Homeहरियाणाकरनालगौ तस्करी व पुलिस टीम पर जानलेवा हमला करने के मामले में...

गौ तस्करी व पुलिस टीम पर जानलेवा हमला करने के मामले में 6 साल से फरार चल रहे 2 आरोपी गिरफ्तार

  • हरियाणा, उत्तर प्रदेश व पंजाब के विभिन्न जिलों में एक आरोपी के खिलाफ 57 तो दूसरे के खिलाफ 4 मुकदमें हैं दर्ज

प्रवीण वालिया, करनाल:
जिला पुलिस करनाल के थाना कुंजपुरा की टीम द्वारा गौ तस्करी करने व पुलिस टीम पर जानलेवा हमला करने के वर्ष 2016 के थाना कुंजपुरा के एक मामले में 6 साल से फरार चल रहे दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

एक आरोपी के खिलाफ 57 तो दूसरे के खिलाफ 4 मुकदमें हैं दर्ज

16 सितंबर को थाना प्रबंधक कुंजपुरा उप निरीक्षक कुलदीप सिंह के नेतृत्व में कार्य करते हुए व एएसआई राकेश कुमार की अध्यक्षता में टीम द्वारा आरोपी नोमान पुत्र रियासत अली व फरमान पुत्र इसाक उर्फ शाका वासियान बेगी नाजर थाना गंगोह जिला सहारनपुर उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार किया गया। इस मामले में इससे पहले पांच आरोपी साबिर, रुकमा उर्फ रुकमादीन, जाहिद, माना व नकीम वासियान जिला सहारनपुर उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार किया जा चुका है। सभी आरोपी अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर हरियाणा, उत्तर प्रदेश व पंजाब के विभिन्न जिलों से गौ तस्करी व पुलिस पर जानलेवा हमला करने जैसी गंभीर वारदातों को अंजाम देते हैं। इन वारदातों के अलावा आरोपी चोरी व लूट की वारदातों को भी अंजाम देते थे। गिरफ्तार आरोपी फरमान के खिलाफ हरियाणा के जिला कुरुक्षेत्र, पानीपत, अंबाला, कैथल, पंचकूला, करनाल व उत्तर प्रदेश और पंजाब के विभिन्न जिलों में 57 मामले दर्ज हैं और आरोपी नोमान के खिलाफ थाना कुंजपुरा में 4 मामले दर्ज हैं। इन मामलों में ज्यादातर मामले गौ तस्करी करने, पुलिस टीम पर हमला करने, शस्त्र अधिनियम, भगोड़ा घोषित होने, लूट करने व चोरी करने के दर्ज हैं। आरोपियों को आज पेश अदालत करके एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। दौराने रिमांड आरोपियों से गहनता से पूछताछ की जाएगी व आरोपियों के अन्य साथियों को भी गिरफ्तार करने के प्रयास किए जाएंगे।

आरोपियों को पकड़ने के लिए की नाकाबंदी

विदित हो कि 14 दिसंबर 2016 की रात को सीआईए टू की टीम को विश्वसनीय सूचना प्राप्त हुई थी कि यमुना बांध के साथ लगते उत्तर प्रदेश के कुछ गांव के व्यक्ति गौ तस्करी का काम करते हैं। जो आज भी इन गांवों के कुछ लड़के पिकअप व टाटा 407 केंटर गाड़ियां लेकर नाराज हथियारों से लैस होकर यमुना नदी से गांव मोदीपुर होते हुए हरियाणा में गौ तस्करी के लिए आए हैं। जिसके बाद टीम ने आरोपियों को पकड़ने के लिए नाकाबंदी की थी। दौराने नाकाबंदी चार पांच गाड़ियों में सवार होकर करीब 30-40 व्यक्ति आए थे। जिन्होंने पुलिस टीम को देखते ही पुलिस टीम पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी व व पुलिस टीम की गाड़ियों में टक्कर मारते हुए मौका से फरार हो गए। जिसमें पुलिस की टीम बाल-बाल बची थी। इस संबंध में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ थाना कुंजपुरा में मुकदमा नंबर 280 दिनांक 15 सितंबर 2016 धारा 148, 149, 186, 353, 307, 427, 506 आईपीसी व आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था।

ये भी पढ़ें : सनातन धर्म मंदिर में संक्रांति पर लंगर

ये भी पढ़ें : चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों का जिला सचिवालय पर प्रदर्शन 28 को

ये भी पढ़ें : आम आदमी पार्टी वर्कर्स लोगों के बीच जाकर खोले भाजपा की पोल : अनुराग ढांडा

ये भी पढ़ें : संक्रांति पर्व पर सजा दीवान, बरताया अटूट लंगर

ये भी पढ़ें : एप डाउनलोड करा शिक्षिका से हड़पे साढ़े 97 हजार रुपये, केस दर्ज

 Connect With Us: Twitter Facebook

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular