Homeहरियाणाकैथलसरकारी जमीन पर नहीं होना चाहिए अवैध कब्जा

सरकारी जमीन पर नहीं होना चाहिए अवैध कब्जा

मनोज वर्मा, कैथल:
परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि सरकारी जमीन पर कहीं भी अवैध कब्जा नजर नहीं होना चाहिए। ऐसे लोग जिन्होंने सरकारी जमीनों पर कब्जा कर रखा है, उनके खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। जनता की शिकायतों का समाधान प्राथमिकता के आधार पर होना चाहिए। जिला कष्ट निवारण समिति में शिकायत पहुंचने से पहले ही उनका समाधान हो जाना चाहिए। हमारा मुख्य उद्देश्य जनता की सेवा है।

22 में से 19 शिकायतें मौके पर निपटी

परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा वीरवार को लघु सचिवालय के सभागार में आयोजित जिला कष्ट निवारण समिति की मासिक बैठक में एजैंडा अनुसार रखी गई शिकायतों की सुनवाई का निपटान कर रहे थे। मंत्री ने एजेंडा अनुसार रखी 22 शिकायतों में से 19 का मौके पर ही निपटारा कर दिया, जबकि अन्य तीन शिकायतों के निपटान हेतू संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अगली मीटिंग से पहले संबंधित प्रार्थियों की शिकायत का प्राथमिकता के आधार पर निपटारा करवाएं।

जमीन की गलत निशानदेही की समस्या

पेंडिंग रखी गई शिकायतों में पुरानी शिकायतों के तहत प्रार्थी शेर सिंह ने शिकायत की कि उनकी बस्ती में जमीन को लेकर निशानदेही सही नहीं हो रही है। इस विषय को लेकर मंत्री ने पूरी जानकारी ली। प्रार्थी ने कहा कि 3 बार निशानदेही की गई, लेकिन डीसी के आदेशों से की गई निशानदेही सही पाई गई। इस पर मंत्री ने कहा कि वे इस विषय को लेकर डीसी से समय लेकर मिल लें। मंत्री ने नई शिकायतों में शिकायत नंबर 2 में खेड़ी रायवाली निवासी कैलाश कौर ने उनके पति की आत्म हत्या के विषय में शिकायत की थी, जिस पर मंत्री ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे मामले की तह तक जाएं और प्रार्थी को संदर्भित विषय को लेकर की गई कार्रवाई बारे संतुष्ट करें।

एसपी बोले- चल रही है छानबीन

पुलिस अधीक्षक ने मंत्री को बताया कि इस मामले को लेकर पूरी छानबीन चल रही है और एसआईटी का गठन भी किया जा चुका है। तीसरी लंबित शिकायत में गांव कमालपुर निवासी साधु राम व अन्य ग्रामीणों ने गांव में श्मशान घाट की भूमि संबंधित शिकायत की थी, जिस पर मंत्री ने निर्देश दिए कि गांव में बैठकर आपसी मंत्रणा से इस विवाद को दूर किया जाए और मामले को अगली बैठक तक लंबित रखा गया।

जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक में निपटाए गए मामलों में कैथल निवासी सुशील कुमार ने वार्ड में मंजूर धनराशि से कम में किए गए विकास कार्यों की शिकायत की थी, जिस पर मंत्री ने नगर परिषद के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि पूरा काम क्यों नहीं हुआ, जबकि धनराशि शेष थी। उन्होंने निर्देश दिए कि बाकि बचे कार्यों को जल्द पूरा करें और मामले का मौके पर निपटा दिया गया। यह शिकायत पुरानी थी। एजैंडे में रखी गई नई शिकायतों में नंबर-1 पर गांव खुरड़ा निवासी ने अपनी बेटी के अपहरण बारे की गई शिकायत पर कार्रवाई करने की फरियाद लगाई थी।

ये लोग रहे मौजूद

इस मौके पर विधायक लीला राम, डीसी डॉ. संगीता तेतरवाल, पुलिस अधीक्षक मकसूद अहमद, एडीसी विरेंद्र सहरावत, एसडीएम नवीन कुमार, डीएमसी कुलधीर सिंह, सीटीएम गुलजार अहमद, डीडीपीओ कंवर दमन, तहसीलदार सुदेश मेहरा, बीडीपीओ रोजी, नरेंद्र सिंह, कश्कि मान, डीएसडब्ल्यूओ कुलदीप शर्मा, डीईओ शमशेर सिरोही, बलबीर चौहान, पूर्व विधायक फूल सिंह खेड़ी, कार्यकारी अभियंता केएस पठानिया, सतपाल सिंह, प्रशांत कुमार, बलराज सिंह कुंडू, मनीष कठवाड़, बलविंद्र सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें : राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान 18 सितंबर से

ये भी पढ़ें : आम आदमी पार्टी का हरियाणा में होगा नए संगठन का निर्माण

ये भी पढ़ें : करियर अवेयरनेस वर्कशॉप में किया जागरूक

ये भी पढ़ें : श्राद्धपक्ष और पितृपक्ष में भागवत सुनने से ही मोक्ष: प्रेम अगाधा

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular