Homeराज्यहरियाणाकरनाल: रोड इंजीनियरिंग में एक बार इन्वेस्टमेंट से बचती हैं जिंदगियां: संजय

करनाल: रोड इंजीनियरिंग में एक बार इन्वेस्टमेंट से बचती हैं जिंदगियां: संजय

प्रवीण वालिया, करनाल:

प्रधान सचिव परिवहन विभाग शत्रुजीत कपूर की प्रेरणा से परिवहन विभाग की पहल पर 12 जुलाई से 5 सितम्बर तक संचालित वेबिनार श्रृंखला में शुक्रवार को 11 बजे गूगल मीट प्लेटफार्म पर हरियाणा के सभी महाविद्यालयों को सम्बोधित करते हुए पुलिस महानिरीक्षक कानून व्यवस्था संजय कुमार ने कहा कि सडक सुरक्षा में इंजीनियरिंग की अहम भूमिका है। उन्होंने कहा किसी चैराहे पर निरंतर दुर्घटनाएं हो रही हैं, तो उस स्थल को दुर्घटना रहित बनाने के लिए इंजीनियरिंग का प्रदर्शन करते हुए फ्लाई ओवर बनाया जाता है तो हजारों जीवन सुरक्षित हो जाते हैं। रोड इंजीनियरिंग का यही कमाल है।

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में स्कूल कालेज एवं विश्वविद्यालयों को बृहत्तर भूमिका निभानी होगी। उन्होंने कहा कि आज रोड सेफ्टी ओडिट सुरक्षित हरियाणा का बड़ा अध्याय है। इसे अभियान के रूप में विविध विश्वविद्यालयों में संचालित इंजीनियरिंग के छात्रों को स्वीकार करना होगा। जिससे सडक पर हो रही दुर्घटनाओं के कारणों की व्यापक पड़ताल हो सकेगी। स्वागत करते हुए जिला शिक्षा अधिकारी राजपाल ने कहा कि सडक सुरक्षा ज्ञान केन्द्र दुर्घटना रहित हरियाणा का मार्ग प्रशस्त करेगा। डी.ए.वी. कालेज के प्राचार्य डा. आर पी. सैनी ने रागनी प्रस्तुत करके जीवन राग के महत्व पर प्रकाश डाला।

अध्यक्षता करते हुए संयुक्त परिवहन आयुक्त निर्मल नागर ने कहा परिवहन विभाग हरियाणा सडक सुरक्षा के माध्यम से सभी जिलों में नियमित बैठकें आयोजित कर निरंतर दुर्घटनाओं के कारणों के निदान का प्रयास कर रहा है। उन्होंने कहा शिक्षा विभाग के माध्यम से हरियाणा के सभी विद्यालय, महाविद्यालय तथा विश्वविद्यालय में सडक सुरक्षा ज्ञान केन्द्र की स्थापना करके युवाओं को यातायात प्रहरी बनाने का अभियान चलाया जाएगा। सडक सुरक्षा विशेषज्ञ डा. तजेन्द्र साहनी ने कहा कि सडक सुरक्षा सिर्फ नारा नहीं जीवन जीने का तरीका है। इस वेबिनार में परिवहन अधिकारी जोगेन्द्र ढुल, डा. अनुपम अरोड़ा, डा. अर्चना मिश्रा, डा. राजेन्द्र सिंह राणा, डा. आर.पी सैनी सहित पूरे हरियाणा से सैंकडों प्राचार्यों ने हिस्सेदारी निभाई। संयोजन करते हुए संस्कृतिकर्मी राजीव रंजन ने कहा कि आभासी दुनिया के इस मंच पर कोविड-19 के संक्रमण काल में सडक सुरक्षा के लिए संचालित विमर्श यात्रा दुर्घटना रहित हरियाणा का आधार बनेगी। उन्होंने बताया कि आगामी 27 जुलाई को सडक सुरक्षा में स्वास्थ्य सेवाओं की भूमिका विषय पर वेबिनार आयोजित किया जाएगा।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular