Homeराज्यहरियाणासमालखा : आत्मनिर्भर भारत के मूल में पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्ररेणा

समालखा : आत्मनिर्भर भारत के मूल में पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्ररेणा

अशोक शर्मा, समालखा :
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वपन, आत्मनिर्भर भारत के मूल में पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्ररेणा है,वो आत्मनिर्भर भारत के प्रेरणा पुंज है। आर्थिक लोकतंत्र का सिद्धांत जो दिया गया है। वो इसको पुष्ट करता है,ये शब्द भाजपा दस्तावे जीकरण विभाग के प्रदेश सह-प्रमुख सौरभ गुप्ता ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर बूथ के कार्यकतार्ओं के साथ पंडित दीनदयाल के चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित करने के उपरान्त कार्यकर्ताओ को सम्बोधित करते हुऐ कही। सौरभ गुप्ता ने कहा की आज हमारी केंद्र सरकार व राज्य सरकार अंत्योदय के सिद्धांत पर अंतिम पंक्ति मे खडे व्यक्ति के विकास को ध्यान मे रखकर नीतियों व कार्यक्रम बना व कार्यन्वित कर रही है। पांचजन्य व राष्ट्र धर्म का प्रकाशन व सम्पादन से उनकी प्रखर लेखनी का एहसास होता है। भाजपा जिला कार्यकारिणी सदस्य संदीप गुप्ता ने कहा कि हम सभी कार्यकर्ता ये प्रण ले कि हम पूज्य पंडित दीनदयाल उपाध्याय के राष्ट्र वाद व भारतीयकरण के रास्ते पर चल कर राष्ट्र के गौरव को बढाए। इस दौरान भाजपा मण्डल महामंत्री नरेश बैनिवाल, जयभगवान, नंदकिशोर, महिंद्रा व सुरेन्द्र मिश्रा आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।
/

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments