Homeराज्यहरियाणाकैथल: समृद्ध जीवनशैली की धरोहर थे स्वामी विवेकानंद: राज्यमंत्री

कैथल: समृद्ध जीवनशैली की धरोहर थे स्वामी विवेकानंद: राज्यमंत्री

कैथल (मनोज वर्मा) महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री कमलेश ढांडा ने कहा कि स्वामी विवेकानंद मात्र एक व्यक्ति नहीं थे, अपितु एक समृद्ध जीवनशैली की धरोहर थे। उन्होंने राष्ट्र निर्माण की दिशा में युवाओं को जो दिशा और विचारधारा दी हैं, वह अकल्पनीय है। आज हमारे युवाओं के लिए जरूरी है कि वो समाज के प्रति अपने दायित्व को निभाने के लिए तत्पर हों। राज्यमंत्री कमलेश ढांडा रविवार को राजेंद्रा सेठ कालोनी परिसर स्थित अपने कैंप कार्यालय में ग्रामीण युवा मंडल बात्ता के प्रतिनिधिमंडल के मध्य स्वामी विवेकानंद की पुण्यतिथि पर पुष्प अर्पित कर रही थी। राज्यमंत्री कमलेश ढांडा ने कहा कि युग प्रवर्तक स्वामी विवेकानंद छूआछूत और जातिवाद को राष्ट्र एवं समाज को मजबूत बनाने में सबसे बडी बाधा मानते थे।

अपने जीवन को युवाओं में नई चेतना को जागृत करने में लगाने वाले स्वामी विवेकानंद चाहते थे कि युवा अपने चरित्र को जितना मजबूत बनाएगा, उतना ही उसका योगदान राष्ट्र निर्माण करने में होगा। युवाओं में दायित्व निवर्हन की भावना जागृत करने के साथ-साथ स्वामी विवेकानंद ने भारतीय संस्कृति, वेदांत दर्शन तथा गौरवशाली इतिहास का प्रचार-प्रसार विश्व भर में किया। उनके ओजस्वी व मंगलकारी विचारों से आमजन का कल्याण हुआ और वर्तमान दौर में भी उनकी विचारधारा प्रासंगिक बनी हुई है।

उन्होंने युवाओं से आह्वान किया कि देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं प्रदेश में मुख्यमंत्री निरंतर समाज उत्थान के लिए योजनाएं रूपी अभियान चला रहे हैं। ऐसे में युवाओं को जिम्मेदारी के साथ अपने आसपास के ऐसे लोगों की मदद करनी चाहिए, जो इन योजनाओं के लाभ के दायरे में है। राज्यमंत्री कमलेश ढांडा ने कहा कि जिस दिन युवा अपनी समाज के प्रति जिम्मेदारी को गंभीरता से लेने लगेंगे, उस दिन हर स्तर पर राष्ट्र एवं समाज मजबूत होना सुनिश्चित होगा। इस मौके पर नरेश, राजा, शिबा, सन्दीप राणा, महावीर, नवीन, विशाल शर्मा, सोनिया राणा, दीपिका, पूजा, रजत, सूरजभान मौजूद रहे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular