Homeहरियाणाकरनालअवैध पिस्तौल व जिंदा कारतूस सहित 3 आरोपी सीआईए वन टीम ने...

अवैध पिस्तौल व जिंदा कारतूस सहित 3 आरोपी सीआईए वन टीम ने किए गिरफ्तार

प्रवीण वालिया, Karnal News : जिला पुलिस करनाल की सीआईए वन की टीम द्वारा दो अलग-मामलों में दो अवैध पिस्तौल व जिंदा कारतूस सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। पहले मामले में कल दिनांक 15 मई 2022 को मुख्य सिपाही बलवान सीआईए वन की अध्यक्षता में टीम अपराध रोकथाम हेतु आईटीआई चौक करनाल पर मौजूद थी।

सीआईए वन की टीम को मिली सूचना

उसी समय टीम को विश्वसनीय सूचना प्राप्त हुई कि आरोपी आशीष व मोहित वासियान सोनीपत के पास अवैध हथियार हैं। जो कुछ समय बाद गाडी मार्का टाटा अल्ट्रोज में सवार होकर तरावडी की तरफ से करनाल शहर में जाएंगे। प्राप्त सूचना के आधार पर टीम द्वारा बल्डी बाईपास से शहर की तरफ वाले रोड पर पंहुचकर नाकाबंदी शुरू की गई।

अवैध पिस्तौल, जिंदा कारतूस और गाडी अल्ट्रौज बरामद हुए

दौराने नाकाबंदी कुछ समय बाद प्राप्त सूचना के मुताबिक एक गाडी आई। जिसको पुलिस टीम द्वारा रूकवाकर गाडी में बैठे युवकों से पूछताछ की गई। जो पूछताछ में उन्होने अपने नाम आशीष पुत्र बालकराम वासी गांव ठसका जिला सोनीपत व मोहित पुत्र श्रवण वासी गांव बजाना कलां जिला सोनीपत बतलाया। तलाशी लेने पर आरोपियों के कब्जे से एक अवैध पिस्तौल .315 बोर व एक जिंदा कारतूस बरामद किया गया व गाडी अल्ट्रौज को कब्जा पुलिस में लिया गया।

पानीपत व करनाल बाईपास दिल्ली में सवारियों के साथ की लूट

इस संबंध में आरोपियों के खिलाफ थाना सदर करनाल में आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया। पूछताछ में आरोपियों द्वारा खुलासा किया गया कि उन्होने उपरोक्त पिस्तौल को गंगोह से एक व्यक्ति से खरीदी थी। आरोपियों ने यह भी खुलासा किया कि उन्होने दूसरे मामले में गिरफ्तार आरोपी सोनू के साथ मिलकर पानीपत व करनाल बाईपास दिल्ली में सवारियों को लिफ्ट देने के बहाने लूट की दो वारदातों को अंजाम दिया था।

आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज

दूसरे मामले में एएसआई राजेन्द्र सिंह सीआईए वन की अध्यक्षता में टीम द्वारा विश्वसनीय सूचना के आधार पर आरोपी सोनू पुत्र सुरेश कुमार वासी गांव नौलथा जिला पानीपत को सेक्टर-6 ग्रीन बैल्ट नजदीक एसएस फार्म करनाल से काबू किया गया। तलाशी लेने पर आरोपी के कब्जे से एक अवैध पिस्तौल .32 बारे व दो जिंदा कारतूस बरामद किए गए। इस संबंध में आरोपी के खिलाफ थाना सेक्टर-32/33 में आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया। पूछताछ में आरोपी द्वारा खुलासा किया गया कि आरोपी ने उपरोक्त पिस्तौल को अपने एक साथी गुरजीत उर्फ गैरी से खरीदी थी।

आरोपी पर लूट और डकैती के मामले दर्ज

जांच में खुलासा हुआ कि आरोपी एक आदतन अपराधी है। आरोपी के खिलाफ पहले भी हत्या के चार मामले व लूट और डकैती के कई मामले दर्ज हैं। इन मामलों में आरोपी 11 वर्ष की जेल काट कर के कुछ समय पहले ही जमानत पर बाहर आया था। जांच में यह भी खुलासा हुआ कि आरोपी अपने उपरोक्त दो साथियों व अन्य साथियों के साथ मिलकर सवारियों को लिफ्ट देने के बहाने लूटपाट कर हत्या करने की वारदातों को अंजाम देता है।

आरोपी को चार दिन के पुलिस रिमाण्ड

आरोपी लूटपाट करने के बाद सवारियों को किसी नदी या नाले में फेंक अपने साथियों सहित फरार हो जाता था। आरोपी द्वारा जिला करनाल में भी ऐसी ही लूट की दो वारदातों को अंजाम देने बारे इंकसाफ किया गया है। जिला करनाल के लूट के एक मामलें आरोपी को चार दिन के पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया है। दौराने रिमाण्ड आरोपी से गहनता से पूछताछ की जाएगी व अन्य वारदातों में संलिप्ता का पता कर मामलों का खुलासा किया जाएगा। आरोपी के अन्य साथियों की भी गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular