Homeहरियाणाकरनालनिगमायुक्त ने बाईक पर शहर की सडक़ों का किया दौरा, सफाई व्यवस्था...

निगमायुक्त ने बाईक पर शहर की सडक़ों का किया दौरा, सफाई व्यवस्था को चैक करने के लिए नया अंदाज

प्रवीण वालिया, करनाल :

  • सफाई से संतुष्ट होकर सफाई कर्मचारियों का बढ़ाया मनोबल
  • नसीहत भी दी कि हाजिरी लगाकर ही करें काम शुरू, ड्यूटी से न रहे अनुपस्थित

सफाईकर्ताओं का मनोबल बढ़ाया

शहर में सफाई व्यवस्था को चैक करने के लिए नगर निगम के नए आयुक्त अजय सिंह तोमर मंगलवार को अल सुबह बाईक पर सवार होकर करीब 2 घण्टे सडक़ों और गलियों में घूमे। इस दौरान सफाई के साथ-साथ दरौगा और सफाईकर्मी, दोनो के हाजिरी रजिस्टरों की जांच की गई। अलग-अलग बीटों में 5 सफाईकर्मी अनुपस्थित मिले, लेकिन उपस्थिति रजिस्टर में उनकी अनुपस्थिति दर्ज पाई गई। निगमायुक्त ने शहर की हांसी रोड, सदर बाजार, रेलवे रोड, कर्ण गेट, कुंजपुरा रोड, अस्पताल चौक, अम्बेडक़र चौक तथा पुरानी जी.टी. रोड का दौरा कर सफाई व्यवस्था जांची। सफाई में कार्यरत अमला बाईक पर हैल्मेट लगाए आयुक्त को देखकर हैरान था। हालांकि इस दौरान आयुक्त ने की गई सफाई को बेहतर बताकर सफाईकर्ताओं का मनोबल बढ़ाया। साथ में यह भी नसीहत दी कि सफाईकर्ता अपने हाजिरी लगाकर ही काम शुरू करें और अपनी ड्यूटी से अनुपस्थित न रहें।

सभी अपनी-अपनी ड्रेस पहनकर काम पर आएं। उन्होंने दौरे में अपने साथ मौजूद स्वच्छता अधिकारी महावीर सोढी और सफाई निरीक्षक मनदीप कुमार को निर्देश दिए कि सफाई के साथ-साथ यह भी जरूरी है कि कूड़े-कचरे की समय पर लिफ्टिंग हो। उन्होंने कहा कि लिफ्टिंग के लिए यदि साधनो की कमी है, तो उसे पूरा किया जाएगा। जो वाहन किसी फॉल्ट की वजह से ब्रेकडाउन हो जाते हैं, तो उनकी तुरंत मरम्मत करवाई जाए, ताकि सफाई कार्य में किसी तरह का प्रभाव न पड़े। निगमायुक्त ने सफाई व्यवस्था का जायजा लेने के दौरे के दौरान बताया कि नगर निगम शहर को साफ-सुथरा बनाए रखने के लिए कृत संकल्प रहेगा, लेकिन नागरिक भी व्यवस्था बनाए रखने में अपना सहयोग देते रहें। उन्होंने नागरिकों से अपील करते कहा है कि कचरे को सडक़ पर या इधर-उधर न फैंके, बल्कि उसे कचरा संग्रहण वाहन, डस्टबिन या रेहड़ी में ही डालें। गीले और सूखे कचरे को अलग-अलग रखें, इससे उसका उपयुक्त निस्तारण सम्भव हो जाता है।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular