Homeहरियाणाकरनालपाचन तंत्र की सभी समस्याओं का समाधान है वज्रासन : डॉ अमित 

पाचन तंत्र की सभी समस्याओं का समाधान है वज्रासन : डॉ अमित 

प्रवीण वालिया, Karnal News:
आयुष विभाग करनाल के जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डाॅ. ब्रह्म शर्मा ने बताया कि आयुष विभाग के महानिदेशक डाॅ. साकेत कुमार आई.ए.एस.के मार्गदर्शन मैं तथा जिला प्रशासन करनाल से माननीय अतिरिक्त उपायुक्त महोदया के दिशा निर्देशन मैं हरियाणा सरकार के दिशा निर्देशानुसार जिला करनाल में 8वें अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022 को सफलतापूर्वक मनाने के लिए योग प्रोटोकॉल के प्रशिक्षण के कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं।

योग प्रशिक्षण शिविर आयोजित

जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डॉ ब्रह्म शर्मा ने बताया हरियाणा सरकार के निर्देशानुसार आठवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के सफल आयोजन के लिए जिला स्तर व ब्लाक स्तर पर विभिन्न 3 दिवसीय योग प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए गए हैं।

जिला स्तरीय योग प्रशिक्षण शिविर

अब इसी क्रम में जिला स्तरीय योग प्रशिक्षण शिविर 13 जून से 15 जून तक प्रातः 6:00 से 7:30 तक योग शेड फवारा पार्क सेक्टर 12 में आयोजित किया गया है जिसमें माननीय सांसद महोदय  तथा जिला करनाल के सभी विधायक एवं सभी अधिकारी, कर्मचारी तथा नगर निगम के सभी पार्षद भी योग प्रोटोकॉल का प्रशिक्षण ले रहे हैं।
आज आयुष विभाग करनाल से डॉक्टर अमित पुंज द्वारा सेक्टर 12 योग शेड मैं चल रहे तीन दिवसीय योग शिविर के दूसरे दिन मैं 250 अधिकारियों, कर्मचारियों तथा जनप्रतिनिधियों को योग अभ्यास करवाया। जिसमें पतंजलि योग समिति से श्री सुरेंद्र नारंग, श्रीमती सुशीला गोयल, श्रीमती बबीता वत्स, मेरा मिशन स्वस्थ भारत से श्री दिनेश गुलाटी, श्रीमती नीलम बठला, श्रीमती बीना धीर जी का सहयोग मुख्य रूप से रहा।

सभी समस्याओं का समाधान है वज्रासन

वज्रासन भगवान बजरंगबली का प्रिय आसन है। वज्र का अर्थ होता है कठोर। इसीलिए इसका नाम वज्रासन है क्योंकि इसे करने वज्र नाड़ी सक्रिय होती है तथा शरीर मजबूत और स्थिर बनता है। यही एक आसन है, जिसे भोजन करते हुए तथा भोजन करने के बाद भी कर सकते हैं। इसके अभ्यास से पाचन शक्ति बढ़ती है। जठराग्नि प्रदीप्त होती है। वज्रासन के नियमित अभ्यास से अपचन, अम्लपित्त, गैस, कब्ज, उदर वायु आदि विकारों की निवृत्ति होती है।

दिनचर्या में शामिल करें वज्रासन 

यह ध्यानात्मक आसन हैं। मन को एकाग्र कर मन की चंचलता को दूर करता है। वज्रासन से पाचन तंत्र मज़बूत होता है नियमित अभ्यास से पाचन तंत्र से संबंधित रोग ठीक हो जाते हैं। भोजन करने के बाद तुरंत सोने या बैठकर टीवी देखने से हमें डाइजेशन संबंधी समस्याएं हो ही जाती हैं। ऐसे में अगर आप रोज खाने के बाद टीवी देखने या तुरंत सोने के बजाय वज्रासन को अपनी दिनचर्या में शामिल करेंगे तो यकीनन आप पाचन तंत्र से संबंधित समस्याओं से दूर रहेंगे।

इस अवसर पर मौजूद रहे

इस अवसर पर आयुष विभाग के जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डॉक्टर ब्रह्म शर्मा, डीपीआरओ ऑफिस से श्री रघुवीर सिंह, जीएम रोडवेज श्री कुलदीप सिंह, डॉ नितिन, डॉ सुनील, डॉ अंजना, डॉ मनप्रीत, डॉ भावना, डॉ अमनदीप, डॉ राजरानी, डॉ शीतल, नरेश कुमार, जितेंद्र, रमेश कुमार, रिंकू, ऋषि कांत, गुरदयाल, श्रीमती भानु, श्रीमती अंजु, श्रीमती रमनदीप, आशीष रोहिल्ला, डॉक्टर चांद इत्यादि मौजूद रहे।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular