Homeहरियाणाकरनालट्रांसफार्मर चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले 2 गिरोह गिरफ्तार

ट्रांसफार्मर चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले 2 गिरोह गिरफ्तार

प्रवीण वालिया, Karnal News:
जिला पुलिस को पिछले कुछ समय से विभिन्न थाना क्षेत्रों के खेतों में से ट्रांसफार्मर चोरी की शिकायतें प्राप्त हो रही थी। पुलिस अधीक्षक गंगराम पूनिया ने इन वारदातों पर अंकुश की जिम्मेदारी एंटी कैटल थेफ्ट की टीम को सौंपी। टीम ने दो गिरोह को गिरफ्तार कर लिया।

दो गिरोह के 3-3 आरोपी गिरफ्तार

टीम की ओर से दोनों गिरोह के तीन-तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एएसआई प्रवीन के नेतृत्व में कार्यरत एंटी कैटल थेफ्ट की टीम ने पहले गिरोह के तीन आरोपी कमलदीप, योगेश और योगेश को गौरगढ़ से और दूसरे गिरोह के तीन आरोपी अक्षय कुमार, विजय और संदीप करनाल को खेडी मान सिंह अड्डे के पास से गिरफ्तार किया। आरोपियों को 29 जून को पेश अदालत करके दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया। रिमांड के दौरान आरोपियों से गहनता से पूछताछ की गई। आरोपियों से पूछताछ में जांच में खुलासा अहम खुलासे हुए।

आरोपी एक ही गांव के रहने वाले

खुलासा हुआ कि आरोपी एक ही गांव के रहने वाले हैं, लेकिन दो अलग-अलग गिरोह बनाकर थाना इंद्री के एरिया से ट्रांसफार्मर चोरी की वारदातों को अंजाम देते हैं। एक अन्य आरोपी जो अभी फरार चल रहा है वह दोनों गिरोह में मिलकर काम करता है। जांच में खुलासा हुआ कि आरोपी दिन के समय खेतों में ट्रांसफार्मरों की रैकी करते थे और उन ट्रांसफार्मरों में भी आरोपी कॉपर व एल्यूमिनियम के क्वाइल वाले ट्रांसफार्मरों की पहचान करते थे।

कॉपर के क्वाइल महंगे बिकने के कारण आरोपी हमेशा कॉपर वाले ट्रांसफार्मरों को ही निशाना बनाते थे और आरोपी इन वारदातों को ज्यादातर रात 11 बजे से 02 बजे के बीच में ही अंजाम देते थे। प्रारम्भिक पूछताछ में पहले गिरोह से थाना इन्द्री के एरिया से वर्ष 2022 के दौरान 23 वारदातों को अंजाम देने बारे खुलासा हुआ और दूसरे गिरोह से वर्ष 2022 के दौरान ही थाना इन्द्री के एरिया से 21 वारदातों को अंजाम देने बारे खुलासा हुआ। इस प्रकार दोनों गिरोह द्वारा थाना इन्द्री के एरिया से 44 वारदातों को अंजाम देने बारे खुलासा हुआ।

आरोपियों का वारदात करने का ये तरीका

आरोपी इस उपरोक्त समयावधि के दौरान अपनी-अपनी मोटरसाईकिलों पर सवार होकर चिन्हित किए गए ट्रांसफार्मरों के पास पंहुचकर जाते थे। ट्रांसफार्मर के पास पंहुचकर आरोपी पहले खम्बे की लाईट काटने के लिए लाईट काटने वाली ग्रिप को निचे गिराकर लाईट काट देते थे।

फिर इनमें एक आरोपी खम्बे पर चढकर औजारों की मदद से ट्रांसफार्मर को खम्बे से खोलकर नीचे गिरा देता था और ट्रांसफार्मर के नीचे गिरने के बाद आरोपी ट्रांसफार्मर के सारे नट बोल्ट खोलकर उसका तेल जमीन पर गिराकर उसमें से तांबा क्वाइल व लोहे की पत्तियों को एक कट्टे में भरकर मोटरसाईकिल पर रख मौका से फरार हो जाते थे। जिसके बाद आरोपी चोरीशुदा तांबा क्वाइल व लोहे की पत्तियों को किसी फेरी लगाने वाले किसी कबाडी को सस्ते दाम पर बेच देते थे। सामान बेचने के बाद मिले रूप्यों से आरोपी स्मैक व शराब आदी खरीदकर नशा करते थे और सारे रूप्ये नशा करने में उडा देते थे।

आरोपियों के कब्जे से सामान की बरामदगी

एक मामले में आरोपी कमलदीप वाले गिरोह के कब्जे से टीम द्वारा एक स्प्लेण्डर मोटरसाईकिल, ट्रांसफार्मर खोलने के लिए प्रयोग किए गए औजार, ट्रांसफार्मर की लोहे की पत्तियां, 7.7 किलोग्राम तांबा क्वाइल बरामद की गई। वंही एक दूसरे मामले में आरोपी अक्षय वाले गिरोह के कब्जे से एक पल्सर मोटरसाईकिल, ट्रांसफार्मर खोलने के लिए प्रयोग किए गए औजार, ट्रांसफार्मर की लोहे की पत्तियां, 8.2 किलोग्राम तांबा क्वाइल बरामद की गई।

एंटी कैटल थेफ्ट की टीम

इंचार्ज एएसआई प्रवीन कुमार, मुख्य सिपाही राजेश कुमार, मुख्य सिपाही सतेन्द्र कुमार, मुख्य सिपाही राजीव संधू साइबर एक्सपर्ट, सिपाही सोनू, सिपाही अजय कुमार, ड्राईवर सिपाही प्रदीप व ड्राईवर सिपाही अजय ने आरोपियों को गिरफ्तार करने में सराहनीय योगदान दिया है।
आरोपियों को आज पेश अदालत करके अन्य मामलों में पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया है। दौराने रिमाण्ड आरोपियों से गहनता से पूछताछ की जाएगी। ट्रांसफार्मर चोरी के अन्य मामलों में चोरीशुदा ट्रांसफार्मर के सामान को बरामद किया जाएगा। आरोपियों की ट्रांसफार्मर चोरी के अन्य मामलों में भी संलिप्तता का पता लगाया जाएगा और मामले का खुलासा किया जाएगा।

ये भी पढ़ें : कार्तिकेय शर्मा की जीत को लेकर समस्त ब्राह्मण समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री का किया धन्यवाद

ये भी पढ़ें : खुल गया प्रगति मैदान सुरंग, पीएम मोदी ने किया टनल और अंडरपास का उद्घाटन

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular