Homeहरियाणाकरनालकरनाल पुलिस की बड़ी कामयाबी, ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी सुलझा पांच आरोपी...

करनाल पुलिस की बड़ी कामयाबी, ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी सुलझा पांच आरोपी किए गिरफ्तार

इशिका ठाकुर, Karnal News :     
जिला पुलिस करनाल की डिटेक्टिव स्टाफ इंचार्ज निरीक्षक हरजिन्द्र सिंह की अध्यक्षता में कार्यरत डिटेक्टिव स्टाफ की टीम द्वारा थाना घरौंडा के एरिया के एक गांव के युवक के ब्लांइड मर्डर के मामले को सुलझाने में कायमाबी हासिल की है। इस मामले में टीम द्वारा पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इस वारदात के संबंध में दिनांक 26.07.2022 को थाना घरौंडा में शिकायतकर्ता ईश्वर सिंह पुत्र सिंह राम वासी हरि सिंहपुरा जिला करनाल ने एक शिकायत दी। जिसमें उसने बताया कि उसका लडका प्रदीप उम्र 36 साल घरौंडा बिजली बोर्ड में कम्प्यूटर ऑपरेटर के पद पर कार्यरत है। दिनांक 26.07.2022 को वह अपनी मोटरसाईकिल पर सवार होकर घरौंडा डयूटी पर गया थ। जो घर नही पंहुचा है। इस संबंध में थाना घरौंडा में दिनांक 27.07.2022 को मुकदमा नम्बर 495 धारा 346 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया गया।

पांच आरोपियों पानीपत से गिरफ्तार किया

मामले की आगामी तफ्तीश डिटेक्टिव स्टाफ करनाल की टीम को सौंपी गई। जाँच के दौरान 29 जुलाई 2022 को दिल्ली नहर से प्रदीप की डेड बॉडी बरामद हुई थी। जिसके बाद डेड बॉडी को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया गया और शव को परिजनों के हवाले किया गया। जिसके बाद मामले में हत्या की धारा जोड़कर मामले में आगामी तफ्तीश आरंभ की गई। दौराने तफ्तीश एएसआई गुरमीत सिंह की अध्यक्षता में टीम द्वारा आज पांच आरोपियों 1. राहुल पुत्र कृष्ण 2. सावन पुत्र बलबीर वासियान गांव गोली थाना मुनक जिला करनाल 3. विशाल पुत्र सुरेश वासी गांव मोर माजरा जिला करनाल 4. विनय उर्फ विशाल पुत्र हवासिंह वासी धर्मगढ जिला पानीपत व 5. अजय पुत्र संजय वासी गांव काबडी जिला पानीपत को विश्वसनीय साक्ष्यों के आधार पर पानीपत से गिरफ्तार किया गया।

 

Karnal News/Big success of Karnal police.solved the mystery of blind murder.arrested five accused
Karnal News/Big success of Karnal police.solved the mystery of blind murder.arrested five accused

शराब के लिए पैसे न देने पर प्रदीप को नदी में फेंका

आरोपियों से पूछताछ में प्रारंभिक जांच में खुलासा हुआ कि प्रदीप 26 जुलाई को किसी काम से पानीपत गया था और पानीपत के एक ढाबे पर बैठकर खाना खाने लगा। उपरोक्त आरोपी भी उसी दिन उक्त ढाबे पर बैठे थे। उसी समय पांचों आरोपी प्रदीप को बातों में फंसा कर पानीपत में नहर के पास ले गए और वहां जाकर उसे शराब पीने के लिए पैसे मांगने लगे और लड़ाई झगड़ा करने लगे। जब प्रदीप उपरोक्त ने आरोपियों को शराब के लिए पैसे देने से मना कर दिया तो आरोपियों ने प्रदीप को नहर में फेंक दिया। जिसके कारण नहर में डूबने से प्रदीप की मृत्यु हो गई थी। जिसके बाद आरोपी प्रदीप का मोबाइल फोन व मोटरसाइकिल लेकर मौका से फरार हो गए थे। आरोपियों को कल दिनांक 5 अगस्त को पेश अदालत किया जाकर पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा। दौरान रिमांड आरोपियों से गहनता से पूछताछ की जाएगी वह वारदात के बाद चुने गए मोबाइल फोन व मोटरसाइकिल को बरामद किया जाएगा।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular