Homeहरियाणाकरनालरिश्वत मामले में चर्चित पूर्व डीटीपी विक्रम और निलंबित तहसीलदार राजबक्श को...

रिश्वत मामले में चर्चित पूर्व डीटीपी विक्रम और निलंबित तहसीलदार राजबक्श को हाईकोर्ट से मिली जमानत

इशिका ठाकुर,करनाल:

हरियाणा के करनाल जिले में भ्रष्टाचार के मामले में फंसे तहसीलदार राजबक्श और DTP विक्रम को बुधवार को हाईकोर्ट से जमानत मिल गई। दोनों आरोपी पिछले करीब 5 माह से जेल में बंद थे। बुधवार को यह पुष्टी हाईकोर्ट के के सीनियर एडवोकेट नलवा की है। बता दे कि 5 माह पहले आरोपी DTP व उसके ड्राइवर को 5 लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया था। जबकि रिमांड के दौरान आरोपी DTP से 78 लाख 50 हजार रुपए बरामद हुए थे। जिसमें 14.50 लाख रुपए तहसीलदार द्वारा DTP को दिए गए थे।

11 मार्च को आरोपी DTP को किया था गिरफ्तार

जानकारी के अनुसार करनाल विजिलेंस टीम द्वारा आरोपी DTP व उसके ड्राईवर को 5 लाख रुपए की रिश्वत के साथ गिरफ्तार किया था। DTP को तीन दिन के रिमांड पर लिया गया था। रिमांड के दौरान DTP के घर से पुलिस ने 78.50 लाख रुपए बरामद किए थे। DTP द्वारा खुलासा किया गया था इन पैसों में 14.50 लाख रुपए तहसीलदार राजबक्श ने एनओसी लेने के नाम पर उसे दिए थे। उसके आरोपी तहसीलदार को भी गिरफ्तार किया गया था।

DTP के पास 10 करोड़ की संपत्ति का हुआ था खुलासा

रिमांड के दौरान डीटीपी विक्रम के पास करीब 10 करोड़ रुपये की संपत्ति का खुलासा हुआ है। वहीं एक कार भी बरामद की गई है जो कि आरोपी ने रिश्वत के रुपयों से खरीदी थी। यह खुलासा उस समय हरियाणा स्टेट विजिलेंस की टीम ने किया था।

कई जगहों पर मिली थी तहसीलदार की प्रॉपर्टी

उस समय विजिलेंस जांच में सामने आया कि तहसीलदार राजबक्श के पास 2 मकान थे। इनमें से 1 मकान राजबक्श की बेटी के नाम है और दूसरा मकान तहसीलदार की पत्नी के नाम पर है। इसके अलावा 40 लाख रुपए नकदी है। 80 हजार रुपए मिले थे। इनके दो मकान रतिया में हैं। इसके अलावा फरीदाबाद में जमीन है। फरीदाबाद की जमीन के कागजात तहसीलदार के फ्रेंड के पास थी।

ये भी पढ़ें : सोनाली फोगाट की कॉल: मेरे खाने में कुछ गड़बड़, एक मौत, कई सवाल

ये भी पढ़ें : रोहतक पुलिस ने चलाया नाइट डोमिनेशन अभियान

Connect With Us: Twitter Facebook

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular