Homeहरियाणाकरनालग्रुप सी व डी कर्मचारियों की भर्ती के लिए आगामी सितम्बर में...

ग्रुप सी व डी कर्मचारियों की भर्ती के लिए आगामी सितम्बर में प्रस्तावित सीईटी को लेकर तैयारियां शुरू

इशिका ठाकुर, Karnal News:
ग्रुप सी व डी कर्मचारियों की भर्ती के लिए आगामी सितम्बर में प्रस्तावित सीईटी को लेकर तैयारियां शुरू, मुख्य सचिव संजीव कौशल ने सभी उपायुक्तों के साथ विडियो कॉन्फ्रैंसिंग कर सीटिंग कैपेस्टी बढ़ाने के दिए जोर। करनाल जिला में सेंटरों की संख्या के साथ-साथ सीटिंग कैपेस्टी भी बढ़ाएंगे-अनीश यादव, उपायुक्त।

कॉमन एलिजिबिलिटी टैस्ट की तैयारियां शुरू 

प्रदेश में ग्रुप-सी व डी कर्मचारियों की भर्ती के लिए आगामी सितम्बर में प्रस्तावित सीईटी यानि कॉमन एलिजिबिलिटी टैस्ट को लेकर तैयारियां शुरू हो गई हैं। फिलहाल सभी जिलों में परीक्षार्थियों की सीटिंग कैपेस्टी बढ़ाने पर जोर दिया गया है। सोमवार को मुख्य सचिव संजीव कौशल ने इस विषय को लेकर सभी उपायुक्तों के साथ विडियो कॉन्फ्रैंस कर निर्देश दिए कि उपायुक्त अपने-अपने जिलो में सिटिंग कैपेस्टी बढ़ाने के लिए तलाश शुरू कर दें। उन्होंने बताया कि इस परीक्षा के लिए प्रदेश में अब तक 11 लाख 56 हजार प्रार्थियों ने आवेदन किया है, आवेदन करने की अंतिम तिथि 8 जुलाई है। इसे देखते आवेदनकर्ताओं की संख्या ओर बढऩे की उम्मीद है।

इस परीक्षा के लिए सेंटर बनवाएंगे

Preparations Started for Recruitment of Group C and D Employees
Preparations Started for Recruitment of Group C and D Employees

वीसी में उन्होंने दो-तीन बातों पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि सीटिंग कैपेस्टी बढ़ाने के लिए स्कूलों के साथ-साथ विश्वविद्यालय, इंजीनियरिंग कॉलेज, केन्द्र व राज्यों के संस्थान, नवोदय विद्यालय, केन्द्रीय विद्यालय तथा सैनिक स्कूल जैसी जगहों पर परीक्षा केन्द्र बनाए जा सकते हैं। यही नहीं चण्डीगढ़ में भी इस परीक्षा के लिए सेंटर बनवाएंगे। इस चीज को लेकर अगले एक सप्ताह में तैयारी मुकम्मल कर लें। हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग इस परीक्षा को आयोजित करवाएगा, जिसमें पूरी पारदर्शिता बरती जाएगी।

सेंटरों की संख्या 80 से 85 तक 

करनाल के उपायुक्त अनीश यादव ने मुख्य सचिव को बताया कि इस जिला में उक्त परीक्षा के लिए अभी 74 केन्द्रों की सूची है। सेंटरों की संख्या बढ़ाकर 80 से 85 तक कर सकते हैं, इससे परीक्षार्थियों की कैपेस्टी भी बढ़ जाएगी। उन्होंने मुख्य सचिव को भरोसा दिलाया कि सरकार के आदेशों की पूरी पालना होगी। करनाल शहर के अतिरिक्त जिला के असंध, नीलोखेड़ी, इन्द्री एवं घरौंडा में भी सेंटर बनाकर सीटिंग कैपेस्टी बढ़ाई जाएगी।

वीसी में मौजूद रहे

वीसी में नगराधीश मयंक भारद्वाज, जिला शिक्षा अधिकारी राज पाल, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी रोहताश वर्मा तथा एम.ए. ब्रांच से लिपिक पवन कुमार मौजूद रहे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular