Homeराज्यहरियाणाकरनाल : कोरोना काल में स्वास्थ्यकर्मियों ने पेश की सेवा की मिसाल...

करनाल : कोरोना काल में स्वास्थ्यकर्मियों ने पेश की सेवा की मिसाल : आशीष पसरीचा

प्रवीण वालिया, करनाल :

कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज व अस्पताल के स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा उत्कृष्ट समर्पण और सेवाकार्यों के लिए बुधवार को सम्मान समारोह आयोजित किया गया। सेवा भारती और भारत विकास परिषद के सयुंक्त तत्वावधान में कोरोना संक्रमित मरीजों को बेहतर सेवा एवं उपचार उपलब्ध करवाने वाले डाक्टर, नर्स, वार्ड बॉय, सफाई कर्मचारियों और सुरक्षाकर्मियों की सेवाओं को याद करते हुए उन पर फूलों की वर्षा कर उन्हें सम्मानित किया। इस अवसर पर कालेज के निदेशक डा. जगदीश दुरेजा, मेडिकल सुप्रिडेंट डा. हिमांशु मदान, डा. गुलशन गर्ग के साथ सेवा भारती और भारत विकास परिषद के कार्यकतार्ओं ने इन सभी को मास्क व जूस वितरित किए। इस अवसर प्रकल्प प्रमुख कपिल अत्रेजा ने कहा कि हमें गर्व है अपने उन सभी डॉक्टर, फार्मासिस्ट, नर्स, वार्ड ब्यॉय, पैथोलॉजिस्ट, सुरक्षाकर्मियों और सफाईकर्मियों पर जिन्होंने महामारी के समय में अपनी जान की परवाह किए बिना पूरे जुनून और सेवा भाव से जिस तरह से लोगों की सेवा की है, वह हम सभी के लिए प्रेरणादायक और भविष्य के लिए एक मिसाल है । उन्होंने कहा कि भारत ही नहीं पूरी दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रही है। लेकिन इन मुश्किल हालात में भी डॉक्टर और हेल्थ वर्कर्स ने अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाया है। ऐसे समय में जब लोग अपने घरों में थे, मेडिकल स्टाफ लोगों को बचाने के लिए अपनी जान भी दांव पर लगाए हुए था।

देशभर से स्वास्थ्य कर्मियों ने अपना फर्ज निभाते हुए जान भी गंवाई है। इनके योगदान का कोई मूल्य नही लगाया जा सकता। भारत विकास परिषद, कर्ण शाखा के अध्यक्ष डा. आशीष पसरीचा ने कहा कि हम सभी को कोरोना महामारी से निपटने में स्वास्थ्य कर्मियों के योगदान को कभी भी भूलना नहीं चाहिए। कोरोना महामारी के दौरान ही इन सभी स्वास्थ्य कर्मियों की सही उपयोगिता के बारे में हम सभी को एहसास हुआ है। इन सभी योद्धाओं द्वारा कोरोना काल में न सिर्फ कोरोना, बल्कि दूसरी स्वास्थ्य सेवाओं को भी पहले की तरह जारी रखने में हर संभव सेवाएं प्रदान की है। मेडिकल कॉलेज के निदेशक डॉ जगदीश दुरेजा ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के बाद यदि तीसरी लहर भी आती है तो कल्पना चावला अस्पताल पहले से बहु बेहतर चिकित्सा सुविधाएं देने के लिए पूरी तैयारी कर चुका है। अस्पताल के आईसीयू, एनआईसीयू व पीआईसीयू को पूरी तरह से तैयार रखा गया है। सेवा भारती के सतीश कुकरेजा ने जनता से आह्वान किया कि भले ही कोरोना के केस कम हुए हैं, लेकिन अभी भी सतर्कता और सावधानी बहुत जरूरी है और सभी को सतर्क रहने के साथ ही सभी एहतियात बरतने की जरुरत है। इस सम्मान समारोह में भारत विकास परिषद के जिलाध्यक्ष श्याम बतरा, डॉ एन पी सिंह, प्रणव जावा, डॉ प्रेरणा, सिक्युरिटी इंचार्ज डालचंद आदि भी मौजूद रहे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular