Homeहरियाणाकरनालआतंकियों की फर्जी आरसी बनाने वाले मास्टरमाइंड को कोर्ट ने 3 दिन...

आतंकियों की फर्जी आरसी बनाने वाले मास्टरमाइंड को कोर्ट ने 3 दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा

इशिका ठाकुर,करनालः

पिछली 5 मई को करनाल के टोल प्लाजा से पुलिस ने नाकाबंदी करते हुए चार संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया था पकड़े गए आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोली बारूद तथा एक इनोवा गाड़ी भी पुलिस ने बरामद की थी । इनोवा गाड़ी की जांच के दौरान पुलिस ने दो आरसी भी बरामद की थी जो जांच के रान नकली पाई गई। पकड़े गए आतंकियों से पूछताछ के दौरान पुलिस ने पाया कि इन दोनों नकली आरसी को बनाने का आरोपी नितिन शर्मा है जो अंबाला के कस्बा साहा के गांव महमदपुर का रहने वाला है|

पुलिस के अनुसार आरोपी नितिन शर्मा यमुनानगर में दर्ज एक मामले में भगोड़ा है। इस संबंध में मधुबन थाना पुलिस में पुलिस ने आरोपी नितिन शर्मा के खिलाफ 10 मई को एक मामला भी दर्ज किया है उसके आधार पर पुलिस ने टीम गठित कर आरोपी को पुलिस ने शनिवार बाद दोपहर गिरफ्तार कर लिया और आज करनाल कोर्ट में आरोपी को पेश किया गया जहां कोर्ट ने उसे 3 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

पवन कुमार मेरठ में नकली आरसी बनाने का काम करता है

Court sent the mastermind who made fake RC of terrorists on 3 days police remand

कोर्ट में पेश किए जाने के वक्त नितिन ने बातचीत में बताया कि वह केवल गाड़ी बेचने का काम करता है जबकि नकली आरसी मेरठ के रहने वाले पवन कुमार द्वारा बनाई गई हैं पवन कुमार मेरठ में नकली आरसी बनाने का काम करता है और चोरी की गाड़ियां भी बेचने का काम करता है। आरोपी नितिन कुमार के अनुसार उसने आतंकियों को केवल ब्रिजा गाड़ी बेची है।

आरोपी ने बताया कि उसका पकड़े गए आतंकियों के साथ कोई सीधा संबंध नहीं है और उसके पास इस संबंध में जो भी जानकारी है वह उसने पुलिस को दे दी है। पुलिस जांच अधिकारी सुरेंद्र कुमार ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी नितिन शर्मा यमुनानगर कोर्ट का भगोड़ा है और वह जम्मू में जाकर नकली आरसी और चोरी की गाड़ी बेचने का काम करता था। आरोपी नितिन कुमार द्वारा जम्मू के एयरफोर्स कर्मचारी रामनारायण को 7 गाड़ियां दी गई थी जिसके आरोप में इसकी गिरफ्तारी भी हुई थी और इस मामले में 1 सप्ताह पहले जमानत पर आया है।

चोरी की दोनों गाड़ियां फिलहाल पंजाब

Court sent the mastermind who made fake RC of terrorists on 3 days police remand

यह लोग लोन डिफॉल्टर गाड़ियों और चोरी की गाड़ियों की नंबर प्लेट पर हैश लगाकर डुप्लीकेट आरसी बनाते थे। फिलहाल जांच में दो गाड़ियां एक स्कॉर्पियो और दूसरी ब्रेजा सामने आई है यह दोनों गाड़ियां मेरठ से खरीद कर खरड़ के रहने वाले संदीप नाम के व्यक्ति के माध्यम से पकड़े गए आतंकियों को बेची गई थी। चोरी की दोनों गाड़ियां फिलहाल पंजाब में है। मेरठ का रहने वाला पवन इन्हें गाड़ियां बेचता था।

 

ये भी पढ़ें : दोस्त को उतारा मौत के घाट फिर किए टुकड़े, कारण 25 हजार रुपये का लेनदेन

ये भी पढ़ें : बिजली संकट, तीन यूनिटों में उत्पादन बंद, बढ़ी मांग

ये भी पढ़ें : अंबाला में मिले हैंड ग्रेनेड का संबंध भी करनाल में पकड़े आतंकियों से जुड़े

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular