Homeहरियाणाजींदकार सवारों ने प्रोपर्टी डीलर का किया अपहरण

कार सवारों ने प्रोपर्टी डीलर का किया अपहरण

रिटायर्ड पुलिसकर्मी समेत कुछ अन्य लोगों पर लगें अपहरण के आरोप

आज समाज डिजिटल,जींद:

रानी तालाब पर रविवार सुबह असलहा के बल पर कार सवारों ने प्रोपर्टी डीलर का अपहरण कर लिया। आसपास लोगों ने अपहरणकतार्ओं को रोकने का प्रयास किया तो उन्हें भी असलहा दिखा कर धमकाया गया। जिन पर आरोप लगें है, उनमें रिटायर्ड पुलिसकर्मी भी शामिल है। पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर रिटायर्ड पुलिसकर्मी समेत दो लोगों को नामजद कर दर्जनभर अन्य के खिलाफ अपहरण, शस्त्र अधिनियम समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

आरोपियों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही पुलिस

पुलिस की दो टीमें अपहरण करने वालों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। प्रोपर्टी डीलर की सुरक्षित बरामदगी की मांग को लेकर परिजनों ने एसपी आवास पर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। बाद में डीएसपी नरसिंह परिजनों से मिले और कारवाई करने तथा सुरक्षित बरमादगी का आश्वासन देकर परिजनों को शांत किया। मामले को रुपयों के लेन-देन से जोड़ कर देखा जा रहा है।

असलहा के बल पर दिया वारदात को अंजाम

कौशिक नगर निवासी कपिल (40) पेशे से प्रोपट्री डीलर का कार्य करता है। रविवार सुबह वह स्कूटी पर सवार होकर रेलवे रोड पर जा रहा था। रानी तालाब के निकट दो गाड़ियों में सवार होकर पहुंचे असलहाधारी लोगों ने कपिल को उठाकर गाडी में डाल लिया और उसकी स्कूटी को भी साथ ले गए।

जब रानी तालाब पर मौजूद लोगों ने अपहरण करने वालों को रोकने की कोशिश की तो उन्हें भी असलहा दिखा कर धमकाया गया। प्रोपट्री डीलर के परिजनों ने अपहरण की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी लेकिन तब तक अपहरणकर्ता प्रोपट्री डीलर को लेकर फरार हो चुके थे। जिन पर आरोप लगें है, उन में रिटायर्ड पुलिसकर्मी फूला, उसका भाई रणबीर तथा कुछ अन्य लोग हैं। कपिल के परिजनों की शिकायत पर शहर थाना पुलिस ने रिटायर्ड पुलिसकर्मी फूला, उसके भाई रणबीर को नामजद कर मामला दर्ज कर लिया है।

एसपी आवास परिजनों ने की नारेबाजी

कपिल के अपहरण के छह घंटे बीत जाने के बाद परिजन एसपी आवास पर पहुंचे। कार्यवश एसपी आवास पर मौजूद नहीं थे और बाहर गए हुए थे। परिजनों ने आरोप लगाया कि पुलिस आरोपितों से मिली हुई है। अपहरण को छह घंटे बीत चुके हैं, बावजूद इसके पुलिस कपिल को बरामद नहीं कर पाई है। मां कैलाशो तथा पत्नी पूनम ने कपिल की जान को खतरा बताया। खफा परिजनों ने सुरक्षित बरामदगी न होने पर आत्महत्या तक की धमकी दे डाली। इस दौरान परिजनों ने पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

कई दिनों से परेशान कर रहे थे आरोपी

परिजनों ने बताया कपिल के पिता के सामने किसी से रुपयों के लेनदेन की बात हुई थी। उनके परिवार का उससे कोई लेना देना नहीं था। कपिल के पिता की मौत को अढाई वर्ष बीत चुके हंै। अब फूला व उसके साथी कपिल को परेशान कर रहे थे। शहर थाना प्रभारी विरेंद्र ने बताया कि परिजनों की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस की दो टीमें संभावित अपहरणकतार्ओं की ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। शीघ्र ही अपहरणकतार्ओं को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

ये भी पढ़ें : प्रदर्शनी में गुरु नानक देव जी से बाबा बंदा बहादुर जी तक का इतिहास
ये भी पढ़ें : हरियाणा-पंजाब सहित कई राज्यों में क्यों हुई बिजली गुल, गहराएगा संकट, ये हैं कारण
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular