Homeहरियाणाकरनाललॉरेंस बिश्नोई गैंग का कुख्यात ईनामी गैंगस्टर मुठभेड़ के बाद चढा एस.टी.एफ....

लॉरेंस बिश्नोई गैंग का कुख्यात ईनामी गैंगस्टर मुठभेड़ के बाद चढा एस.टी.एफ. टीम के हत्थे

  • आरोपी के कब्जे से चार विदेशी पिस्तौल व दस कारतूस किए बरामद
    प्रवीण वालिया/इशिका ठाकुर, करनाल:
    स्पैशल टास्क फोर्स अम्बाला की टीम द्वारा लॉरेंस बिश्नोई गैंग के एक कुख्यात ईनामी गैंगस्टर को भारी मात्रा में विदेशी हथियार व कारतूस सहित गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है।

चार विदेशी पिस्तौल व दस कारतूस किए बरामद

आज 01 अक्टूबर 2022 को सुमित कुमार भा.पु.से पुलिस अधीक्षक एस.टी.एफ हरियाणा के मार्गदर्शन में व उप-पुलिस अधीक्षक एस.टी.एफ अम्बाला अमन कुमार ह.पु.से के निर्देशानुसार व एस.टी.एफ अम्बाला इन्चार्ज निरीक्षक दीपेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में टीम मोस्ट वांटेड अपराधियों की तलाश हेतू थाना सदर करनाल के एरिया में मोजूद थी। उसी समय टीम को विश्वसनीय सूचना प्राप्त हुई की लॉरेंस ग्रुप के अंकुश कमालपुर गैंग का सक्रिय सदस्य व उसके गैंग के हथियारों का मेन स्पलायर मुकेश पुत्र अमृत लाल वासी थाना निगदु जिला करनाल जो पंजाब में पाकिस्तान बार्डर के साथ लगते एरिया से ड्रोन के जरिये पाकिस्तान से आये भारी मात्रा में विदेशी अवैध हथियार लेकर आया है। प्राप्त सूचना के आधार पर टीम द्वारा मौके पर दबिश दी गई और मुठभेड़ के बाद आरोपी मुकेश उपरोक्त को काबू किया गया। आरोपी के कब्जे से कुल 4 अवैध विदेशी पिस्तौल, खाली खौल व दस कारतूस बरामद किये गये। इस संबंध में आरोपी के खिलाफ थाना सदर करनाल में थाना 307 आईपीसी व आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया ।

पूछताछ व अन्य विश्वसनीय साक्ष्यों के आधार पर जाँच में खुलासा

आरोपी से प्रारंभिक पूछताछ व अन्य विश्वसनीय साक्ष्यों के आधार पर जाँच में खुलासा हुआ कि आरोपी मुकेश के बब्बर खालसा ग्रुप, लॉरेंस ग्रुप वा अंकुश कमालपुर गैंग से संबंध हैं।आरोपी द्वारा उपरोक्त हथियार विदेश में बैठे गैंगस्टर दमनजोत सिंह उर्फ काहलों व वीरेन्द्र साम्बी के माध्यम से ड्रोन द्वारा पाकिस्तान से मंगवाए थे। जोकि दोनों ही गैंगस्टर लखवीर सिंह के हैंडलर हैं और दोनों ही गैंगस्टर फिलहाल विदेशों में बैठे हैं। जाँच में यह भी खुलासा हुआ कि आरोपी नामी गैंगस्टर व अन्य आंतकियों के कहने पर अपनी गैंग के अन्य सदस्यों के साथ मिलकर गैंगस्टर नीरज पुनिया के भाई बृजपाल व प्रहलाद खाटवा वासी अवोहर का मर्डर करना था। आरोपी मुकेश को देश विरोधी गतिविधियों को संचालित करने के लिए विदेश में बैठे विरेंद्र साम्भी द्वारा फंडिंग हो रही थी। आरोपी के ऊपर हरियाणा पुलिस विभाग की तरफ से ईनाम भी घोषित किया गया था। आरोपी के खिलाफ हरियाणा व पंजाब में हत्या का प्रयास करने, लूट, फिरौती मांगने, शस्त्र अधिनियम व आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त रहने के कुल नौ मामले दर्ज हैं।

आरोपी आतंकवादी गतिविधियों में शामिल रहने के पंजाब में दर्ज मामले में फरार चल रहा था। आरोपी को 2 अक्टूबर 2022 को पेश अदालत करके पुलिस रिमांड पर लिया जायेगा। दौराने रिमांड आरोपी से गहनता से पूछताछ की जायेगी व आरोपी के अन्य साथियों को गिरफ्तार जाकर मामले का खुलासा किया जायेगा।

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular