकार पाने के लिए ब्रिटिश हुकुमत से मांग की जाती थी लेकिन अब देश को आजाद हुए 75 वर्ष हो चुके हैं, ऐसे में व्यवस्था परिवर्तन जरूरी है।

घर बैठे ही मिलेगा सरकारी योजनाओं का लाभ : उपायुक्त अनीश यादव

मुख्यमंत्री के वर्चुअल कार्यक्रम के बाद जिला स्तर पर आयोजित कार्यक्रम में उपायुक्त अनीश यादव अंत्योदय मेलों में आए गरीब परिवारों की आमदनी बढ़ाने के उद्देश्य से पशुपालन एवं डेयरी विभाग की सिफारिश पर बैंकर्स द्वारा ऋण स्वीकृति पत्र, पीपीपी कार्ड के आधार पर आयुष्मान कार्ड, राशन कार्ड, जाति प्रमाण पत्र, वृद्धावस्था सम्मान भत्ता के स्वीकृति पत्र लाभार्थियों को वितरित किए। उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि व्यवस्था परिवर्तन को लेकर हरियाणा सरकार ने बड़ा ऐतिहासिक फैसला लिया है जिसके तहत अब गरीब से गरीब पात्र व्यक्ति को सरकार की योजनाओं का लाभ डिजिटल तरीके से घर बैठे-बैठे ही मिलेगा।

Read Also: Hanumaan Janmotsav, हनुमान जन्मोत्सव के उपलक्ष में गुलाब की पंखुड़ियों की परत से सजेगा नगर यात्रा मार्ग

पशुपालन के लिए स्वीकृत ऋण पत्र उपायुक्त अनीश यादव ने लाभार्थियों को किए वितरित

कार्यक्रम में उपायुक्त अनीश यादव ने पशुपालन के लिए करीब 25 लाभार्थियों को बैंकों की ओर से स्वीकृत किए गए ऋण पत्रों को वितरित किया। इनमें बड़ागांव से सोनी रानी, गोंदर से सरिता रानी, सविता, किरण देवी, नरेश, उषा रानी व बजिन्द्र सिंह, अरड़ाना से सीमा देवी, सांभली से गुरविन्द्र सिंह व रेखा, बांसा से प्रवीण कुमार, वार्ड नम्बर 5 से पुष्पा, गगसीना से प्रदीप सिंह, कुराली से शांति देवी, रूकसाना से मंजीत, बड़ागांव से नीतू, डाचर से छोटे लाल, सिंगड़ा से भागवंती व रूबी देवी, तिखाना पार्ट से सुनीता, समानाबाहू से सोना देवी, गोरगढ़ से किताबो देवी, बड़थल से माफी देवी, काछवा से सुनीता देवी व ऊंचा समाना से अशोक कुमार के नाम शामिल हैं। स्वीकृति पत्र पाकर उपस्थित लाभार्थियों के चेहरे पर अलग ही मुस्कान दिखाई दी और उन्होंने सरकार का धन्यवाद किया।

समाज कल्याण विभाग द्वारा पीपीपी के आधार पर लागू की गई पेंशन के उपायुक्त अनीश यादव ने लाभार्थियों को सौंपे स्वीकृति पत्र

कार्यक्रम में उपायुक्त अनीश यादव ने वृद्धावस्था पेंशन के लिए करीब 25 लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र वितरित किए। इनमें अरड़ाना से दलबीर सिंह, जलमाना से अंगूरी, पथाना से केला देवी, रंगरूटी खेड़ा से सेवा सिंह, रिहाड़ा से राजो, बलहेड़ा से जलीफा, फरीदपुर से आशा नाथ, हरिसिंह पुरा से रामकरण, डेरा सिगलीगर से छोटू सिंह, गुमटो से सुदेश रानी, अंजनथली से पाला राम, बड़सालू से बूदहो, बड़थल से सुनहरी देवी, पधाना से सोमवती, सीकरी से ओमवती, यूनिसपुर से संतोष, अमुपूर से गजे राम, डाचर से राजपाल, सिंगड़ा से राजपाल, करनाल ब्लॉक से गजे सिंह, महाबीर सिंह, सुंडा व पलटू तथा निसिंग ब्लॉक से शेर सिंह व बीर सिंह के नाम शामिल है। इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त योगेश कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी सत्यवान ढिलौड़, डीआईओ महीपाल सीकरी उपस्थित रहे।

पात्र व्यक्तियों के जाति प्रमाण पत्रों को उपायुक्त ने किया वितरित

कार्यक्रम उपायुक्त अनीश यादव ने जाति प्रमाण पत्रों के करीब 5 लाभार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित किए। इनमें कैमला गांव से मंजीत, बड़ागांव से सीमा, पुंडरी से सिमरन रानी, जलमाना से बबीता, अराईपुरा से गौरव कुमार तथा दनियालपुर से विशाल के नाम शामिल है। इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त योगेश कुमार ने बताया कि जिला में पीपीपी कार्ड के आधार पर 2 लाख 282 परिवारों की जाति वैरिफिकेशन का कार्य पटवारियों द्वारा पूरा कर लिया गया है तथा कानूनगों स्तर पर अब तक 52 हजार 407 सदस्यों की वैरिफिकेशन का कार्य पूरा हो चुका है यानि इनके जाति प्रमाण पत्र बनाने का कार्य जारी है।

पीपीपी के आधार पर वैरिफिकेशन के बाद पात्र व्यक्तियों के बने आयुष्मान कार्डों को उपायुक्त ने किया वितरित।
कार्यक्रम में उपायुक्त अनीश यादव ने 17 लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड विततिर किए। इनमें रजनी देवी, गितिका, सोनू, पूजा, फूल कुमारी, गनक शर्मा, सीता देवी, पूजा, पप्पू पासवान, रिंकी, टविंक्ल, रीटा रानी,  प्रवीण कुमार, कविता, गीता, राम नारायण व उमेश पासी के नाम शामिल हैं।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular