Homeराज्यहरियाणाकैथल : कोरोना की संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर वीसी के माध्यम...

कैथल : कोरोना की संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर वीसी के माध्यम से की समीक्षा बैठक  

मनोज वर्मा, कैथल :
डीसी प्रदीप दहिया ने कहा कि हैल्थ वर्कर्स व फ्रंट लाईन वर्कर्स जल्द से जल्द कोरोना रोधी वैक्सीनेश की दोनों डोज लगवाएं। कोरोना की संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर हम सभी को कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए अलर्ट होना होगा। सभी सरकार द्वारा जारी हिदायतों की पालना करें और आवश्यक सावधानियां बरतें, तभी हम जिले को कोरोना से मुक्त कर सकते हैं। उपायुक्त प्रदीप दहिया लघु सचिवालय स्थित कांफ्रैंस हाल में कोरोना के संदर्भ में बैठक लेकर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे। इससे पहले स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा ने सभी उपायुक्तों को कोरोना को लेकर आवश्यक निर्देश दिए। उपायुक्त ने सिविल सर्जन को कहा कि हैल्थ केयर वर्कर्स की अब तक पहली डोज 81 प्रतिशत तथा दूसरी डोज 71 प्रतिशत हुई है। वे हैल्थ वर्कर्स की कोरोना रोधी वैक्सीनेशन की दोनों डोज जल्द लगवाना सुनिश्चित करें। अगले 15 दिनों में हैल्थ केयर वर्कर्स व फ्रंट लाईन वर्कर्स के टीकाकरण की रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग को भिजवाएं।

सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर कोरोना रोधी टीकाकरण किए जा रहे हैं। कोविड टैस्ट की गति को तेज करें और इसमें कोई भी लापरवाही न बरतें। उन्होंने सभी निजी अस्पतालों में आक्सीजन को लेकर की गई तैयारियों की रिपोर्ट भी तैयार करने के निर्देश दिए। कलायत में बन रही आरटी पीसीआर लैब को जल्द तैयार करवाया जाए। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट अनुसार बताया कि बुधवार को एक नया केस सामने आया है। अब जिले में कोरोना के 8 एक्टिव केस बचे हैं। जिले में 11 हजार 211 कोरोना के मरीजों में से 10 हजार 859 मरीज ठीक हो चुके हैं। जिले का रिकवरी रेट 96.8 प्रतिशत है। पॉजिटिव रेट 3.59 प्रतिशत है तथा डेथ रेट 3 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि जिले में कुल 8 कोरोना के एक्टीव केस रह चुके हैं, जिनमें 8 मरीज होम आईसोलेशन में  है। ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में होम आईसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों को मैडिकल किट, आयुर्वेदिक दवाईयों की होम डिलवरी की जा रही है। होम आईसोलेशन में रह रहे कुल 9490 व्यक्तियों में से 9482 ठीक हो चुके हैं। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक लोकेंद्र सिंह, डीडीपीओ जसविंद्र सिंह, सीएमओ जयंत आहूजा, पीएमओ शैलेंद्र शैली ममगाईं, डीआईपीआरओ सोनिया, प्लानिंग अधिकारी बिजेंद्र कुमार, डा. नीरज मंगला के अलावा अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।  

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular