Homeहरियाणाकैथलजिला में 1 लाख 1 हजार 120 बुजुर्ग ले रहे हैं वृद्धावस्था...

जिला में 1 लाख 1 हजार 120 बुजुर्ग ले रहे हैं वृद्धावस्था सक्वमान भत्ता पैंशन योजना का लाभ

पेंशन के रूप में प्रतिमाह दिए जा रहे हैं 25 सौ रुपये :- डीसी डॉ. संगीता तेतरवाल

मनोज वर्मा, कैथल:

हरियाणा सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के माध्यम से चलाई जा रही वृद्धावस्था सम्मान भत्ता पैंशन योजना का लाभ जिला के पात्र वृद्धजनों को मिल रहा है। इस योजना के तहत जिला के 1 लाख 1 हजार 120 वृद्धजन लाभ ले रहे हैं। यह पैंशन योजना वृद्धजनों के बुढ़ापे का सहारा साबित हो रही है। पैंशन योजना के माध्यम से संबंधित लाभार्थियों को हर माह 2500 रुपये की राशि बैंकों तथा डाकघरों के माध्यम से उपलब्ध करवाई जा रही है। इसके अलावा 66 हजार 586 व्यक्ति अन्य पैंशनों का लाभ ले रहे हैं। इस संदर्भ में बातचीत करते हुए डीसी डॉ. संगीता तेतरवाल ने बताया कि सरकार द्वारा प्रदेश के बुजुर्गों को सम्मान देने के लिए प्रदेशभर में वृद्धावस्था सम्मान भत्ता पेंशन योजना लागू की गई है। जिला में 1 लाख 1 हजार 120 बुजुर्गों को इस योजना का लाभ दिया जा रहा है, जिनमें बीसी कैटेगरी के 27 हजार 24, सामान्य कैटेगरी के 56 हजार 139 तथा एससी कैटेगरी के 17 हजार 957 लाभपात्र शामिल हैं।

वृद्धावस्था पैंशन में इस तरह हुआ इजाफा

डीसी डॉ. संगीता तेतरवाल ने बताया कि वृद्धावस्था सक्वमान भत्ता पैंशन योजना के तहत वर्ष 2013-14 में हरियाणा में 1000 रुपये पैंशन मिलती थी जिसे 2014-15 में 1200 रुपये, 2015-16 में 1400 रुपये, 2016-17 में 1600 रुपये, 2017-18 में 1800 रुपये, 2018-19 में 2000 रुपये, 2019-20 में 2250 रुपये और 2020-21 में 2500 रुपये किया गया है। हरियाणा प्रदेश में वर्तमान में बुजुर्गों को 2500 रुपये पैंशन दी जा रही है जो कि अन्य राज्यों की तुलना में सर्वाधिक है।

60 वर्ष की आयु पूरी होते ही अपने आप बन जाएगी वृद्धावस्था पैंशन

आजादी के अमृत महोत्सव में हरियाणा सरकार मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में ऐसी व्यवस्था करने जा रही है जिससे हरियाणा के बुजुर्गों को अब पैंशन के लिए कोई परेशानी नहीं होगी। पैंशन बनाने की प्रक्रिया को परिवार पहचान पत्र से जोड़ा जा रहा है, जो भी व्यक्ति 60 वर्ष की आयु पूरी कर लेगा और वह पैंशन लेने का पात्र होगा तो उसकी पैंशन अपने आप बन जाएगी।

जिला के 66 हजार 588 व्यञ्चित ले रहे हैं अन्य पैंशन योजनाओं का लाभ

जिला समाज कल्याण अधिकारी कुलदीप शर्मा ने बताया कि पैंशन योजनाओं के तहत वृद्घावस्था सक्वमान भîाा योजना के अतिरिञ्चत 66 हजार 588 अन्य लाभार्थी भी विभिन्न पैंशन योजनाओं के माध्यम से लाभ ले रहे हैं। उन्होंने बताया कि 8 हजार 299 दिव्यांग जिनमें 4405 सामान्य, 2107 बीसी तथा 1787 एससी कैटेगिरी से हैं। इसी प्रकार 4389 विधवा, जिनमें 9841 बीसी, 25263 सामान्य तथा 8793 एससी कैटेगिरी से हैं। लाडली सामाजिक सुरक्षा योजना के तहत 1736 लाभार्थी हैं, जिनमें 466 बीसी, 982 सामान्य तथा 288 एससी कैटेगिरी से हैं। उन्होंने बताया कि 6 बोने व्यक्ति, जिनमें 4 सामान्य तथा 2 एससी कैटेगिरी से हैं। इन सभी को 2500 रुपये प्रति माह पैंशन का लाभ दिया जा रहा है। जिला में 11849 निराश्रित बच्चों को 1600 रुपये प्रति माह पैंशन दी जा रही है, जिनमें 3043 बीसी, 5869 सामान्य तथा 2937 एससी कैटेगिरी के लाभार्थी शामिल हैं। इसी प्रकार ऐसे 801 दिव्यांगों को 1900 प्रतिमाह पैंशन दी जा रही हैं जो स्कूल नहीं जा सकते, जिनमें 242 बीसी, 368 सामान्य तथा 191 एससी कैटेगिरी से हैं।

ये भी पढ़ें : कार्तिकेय शर्मा की जीत को लेकर समस्त ब्राह्मण समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री का किया धन्यवाद

ये भी पढ़ें : खुल गया प्रगति मैदान सुरंग, पीएम मोदी ने किया टनल और अंडरपास का उद्घाटन

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular