Homeराज्यहरियाणाकरनाल: वर्क आर्डर होने के बावजूद जो कार्य अभी तक शुरू नहीं...

करनाल: वर्क आर्डर होने के बावजूद जो कार्य अभी तक शुरू नहीं हुए, होंगे रद्द

प्रवीण वालिया, करनाल:

नगर निगम के ऐसे सभी कार्य जो वर्क आर्डर होने के बावजूद अभी तक शुरू नहीं हुए, रद्द होंगे, दूसरी एजेंसी से करवाएंगे। विकास सदन के सभागार में आयोजित एक मीटिंग में नगर निगम आयुक्त डा. मनोज कुमार ने उपस्थित इंजीनियर्स को यह निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शहर में जो कार्य प्रगति पर चल रहे हैं, उन सब की भी विजिट की जाएगी, कितना काम हुआ है और कितना बाकी है, इसकी जानकारी मिल सकेगी। करीब दो घंटे तक चली मीटिंग में निगम आयुक्त ने वार्ड 1 से लेकर 20 तक के विकास कार्यों का सम्बंधित इंजीनियरों से लेखा-जोखा पूछा और काम में देरी को लेकर कारण जानना चाहा। उन्होंने कहा कि शहर में जितने भी नए पार्क हैं और जहां सिविल वर्क और नवीनीकरण किया गया है, उन सभी की सूची कार्यकारी अभियंता बागवानी को दे दी जाए। ऐसे पार्कों में अब मौसम के अनुकूल सुंदर घास और पौधारोपण किया जाएगा, इसके लिए उन्होंने अगले कुछ दिनो में टैंडर लगाने के निर्देश दिए। बरसाती पानी की निकासी के लिए नगर निगम की पाईप लाईनों को लेकर आई शिकायतों के संदर्भ में निगम आयुक्त ने कड़ा संज्ञान लिया और कहा कि भविष्य में इस तरह की पाईप लाईनों की जगह ओपन ड्रेन बनवाई जाए, ताकि उनकी अच्छे से सफाई सुनिश्चित की जा सके। इस काम के लिए उन्होंने इंजीनियर्स से सैंटीफिक रिपोर्ट मांगी।
गम्भीर नजर आए निगम आयुक्त
मीटिंग में चालू मानसून सीजन पर चर्चा करते हुए निगम आयुक्त गम्भीर नजर आए। उन्होंने कहा कि नालों की सफाई के लिए निगम के पास जितनी भी जैटिंग और सुपर सकर मशीने हैं, सभी नियमित रूप से सफाई में लगी रहें। उन्होंने कहा कि बरसाती पानी की डिस्पोजल के जितने भी पाँयट हैं, वहां लगाए गए आप्रेटरों को बेसिक ट्रेनिंग दें, ताकि उनका संचालन सुचारू रूप से बना रहे। उन्होंने सभी जे.ई., एम.ई. और कार्यकारी अभियंताओं को निर्देश दिए कि बरसात के दिनो में सभी अपनी ड्यूटी के प्रति अलर्ट रहें और पूरी जिम्मेदारी से काम करें। शहर में दुधारू पशु डेयरी से निकले गोबर से चौक होने वाली नालियों को लेकर शिकायतों पर भी उन्होंने कड़ा संज्ञान लिया और निर्देश दिए कि ऐसे डेयरी संचालक का चालान करें। मीटिंग में निगमायुक्त ने बताया कि शहर के भिन्न -भिन्न  भागों में 17 पेयजल नलकूप लगाए जाने की योजना बनाई गई थी, इनमें से 14 मुकम्मल हो चुके हैं, जबकि 3 पर काम चल रहा है। लगाए गए नलकूप वार्ड नम्बर 1, 3, 4, 7, 13, 15, 16, 18 व 19 में मौजूद हैं। नगर निगम द्वारा एन.डी.आर.आई. से आई.टी.आई. चौक तक फोरलेनिंग की डिवाईडिंग पर जो पौधे भीष्ण गर्मी से सूख गए थे। अब इस जगह को हरा-भरा बनाने के लिए दोबारा पौधे लगाए जाएंगे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular