Homeहरियाणाकरनालआजादी के अमृत महोत्सव के तहत घर-घर तिरंगा फहराने की मुहिम, राष्ट्रभक्ति...

आजादी के अमृत महोत्सव के तहत घर-घर तिरंगा फहराने की मुहिम, राष्ट्रभक्ति की अनूठी मिसाल : मेयर रेनू बाला गुप्ता

इशिका ठाकुर, Karnal News:
हर घर तिरंगा उत्सव में राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा के डिजाईनर पिंगली वैंकेया को जन्म दिवस पर दी श्रद्धांजलि, राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा भारत की राष्ट्रीय एकता, शांति, समृद्धि और विकास का प्रतीक।

आन-बान-शान का प्रतीक राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा

मेयर रेनू बाला गुप्ता ने कहा कि देश की आन-बान-शान का प्रतीक राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे को फहराने के लिए असंख्य वीर शहीदों ने अपने प्राणों की बाजी लगाई, ऐसे महान सपूतों को कोटि-कोटि नमन करती हूं। भारत सरकार ने आजादी के अमृत महोत्सव के तहत घर-घर तिरंगा फहराने की जो मुहिम चलाई है, वह अपने आप में राष्ट्रभक्ति की एक अनूठी मिशाल है। नि:संदेह इस मुहिम से युवा पीढ़ी में देशभक्ति की भावना जागृत होगी।

राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा की अभिकल्पना

Unique Example of Patriotism
Unique Example of Patriotism

मेयर रेनू बाला गुप्ता मंगलवार को कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कॉलेज में जिला प्रशासन की ओर से हर घर तिरंगा उत्सव पर आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोल रही थी। उन्होंने कहा कि आज ऐसी महान सख्सियत पिंगली वैंकेया का जन्मदिवस है जिन्होंने राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा की अभिकल्पना की थी। गुलामी की बेडिय़ों से मुक्ति मिलने के कुछ दिनों बाद भारतीय संविधान सभा की बैठक में तिरंगा झंडा को अपनाया गया था।

राष्ट्रीय ध्वज में रंगों का प्रतीक 

इसमें तीन रंग की पट्टियां हैं, जिसमें सबसे ऊपर केसरिया रंग की पट्टी जो देश की ताकत और साहस को दर्शाती है, बीच में श्वेत पट्टी धर्म चक्र के साथ शांति और सत्य का प्रतीक है, नीचे हरे रंग की पट्टी देश की खुशहाली और प्रगतिशीलता का प्रतीक है। श्वेत पट्टी के मध्य में गहरे नीले रंग का अशोक चक्र है, जिसमें 24 तीली हैं। यह इस बात का प्रतीक है कि भारत तिरंतर प्रगतिशील है। भारतीय राष्ट्रीय ध्वज अपने आप में ही भारत की राष्ट्रीय एकता, शांति, समृद्धि और विकास को दर्शाता हुआ दिखाई देता है।

नागरिक आजादी के अमृत महोत्सव सेे जुड़ें

कार्यक्रम में नीलोखेड़ी के विधायक धर्मपाल गोंदर ने आजादी के अमृत महोत्सव के तहत हर घर तिरंगा कार्यक्रम की सराहना की और कहा कि इस कार्यक्रम के माध्यम से देश का आम नागरिक आजादी के अमृत महोत्सव सेे जुड़ेंगे और अपने-अपने घरों पर तिरंगा झंडा फहराकर गर्व महसूस करेंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यों की विदेशों के अंदर भी सकारात्मक चर्चा होती है, जिससे विश्व में देश का गौरव बढ़ा है। हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में विकास की नई बुलंदियों को छू रहा है तथा हर वर्ग के लोगों के लिए जन कल्याणकारी योजनाएं लागू की गई हैं, जिनका फायदा आम जनता को मिल रहा है।

आजादी की 75वीं वर्षगांठ को एक उत्सव के रूप में मनाएं

Unique Example of Patriotism
Unique Example of Patriotism

इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त डा. वैशाली शर्मा ने अतिथियों का स्वागत किया और आम जनता से अपील की कि वे आजादी की 75वीं वर्षगांठ को अन्य तीज-त्यौहारों की तरह एक उत्सव के रूप में मनाएं। इस उत्सव को मनाने के लिए देशभक्ति का एक माहौल तैयार किया जाए, आजादी के इस जश्र में आम लोगों की भागीदारी जरूरी है। उन्होंने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के तहत सभी लोग 13 से 15 अगस्त तक हर-घर तिरंगा फहराएं।

इस कार्य में तिरंगा फहराएं

इस कार्य में सभी विभागों के अधिकारी भरपूर सहयोग दें तथा आम लोगों की जागरूकता के लिए गतिविधियों को बढ़ाएं और अधिक से अधिक लोगों को तिरंगा झंडा फहराने के लिए प्रेरित करें। इसके अलावा सरकारी भवनों, औद्योगिक इकाईयों, पंचायत भवन, सामुदायिक केन्द्रों, अस्पतालों, सामाजिक धार्मिक व राजनैतिक संगठनों के भवनों पर भी तिरंगा फहराएं।

देश सेवा के प्रति जोश 

कार्यक्रम में राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय काछवा के विद्यार्थियों ने देशभक्ति पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करके उपस्थित दर्शकों में देश सेवा के प्रति जोश भरने का काम किया, जिसकी सभी ने करतल ध्वनि के साथ सराहना की। प्रशासन की ओर से मुख्य अतिथि व अन्य अतिथियों ने सांस्कृतिक टीमों को स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया।

इस अवसर पर मौजूद

इस अवसर पर इंद्री के एसडीएम डा. आनंद कुमार शर्मा, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी गौरव कुमार, असंध के एसडीएम मनदीप कुमार, नगराधीश मयंक भारद्वाज, जिला शिक्षा अधिकारी राजपाल चौधरी, केसीजीएमसी के निदेशक डा. जगदीश चंद्र दुरेजा, जिला विकास एवं पंचायत विकास अधिकारी राजबीर खुंडिया, उप सिविल सर्जन डा. नीलम वर्मा, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय काछवा की प्रिंसिपल उर्वशी विज, नगर पार्षद जोगिन्द्र शर्मा, प्रतिनिधि राजेन्द्र सिरसी व मंजू खैंची तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी सहित भारी संख्या में स्कूली बच्चे मौजूद रहे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular