Homeराज्यहरियाणाहरियाणा में टूटा गर्मी का रिकॉर्ड, जाने कब है बारिश की उम्मीद

हरियाणा में टूटा गर्मी का रिकॉर्ड, जाने कब है बारिश की उम्मीद

*12 व 15 अप्रैल को दो पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की संभाावना *13 से 17 अप्रैल तक राहत

आज समाज डिजिटल, चंडीगढ़:

हरियाणा में दिन-ब-दिन गर्मी बढ़ती जा रही है। प्रदेश में सबसे अधिक पारा फरीदाबाद जैसे शहर में 45 डिग्री पार कर गया। हर प्रदेशवासी राहत के लिए आसमां की निहार रहा है। भीषण गर्मी का प्रकोप जारी रहा और सोमवार को अधिकतम तापमान 45/3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। Haryana weather 12 April

फरीदाबाद के बोपानी में दर्ज किया गया 45/3 डिग्री सेल्सियस तापमान इस सीजन में सर्वाधिक है। हिसार के बालसमंद में अधिकतम तापमान 45/2 डिग्री सेल्सियस रहा, जो प्रदेश में दूसरा सर्वाधिक तापमान है। इसके अलावा सिरसा में 44/9 डिग्री, गुरुग्राम और हिसार शहर में अधिकतम तापमान 44/2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पंचकूला में यह 40/2 डिग्री और अंबाला में 41/2 डिग्री सेल्सियस रहा। यदि इस तापमान पर नजर दौड़ाएं तो अंबाला या उसके आसपास के जिलों में अभी राहत देखी जा सकती है।

Read Also : हरियाणा और पंजाब की संयुक्त राजधानी रहेगा चंडीगढ़: मनोहर 

पश्चिमी विक्षोभ लाएगा सभी के लिए राहत

Haryana Weather

मौसम विभाग की मानें तो हरियाणा में मौसम(weather 12 April) का मिजाज बदलने वाला है। 12 व 15 अप्रैल को दो पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की संभाावना जताई है। जो 13 से 17 अप्रैल तक राहत प्रदान कर सकते हैं। पहाड़ियों पर पश्चिमी विक्षोभ और उत्तरी मैदानों पर प्री-मानसून गतिविधियां देंगी जो गर्म मौसम से कुछ राहत देंगे। 13 अप्रैल से पश्चिमी हिमालय में बारिश और गरज के साथ मुख्य गतिविधियां शुरू होंगी।

13 से 17 अप्रैल के बीच पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में गरज के साथ बारिश, धूल भरी आंधी और हल्की गरज के साथ छिटपुट प्री-मानसून गतिविधियां हो सकती हैं। उस अवधि के दौरान उपरोक्त क्षेत्रों से गर्मी की लहर कम हो सकती है।

अप्रैल के पहले 10 दिन रहे गर्म

Haryana Weather
Haryana Weather

अप्रैल के पहले दस दिनों में भी कोई महत्वपूर्ण पश्चिमी विक्षोभ नहीं देखा गया है। पश्चिमी और उत्तर-पश्चिम दिशा से शुष्क और गर्म हवाएं उत्तरी मैदानी इलाकों में जारी रहीं, जिससे कई स्थानों पर लू की स्थिति बनी रही। हरियाणा के कुछ हिस्सों में 12 अप्रैल तक तेज धूप जारी रह सकती है। यह उत्तरी मैदानी इलाकों को प्रभावित करने वाली गर्मी की लहरों के सबसे लंबे दौरों में से एक हो सकता है।

Read Also : अंग्रेजी शराब और कड़वी, 150 रुपये प्रति बोतल बढ़ाए, देसी सस्ती

Read Also : बंदिश खत्म! सुबह से रात्रि इतने बजे तक शिमला में खुलेंगी दुकानें

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular