Homeहरियाणाकैथलबेटियों को आत्मरक्षा और वाहन चलाने का निशुल्क प्रशिक्षण

बेटियों को आत्मरक्षा और वाहन चलाने का निशुल्क प्रशिक्षण

मनोज वर्मा कैथल:
महिला सशक्तीकरण के लिए निरंतर प्रयासरत महिला एवं बाल विकास विभाग के तहत हरियाणा महिला विकास निगम द्वारा प्रदेश में बेटियों को आत्मरक्षा और वाहन चलाने के लिए निशुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा।

22 अगस्त से करें आवेदन

इस योजना के पहले चरण में प्रदेश के पांच जिलों से पात्र बेटियों को दो अलग-अलग बैच में प्रशिक्षण दिया जाएगा, जिसके लिए 22 अगस्त तक आवेदन किए जा रहे हैं। महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री कमलेश ढांडा ने कहा कि बीते आठ साल के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल के मार्गदर्शन में हरियाणा में महिला सशक्तिकरण के लिए प्रभावी योजनाएं चलाई जा रही हैं। शिक्षा, खेल, स्वास्थ्य के साथ-साथ बेटियों को सामाजिक, आर्थिक स्तर पर मजबूत बनाने के संकल्प के साथ काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बेटियों को सुरक्षित वातावरण देने के लिए जहां प्रदेश सरकार कड़े कानून बनाने के साथ-साथ महिला सुरक्षा की चिंता करते हुए अलग-अलग विभागों के सामंजस्य से योजनाएं बनाकर काम कर रही है, वहीं अब बेटियों को आत्मरक्षा एवं वाहन चलाने का प्रशिक्षण देने का निर्णय लिया गया है।

जल्द होगी प्रशिक्षण की भी व्यवस्था

राज्यमंत्री कमलेश ढांडा ने कहा कि हरियाणा महिला विकास निगम के माध्यम से इस प्रशिक्षण की व्यवस्था की जा रही है। योजना के पहले चरण में प्रदेश की गरीबी रेखा से नीचे परिवार की बेटियों और महिलाओं के लिए कैथल के अशोक लेलैंड चालक प्रशिक्षण संस्थान तथा बहादुरगढ के मारूति सुजूकी प्रशिक्षण संस्थान में 21 दिन का चालक प्रशिक्षण और आत्मरक्षा प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस आवासीय प्रशिक्षण में पात्र बेटियों, महिलाओं को निशुल्क खान-पान व ठहरने की सुविधा दी जाएगी तथा उन्हें एक हजार रुपये वजीफा भी दिया जाएगा। राज्यमंत्री कमलेश ढांडा ने बताया कि पहले चरण में कैथल, झज्जर, रोहतक, जींद और पानीपत जिलों के 15-15 पात्र महिला उम्मीदवारों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके लिए इन जिलों के पात्र महिला उम्मीदवारों को 22 अगस्त तक आनलाइन माध्यम से हरियाणा महिला विकास निगम की ईमेल पर सत्यापित प्रति के तौर पर तथा दस्ती तौर पर जिला कार्यालयों में भेजे जा सकेंगे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular