Homeहरियाणाकैथलउप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने ढांड तथा जडौला गांव में आयोजित कार्यक्रम की...

उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने ढांड तथा जडौला गांव में आयोजित कार्यक्रम की शिरकत

  • ढांड के सरकारी स्कूल का नाम गांव के शहीद केहर सिंह के नाम पर रखने की करी घोषणा
  • जडौला गांव में किया डॉ. भीमराव अम्बेडकर भवन का शिलान्यास

मनोज वर्मा, Kaithal News:
हरियाणा के उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेश के 108 गांव ऐसे हैं,  जिनकी आबादी 10 हजार से अधिक है। ऐसे सभी गांवों में महाग्राम योजना से सीवरेज, पेयजल, पानी निकासी की समूचित व्यवस्था की जा रही है ताकि ग्रामीण आंचल में रहने वाले लोगों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो। वर्तमान पीढी को अमर शहीदों के बारे में जानकारी देने के लिए गांव के सरकारी स्कूलों का नामकरण संबंधित गांव के शहीदों के नाम पर किया जा रहा है ताकि गांव के बच्चों को उनके बारे में पूरी जानकारी मिल सके।

सरकारी स्कूल का नाम शहीद केहर सिंह

उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला रविवार को ढांड व गांव जडौला में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करने के दौरान बोल रहे थे। उन्होंने ग्राम वासियों द्वारा रखी गई मांग को पूरा करते हुए ढांड के सरकारी स्कूल का नाम गांव के शहीद केहर सिंह के नाम पर रखने की घोषणा की। अपने निर्धारित कार्यक्रम के दौरान गांव जडौला में उन्होंने डॉ. भीमराव अम्बेडकर भवन का शिलान्यास भी किया।

हर घर तिरंगा अभियान के तहत हर घर तिरंगा फहराए

उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने सरकार द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है, जिसके तहत हर घर तिरंगा अभियान के तहत सभी अपने-अपने घरों पर 13 से 15 अगस्त को तिरंगा फहराकर देश को आजादी दिलवाने वाले शहीदों के प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करते हुए उन्हें नमन करें। उन्होंने कहा कि पिछले सीजन के दौरान किसानों के खाते में 72 घंटे के अंदर उनकी फसल का भुगतान किया गया है।

इसके साथ-साथ आढ़त का भी भुगतान समय पर किया गया है। प्रदेश में 13 फसलों को एमएसपी पर खरीदा गया था। आने वाले सीजन में भी किसानों की सुविधा का पूरा ध्यान  रखा जाएगा और किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए इंतजार नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने शहीद उद्यम सिंह के शहीदी दिवस पर उन्हें नमन करते हुए कहा कि अनेकों महान शहीदों ने अपनी शहादत देकर देश वासियों को आजादी दिलवाई।  युवाओं को शहीदों से प्रेरणा लेकर देश सेवा का संकल्प लेना चाहिए। उन्होंने ग्राम वासियों द्वारा रखी गई सभी मांगों को पूरा करने का आश्वासन दिया।

प्रदेश का चहुंमुखी विकास 

अनेक संस्थाओं द्वारा उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला को पगड़ी, स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। जेजेपी प्रदेशाध्यक्ष निशान सिंह ने कहा कि शहीद उद्यम सिंह की शहादत एक मिसाल है कि उन्होंने एक जज्बे को मन में रख कर दुशमन के घर में जाकर बदला लिया था। उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला, मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ मिलकर प्रदेश का चहुंमुखी विकास कर रहे हैं।

जो-जो घोषणाएं सरकार द्वारा की गई थी, उन्हें एक-एक करके पूरा किया जा रहा है। हम सभी को विकास में भागीदार होकर अपना सकारात्मक योगदान देना चाहिए। गुहला के विधायक ईश्वर सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार हर वर्ग को साथ लेकर चल रही है। शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में एक समान सर्वांगिण विकास करवाया जा रहा है। उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला युवा हैं और युवाओं को साथ लेकर उनके भविष्य को संवारने की अनेकों योजनाएं बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि जहां गुहला विधानसभा मेरी कर्मभूमि है, वहीं पूंडरी क्षेत्र मेरी जन्म भूमि है।

इस अवसर पर मौजूद रहे

इस अवसर पर हरियाणा डेयरी विकास बोर्ड के चेयरमैन रणधीर सिंह, जेजेपी राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनंत राम तंवर, धूप सिंह माजरा, रणदीप कौल, ज्ञान सिंह गुर्जर, पूर्व विधायक मक्खन सिंह, प्रो. रणधीर, राजू पाई, हरदीप पाडला, पाला राम, प्रीतम कौलेखां, चंद्रभान दयौरा, मांगे राम ढुल, राजू जुलानी खेड़ा, कमलेश, नाथा राम, राजीव गुप्ता, बीरबल, बलवान कोटड़ा, निर्मल सिंह रसूलपुर, अवतार सीड़ा चीका, जगतार माजरी, शुभम गुप्ता, सोनू शर्मा, रीना खेड़ी, सुरेश राणा, राम कुमार, मंदीप पाडला, बलवान छोत, विक्रम म्योली, जोगीराम, दीपक निर्मल, कैप्टन बलजीत, आदि मौजूद रहे।

डॉ. भीमराव अम्बेडकर भवन में बच्चों के लिए हो कोचिंग की व्यवस्था

उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने गांव जडौला में बनने वाले डॉ. भीमराव अम्बेडकर भवन का शिलान्यास किया। शिलान्यास करने उपरांत आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि डॉ. भीमराव अम्बेडकर भवन में बच्चों के लिए कोचिंग की व्यवस्था करते हुए एक सैंटर बनाया जाए, जिसमें सेवा निवृत प्रोफेसर, अध्यापक बच्चों को ज्ञान दें। ऐसा करने से बच्चे भविष्य में होने वाली विभिन्न प्रतियोगिता पेपर में सफल हो सके और ऊंचे से ऊचा पद प्राप्त कर सके। डॉ. भीमराव अम्बेडकर के नाम से बनने वाला यह केंद्र दूसरे क्षेत्रों के लिए भी मिसाल बने।

शिक्षा से ऊचा पद प्राप्त 

शिक्षा एक ऐसा माध्यम से है, जिसके द्वारा कोई भी पद प्राप्त किया जा सकता है। पढ़ाई करने की कोई उम्र नहीं होती है, जिसका जीता जागता उदाहरण विधायक ईश्वर सिंह है, जो अब भी अध्यनरत रहते है। उन्होंने कहा कि इस भवन के साथ-साथ अन्य जो भी मांगे रखी गई हैं, उन पर जो भी राशि खर्च आएगी, उसे तुरंत मंजूर किया जाएगा।

विधायक ईश्वर सिंह ने गांव में पहुंचने तथा भवन व अन्य मांगे पूरी करने पर उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का आभार प्रकट किया। उन्होंने गांव वासियों से आह्वान किया कि अपने बच्चों को शिक्षा के अवसर प्रदान करें ताकि भविष्य में सभी कामयाब हो सकें। नशा जैसी सामाजिक कुरीति से युवा पीढी को बचाना है। डॉ. भीमराव अम्बेडकर भवन में लाईब्रेरी स्थापित की जाएगी ताकि बच्चों को पढऩे का अवसर पर मिल सके।

इस अवसर पर मौजूद

इस अवसर पर जेजेपी प्रदेशाध्यक्ष निशान सिंह, हरियाणा डेयरी विकास बोर्ड के चेयरमैन रणधीर सिंह, नगरपालिका चीका की चेयरपर्सन रेखा रानी, धूप सिंह माजरा, रणदीप कौल, राजू पाई, हरदीप पाडला, चंद्रभान दयौरा, शमशेर सिंह, मांगे राम, गुरमेल पुनिया, अमित मेहरा, चांदी राम, राजेश कुमार, राजेंद्र कुमार, सुखबीर सिंह आदि मौजूद रहे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular