Homeहरियाणाकरनालकिसानों को टावर लगाने का सही मुआवजा नहीं मिला तो करेंगे विरोध

किसानों को टावर लगाने का सही मुआवजा नहीं मिला तो करेंगे विरोध

इशिका ठाकुर, Karnal News:
करनाल से असंध के गुरुद्वारा में संयुक्त किसान मोर्चा के नेतृत्व में किसान संगठनों की बैठक हुई। इस बैठक में खेतों में लगाए जा रहे हाई वोल्टेज टावर को लेकर चर्चा की गई। प्रति टावर पर 15,00,000 किसानों को मुआवजा और जिन खेतों से बिजली के तार निकल रहे हैं। उन्हें भी उचित राशि दी जाए। ऐसा ना होने पर किसान प्रशासन का विरोध करेगा और जो गड्ढे टावर के लिए खोदे गए हैं। उनको भरने का काम करेगा।

किसानों की महापंचायत में हुआ फैसला

Karnal News If farmers do not get proper compensation for setting up towers, they will protest
Karnal News If farmers do not get proper compensation for setting up towers, they will protest

अमृत बुग्गा ने बताया कि संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ से आज असंध में एक महापंचायत का आयोजन किया गया। बंदराला, दनोली गांव से हाई वोल्टेज तार निकाली जा रही है। जो कि किसानों की मर्जी के खिलाफ काम किया जा रहा है। किसानों ने लाइन निकालने के खिलाफ कोई विरोध नहीं है, बल्कि इस लाइन की एवज में किसानों का जो उचित मुआवजा बनता है।

वह सरकार की तरफ से दिया जाए। किसान को सरकार और प्रशासन उनके खेतों से जबरदस्ती बाहर निकाल रहे हैं। इसका सही से लगाए जा रहे टावरों को लगाना किसान बर्दाश्त नहीं करेगा।

चेतावनी: किसान खुद भर देंगे गड्ढे

Karnal News If farmers do not get proper compensation for setting up towers, they will protest
Karnal News If farmers do not get proper compensation for setting up towers, they will protest

सरकार को चेतावनी देते हैं या तो किसानों को उनका उचित मुआवजा दिया जाए। नहीं तो टावर लगाने के लिए जो गड्ढे बनाए हैं। उनको किसान खुद भरेंगे। महापंचायत में पहुंचे सभी किसान नेताओं की अलग से बैठक हुई। बैठक में किसानों के हक में फैसले पर चर्चा हुई। जो भी फैसला लिया जाएगा। उसको सभी किसान स्वीकार करेंगे। किसानों की मांग है कि उन्हें 15,00,000 रुपये दिए जाए। जितनी संख्या में प्रशासन ने पुलिस बुलाई है। उतनी ही संख्या में किसान भी मौजूद है।

कई सालों से चल रही टावर की प्रक्रिया

हैप्पी ओलख ने बताया कि पिछले कई सालों से टावर लगाने को लेकर प्रक्रिया चली है। हम कई बार प्रशासन से गुहार लगा चुके हैं कि बैठकर किसानों के साथ बात की जाय। जो मुआवजा बनता है उचित मुआवजा दिया जाए। प्रशासन बातचीत करने की बजाय पुलिस फोर्स लगाकर किसानों के साथ धक्काशाही कर रहा है।

ऐसा नहीं होने दिया जाएगा। इसके विरोध में आज असंध के गुरुद्वारा में हजारों किसान इकट्ठा हुए हैं। किसान नेता अपने मीटिंग कर रहे हैं। प्रशासन के साथ आमने-सामने का भी फैसला लिया जा सकता है। एक टावर लगाने का 1500000 रुपए मुआवजा औ? खेत से सारे गुजर रही है। उनको भी मौजूद है।

विधायक ने बताया, किसान विरोधी फैसला

Karnal News If farmers do not get proper compensation for setting up towers, they will protest
Karnal News If farmers do not get proper compensation for setting up towers, they will protest

करनाल के असंध हलके से कांग्रेस विधायक शमशेर सिंह गोगी ने कहा कि आज असंध में किसान यूनियन की बहुत बड़ी मीटिंग हो रही है। जब से भाजपा सरकार बनी है किसान विरोधी फैसले ले रही है। बिजली विभाग को चाहिए कि वह किसानों की जमीन को प्रयोग करने की एवज में उनको मुआवजा दें।

बड़ी लाइन का प्रयोग प्रदेश के लिए किया जाता है। 1 एकड़ में एक टावर लगने से एक डेढ़ कनाल जमीन उसमें चली जाती है। मोबाइल टावर के अंगो का बिल पैसा मिलता है। इसका पैसा भी दिया जाना चाहिए। मैं कांग्रेस पार्टी की तरफ से किसानों का पूरा समर्थन करता हूं।

ये भी पढ़ें : दोस्त को उतारा मौत के घाट फिर किए टुकड़े, कारण 25 हजार रुपये का लेनदेन

ये भी पढ़ें : बिजली संकट, तीन यूनिटों में उत्पादन बंद, बढ़ी मांग

ये भी पढ़ें : अंबाला में मिले हैंड ग्रेनेड का संबंध भी करनाल में पकड़े आतंकियों से जुड़े

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular