Homeहरियाणाकैथलआर्ट ऑफ लिविंग द्वारा सुदर्शन क्रिया फॉलोअप का आयोजन

आर्ट ऑफ लिविंग द्वारा सुदर्शन क्रिया फॉलोअप का आयोजन

मनोज वर्मा, कैथल:

आर्ट ऑफ लिविंग की कैथल इकाई के तत्वाधान में साधकों को आध्यात्मिक पथ पर आरूढ़ रखने हेतू योग, ध्यान तथा गुरु-ज्ञान जैसे दिव्य गुणों से सुसज्जित सुदर्शन क्रिया फॉलोअप कार्यक्रम का शुभारंभ आचार्या रुचि शर्मा संग प्रतिभागी साधकों द्वारा सम्पूर्ण विश्व-कल्याण हेतू मंगलकामना 3 बार ॐ के मंगल गायन के साथ हुआ। फॉलोअप संयोजक डॉक्टर राजेश सीकरी ने बताया कि वेद विज्ञान महाविद्यापीठ कपिस्थल आश्रम, कैथल में आचार्या रुचि शर्मा के पावन सानिध्य में साधकों ने परमपूज्य गुरुदेव रविशंकर की पवित्र वाणी में अद्भुत सुदर्शन क्रिया के पश्चात् ध्यान करते हुए परमानन्द एवं दिव्य-ऊर्जा की सुखद अनुभूति अर्जित की।

शारीरिक एवं मानसिक तौर पर न सिर्फ स्वयं को अपेक्षाकृत अधिक ऊर्जावान महसूस कर रहा हूँ

प्रतिभागियों में से भारत खुराना ने अपने अनुभव सांझा करते हुए बताया कि शारीरिक एवं मानसिक तौर पर न सिर्फ स्वयं को अपेक्षाकृत अधिक ऊर्जावान महसूस कर रहा हूँ, अपितु आज के गुरु-ज्ञान सूत्र के माध्यम से जीवन में से असुखद अनुभवों को दरकिनार करते हुए आगे बढ़ते हुए निरन्तर चलते चले जाने का दिव्य सन्देश मेरे दुर्लभ मानव जीवन की कायाकल्प कर देने वाला सिद्ध होगा। तत्पश्चात् आचार्या रुचि शर्मा द्वारा गुरु-ज्ञान को उद्धरित करते हुए सम्पूर्णता के भिन्न-भिन्न आयामों की विद्वतापूर्ण चर्चा करना आज के कार्यक्रम का दिव्य आकर्षण रहा। आचार्या रुचि शर्मा ने साधकों को स्वयं में अंतर्निहित प्रतिभा को निखारने के एवं अपनी कार्यक्षमता में अभूतपूर्व बढ़ोतरी करने हेतू आगामी 21जुलाई से 24जुलाई तक वेदविज्ञान महाविद्यापीठ कपिस्थल आश्रम, कैथल में आचार्य सुखविंदर सिंह बिंद्रा के पावन सानिध्य में आयोजित किए जाने वाले दिव्य समाज निर्माण शिविर में अवश्य ही भाग लेने का आव्हान भी किया।  कार्यक्रम के अंतिम चरण में परमपूज्य गुरुदेव संग प्रतिभागी साधकों द्वारा पावन श्लोक असतो मा सद्गमय,

साधक हुए लाभान्वित 

तमसो मा ज्योतिर्गमय, मृत्योर्मामृतं गमय ॥ ॐ शान्ति शान्ति शान्ति: ॥ के मधुर गायन के माध्यम से प्रार्थना की गई कि, हे प्रभु ! मुझे असत्य से सत्य की ओर, मुझे अंधकार से प्रकाश की ओर, मुझे मृत्यु से अमरता की ओर ले चलो ! आज के आयोजन से डॉक्टर राजेश सीकरी, डॉक्टर सुनीला सीकरी, भारत खुराना, कमल कांत गांधी, धनञ्जय शर्मा, हरीश सीकरी, सुनील खुराना, लोकेश रहेजा, रामकुमार तथा गुलाब आदि साधक लाभान्वित हुए।

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular