Homeराज्यहरियाणाकरनाल: कोरोना की तीसरी लहर से बचने के लिए स्वच्छता जरूरी :...

करनाल: कोरोना की तीसरी लहर से बचने के लिए स्वच्छता जरूरी : सुभाष चन्द्र

प्रवीण वालिया, करनाल:
कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचने के लिए स्वच्छता एक बड़ा हथियार है। स्वच्छता को अपनाकर हम कोरोना की सम्भवनाओं को समाप्त कर सकते हैं। ये शब्द स्वच्छ भारत मिशन के कार्यकारी वाईस चेयरमैन सुभाष चन्द्र ने शुक्रवार को चांद सराय इलाके में सघन स्वच्छता अभियान की शुरुआत करते हुए कहे। इस अवसर पर उन्होंने नगर निगम के डीएमसी धीरज कुमार के साथ अपने हाथों से गंदगी उठाकर लोगों को स्वच्छता अपनाने का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि हमने ठाना है कि शहर की वंचित बस्तियों को गंदगी मुक्त बनाकर उन्हें विकास की मुख्यधारा से जोडऩा है। इस मौके पर मिशन के वाईस चेयरमैन ने नगर निगम के सफाई निरीक्षक को इस क्षेत्र के पूरी तरह गंदगी मुक्त होने तक सफाई अभियान जारी रखने के निर्देश दिए।  उन्होंने क्षेत्र में ऐसे प्लॉट मालिकों को नोटिस जारी करने को भी कहा जिनके प्लाट में लंबे समय से गंदगी पसरी हुई है। सुभाष चन्द्र ने क्षेत्रवासियों से बात करते हुए उनकी समस्या सुनी और निगम अधिकारियों को उनका समाधान करने को कहा। उन्होंने क्षेत्र की बन्द पड़ी स्ट्रीट लाइटों को ठीक करने, नालों को साफ करने और चोक सीवर को खोलने के निर्देश भी दिए। उन्होंने लोगों से भी अपने आस पास कूड़ा न डालने और अपने घरों का कूड़ा नगर निगम की रेहडिय़ों में डालने की बात कही।
कुछ लोगों ने यहां बारदाने से होने वाले प्रदूषण और डेयरियों से निकलने वाले गोबर को खुले में डालने की शिकायत की जिस पर सुभाष चन्द्र ने डेयरी मालिक और बारदाने का काम करने वालों को हिदायत देते हुए निगम अधिकारियों से इन्हें नोटिस जारी करने को कहा। सुभाष चंद्र ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल का प्राथमिक  विषय है, इसमें कोई लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी चाहे वह अधिकारी हो अथवा कोई अन्य व्यक्ति उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। क्षेत्र में आज चलाए गए स्वच्छता अभियान से स्थानीय लोग काफी खुश नजर आए और उन्होंने इसे आगे भी जारी रखते हुए पूरा सहयोग देने की बात कही। उषा रानी, रविन्द्र और सुखदेव ने कहा कि कुछ लोगों के गैर जिम्मेदाराना व्यवहार के कारण उन्हें नारकीय जीवन जीना पड़ रहा है। ऐसे लोगों द्वारा खुले में कूड़ा फेकने से उनके नाले और सीवर जाम हो चुके है। निगम ऐसे लोगों के खिलाफ कार्यवाही करें ताकि दूसरों को सबक मिले।
नगर निगम के डीएमसी धीरज कुमार ने कहा कि स्वच्छता हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है, यह अकेले नगर निगम अथवा सरकार का कार्य नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर हम गंदगी मुक्त वातावरण में रहना चाहते हैं तो हमे अपनी पुरानी आदतों को बदलना होगा। अगर समस्या है तो समाधान भी हमारे पास है। अगर हर व्यक्ति अपना कचरा खुले में फैंकना बन्द कर दें तो यह समस्या अपने आप समाप्त हो जाएगी। उन्होंने क्षेत्र के निवासियों से अपने स्तर पर एक स्वच्छता टीम बनाने और जागरूक होने की बात कही। इस अवसर पर स्टेट टास्क फोर्स के सदस्य पवन शर्मा, सफाई निरीक्षक महावीर सोढी, राजेन्द्र  सिरसी, सुखदेव कागड़ा, ललित कुमार, रविंदर वर्मा, रवि सौदा, श्याम कपूर, सन्नी अरोड़ा, करण सिंह चोपड़ा, राकेश सैनी, सुभाष त्रेहन, विशाल सामरा, राहुल गहलोत, नवदीप चावरिया,अरुण कुमार, अमित प्रधान, राज कुमार, राम राज मोरिया, अरुण मोरिया, किशोर जी, अमित प्रधान, भूपेन्द्र सिंह, चंदन कपूर सहित अन्य लोग भी मौजूद रहे।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments