Homeहरियाणाकरनालराष्ट्रीय डेयरी अनुसंधान संस्थान के 100वें वर्ष उत्सव का शुभारंभ

राष्ट्रीय डेयरी अनुसंधान संस्थान के 100वें वर्ष उत्सव का शुभारंभ

इशिका ठाकुर, Karnal News:
करनाल राष्ट्रीय डेयरी अनुसंधान संस्थान की स्थापना वर्ष 1923 जुलाई में की गई थी। इस उपलक्ष में संस्थान अपना 100वां वर्ष मनाने जा रहा है, जिसकी शुरुआत करने के लिए आज एनडीआरआई में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर पहुंचे।

मंत्री ने किया कैटल यार्ड का निरीक्षण

100th year Celebration of National Dairy Research Institute
100th year Celebration of National Dairy Research Institute

कृषि मंत्री ने राष्ट्रीय डेयरी अनुसंधान संस्थान करनाल की ओर से पशुपालन और दूध उत्पादन में किए जा रहे प्रयोगों की उपलब्धियों को दिखाने वाले उपलब्धि स्तंभ का शुभारंभ किया। इसके साथ ही नरेंद्र तोमर ने कैटल यार्ड का भी निरीक्षण किया तथा एनडीआरआई द्वारा तैयार किए गए क्लोन के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने एक आॅक्सीजन प्लांट का उद्घाटन किया तथा एनडीआरआई परिसर में अपने हाथों से एक पीपल का भी पौधा लगाया।

एनडीआरआई के वैज्ञानिकों पर जताई उम्मीद

इस मौके पर कृषि मंत्री के साथ एनडीआरआई के निदेशक मनमोहन सिंह चौहान, संयुक्त निदेशक धीर सिंह के साथ सभी प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे। करनाल राष्ट्रीय डेयरी अनुसंधान संस्थान में पहुंचने पर पत्रकारों से बात करते हुए केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा कि एनडीआरआई ने अपने 100 वर्ष पूरे किए हैं।

इसके लिए जिन लोगों का इसमें योगदान रहा है। वह सभी बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि एनडीआरआई के सामने अभी भी बहुत सी चुनौतियां हैं, जिनका उन्हें सामना करना है और उन्हें उम्मीद है कि एनडीआरआई के सभी वैज्ञानिक आने वाली सभी चुनौतियों पर खरा उतरेंगे। एमएसपी के मुद्दे पर बोलते हुए कृषि मंत्री ने कहा कि सरकार लागत पर 50 गुना मुनाफा देकर एमएसपी निर्धारित करती है, जिससे किसानों का निश्चित रूप से फायदा होता है।

आम आदमी पार्टी के बयान को बताया काल्पनिक

100th year Celebration of National Dairy Research Institute
100th year Celebration of National Dairy Research Institute

एसवाईएल के मुद्दे पर आम आदमी पार्टी के बयान पर बात करते हुए कृषि मंत्री ने कहा कि यह काल्पनिक लोग हैं। इनकी बातों को अधिक महत्व नहीं देना चाहिए। कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा कि कृषि के क्षेत्र में निजी निवेश को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने लगभग एक लाख करोड़ रुपये का इंफ्रास्ट्रक्चर फंड बनाया है। इसमें से लगभग नौ हजार करोड़ रुपये बैंक ने स्वीकृत भी कर दिया है। कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा कि पहले किसान कृषि को छोड़कर अन्य काम करते थे, लेकिन अब जिस प्रकार से लगातार कृषि में बदलाव आ रहा है उसके चलते युवा भी कृषि की तरफ तेजी से बढ़ रहे हैं कृषि के लिए यह एक अच्छी पहल है।

ये भी पढ़ें : कार्तिकेय शर्मा की जीत को लेकर समस्त ब्राह्मण समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री का किया धन्यवाद

ये भी पढ़ें : खुल गया प्रगति मैदान सुरंग, पीएम मोदी ने किया टनल और अंडरपास का उद्घाटन

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular