Homeहरियाणाकरनालमहंगाई के खिलाफ कांग्रेस ने बोला हल्ला Congress Spoke Against Inflation

महंगाई के खिलाफ कांग्रेस ने बोला हल्ला Congress Spoke Against Inflation

Congress Spoke Against Inflation

प्रवीण वालिया, करनाल:
Congress Spoke Against Inflation : देश में भारतीय जनता पार्टी की ओर से पेट्रोल डीजल और रसोई गैस की कीमतों में की गई बेतहाशा वृद्धि के खिलाफ जिला कांग्रेस के बैनर तले करनाल में भी विधायक शमशेर सिंह गोगी जिला संयोजक त्रिलोचन सिंह के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकतार्ओं ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए डीसी को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा।

चुनाव के बाद बढ़ाए दाम

इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों के बाद सरकार ने पेट्रोल डीजल और रसोई गैस की कीमतों में भी वृद्धि कर आम आदमी का जीवन मुहाल कर दिया हैं। इससे रसोई के साथ जीवन का हर पहलू प्रभावित होगा। कांग्रेस इसका देश व्यापाी विरोध कर रही हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने जनता के मुूद्दों को लेकर आंदोलन करने का रास्ता अपनाया है। उन्होंने कहा कि भाजपा की जनविरोधी नीतियों के कारण आम आदमी की कमर टूट रही है। ज्ञापन में महामहिम राष्ट्रपति से मंहगाई पर नियंत्रण के लिए ठोस कदम उठाने के लिए सरकार को निर्देश देने की मांग की है।

इस अवसर पर डॉ नवजोत कश्यप,सुरेश मतलौडा,पूर्व रघुवीर सन्धु,राजेन्द्र कल्याण ,धर्मपाल कौशिक, ललित बुटाना, राजेन्द्र बल्ला, राजेश चौधरी, डॉ सुनील पंवार, राकेश निम्बरना, सरपंच सतपाल जानी, रानी कांबोज, गीता शर्मा, निश्चय सोही, होशियार सिंह, मुनीश परवेज राणा, राजवीर सिंह चौहान, संजीव काम्बोज,कर्मपाल सिंह,इंद्रपाल सिंह, मनिंदर सिंह, बसन्त राणा, राज किशन सहगल, परमजीत भारद्वाज पूर्व विधायक रिशाल सिंह, एडवोकेट अमृत, अरुण पंजाबी, गगन मेहता, नरेंद्र जोगा, अमरदीप कादयान रोहित जोशी, दया प्रकाश, जोगेंद्र वालमीकि, प्रकाशवीर,नरेश सन्धु, गोपाल कृष्ण सहोत्रा और कृष्ण गहलोत मौजूद थे।

मंहगाई पर चुनाव जीतने के लिए था नियंत्रण

ज्ञापन में कहा गया कि सरकार ने चुनाव जीतने के लिए मंहगाई पर नियंत्रण किया था। चुनाव जीतने के बाद भाजपा के अहंकार ने मंहगाई को जन्म दिया। भाजपा सरकार ने आठ सालों में पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी कर 26 लाख करोड़ रुपए की कमाई की हैं। ज्ञापन में कहा गया किे 2014 में कचा तेल 108 रुपए प्रति डालर था। जब कि आज कच्चा तैल 108 रुपए प्रति डालर हैं, लेकिन उस समय पैट्रोल और डीजन 74 रुपए 41 पैसे तथा 55 रुपए 49 पैसे था।

लेकिन अब 96 रुपए 21 पैसे तथा 84 रुपए 47 पैसे प्रति लिटर मिल रहा है। कच्चे तेल की आठ सालों में औसत वैल्यू 60 डलर प्रति बैरल रही। 22 मार्च, 2022 को कच्चे तेल की कीमत 108.25 अमेरिकी डॉलर प्रति बैरल थी। याद रहे की 26 मई, 2014 को जब प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने सत्ता संभाली थी, उस दिन भी कच्चे तेल की कीमत 108 अमेरिकी डॉलर ही थी लेकिन आज पेट्रोल डीजल बहुत महंगे हैं।

Congress Spoke Against Inflation

READ ALSO : हिमाचल में केजरीवाल के सामने पहाड़, यहां क्या रहेगा असर Kejriwal in Himachal

READ ALSO : पंजाब बोर्ड ने जारी किया 10वीं-12वीं का शेड्यूल Punjab Board 10th-12th Schedule

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular