Homeराज्यहरियाणारोहतक : महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय में मनाई गांधी जयंती

रोहतक : महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय में मनाई गांधी जयंती

संजीव कुमार, रोहतक :
स्वच्छता के साथ-साथ पर्यावरण जागरूकता तथा जल सरंक्षण को विश्वविद्यालय का मिशन बनाने तथा स्वच्छ भारत-स्वस्थ भारत’का संदेश समाज के कोने-कोने तक पहुँचाने के संकल्प के साथ आज महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय में महात्मा गांधी जयंती तथा लाल बहादुर शास्त्री जयंती मनाई गई। आजादी का अमृतोत्सव श्रृंखला के अंतर्गत आयोजित इस विशेष कार्यक्रम में महात्मा गांधी के प्रिय भजनों का भजन कार्यक्रम तथा सफाई कर्मियों का सम्मान विशेष आकर्षण रहे। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि लोकपाल (भारत) के सदस्य महेन्द्र सिंह ने विश्वविद्यालय को स्वच्छता अभियान तथा हरित कैंपस के लिए हार्दिक बधाई दी। उन्होंने कहा कि महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय का परिसर न केवल भारत में बल्कि पूरे विश्व के क्लीन-ग्रीन कैंपस में शामिल है। मुख्य अतिथि महेन्द्र सिंह ने कहा कि पर्यावरण की चुनौतियाँ भविष्य में गंभीर रूप धारण कर सकती हैं। विशेष रूप से जल संकट तथा जलवायु परिवर्तन की समस्याएँ पूरे विश्व के लिए चुनौती बनेगी। ऐसे में महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय को जल संरक्षण, वायू प्रदूषण रोकथाम समेत पर्यावरणीय मुद्दों पर जन-जागरूकता के लिए विशेष जागरूकता अभियान चलाने होंगे, इस संबंध में पर्यावरण संरक्षण का संदेश शहर-शहर, गाँव-गाँव तक पहुँचाना होगा।
मदवि कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय अपनी सामाजिक-सामुदायिक जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए स्वच्छता मिशन, जल संरक्षण मिशन, पर्यावरण जागरूकता मिशन को जन अभियान बनाने में अपना योगदान देगा। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय समुदाय ने सप्ताह भर चले स्वच्छता पर्व में बढ़चढ़ कर भाग लिया। विशेष रूप से सफाई कर्मियों के योगदान की कुलपति ने सराहना की। कुलपति ने महात्मा गांधी तथा लाल बहादुर शास्त्री को उनकी जयंती पर नमन किया।
हरियाणा के पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर ने महान विभूति महात्मा गांधी तथा लाल बहादुर शास्त्री के राष्ट्रीय योगदान को श्रद्धापूर्वक याद किया। उन्होंने कहा कि भारतवर्ष इन महापुरुषों का हमेशा ऋणी रहेगा। कार्यक्रम में प्रतिष्ठित चिकित्सक तथा ह्दय रोग विशेषज्ञ डा. आदित्य बत्रा को स्वास्थ्य के क्षेत्र में उनके द्वारा दिए जा रहे योगदान के लिए सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के सफाई कर्मियों तथा अन्य जरूरी सुविधा कर्मियों को विशेष रूप से सम्मानित किया गया। टैगोर सभागार में आयोजित भजन कार्यक्रम में प्रतिष्ठित संगीतज्ञ भूपेन्द्र मल्होत्रा, दिनकर शर्मा, कैलाशचन्द्र वर्मा तथा डा. हुक्म चंद ने गांधी जी के प्रिय भजनों की शानदार प्रस्तुति देकर कार्यक्रम को दिव्यता प्रदान की। टैगोर सभागार में कार्यक्रम संचालन निदेशक युवा कल्याण डा. जगबीर राठी ने किया। स्वागत भाषण डीन, स्टूडेंट वेल्फेयर प्रो. राजकुमार ने तथा धन्यवाद भाषण कुलसचिव प्रो. गुलशन लाल तनेजा ने दिया। कार्यक्रम में विश्वविद्यालय की प्रथम महिला डा. शरणजीत कौर तथा रोहतक के प्रतिष्ठित चिकित्सक डा. आदित्य बतरा बतौर विशिष्ट अतिथि उपस्थित रहे।
विश्वविद्यालय के डीन, एकेडमिक एफेयरस प्रो. नवरतन शर्मा, डीन (सीडीसी) प्रो. ए.एस. मान, चीफ वार्डन (बॉयज) प्रो. रणदीप राणा, चीफ वार्डन (गर्ल्ज) प्रो. संजू नंदा, डीन (लाइफ साइंसेज) प्रो. जे.पी. यादव, एनएसएस कार्यक्रम समन्वयक प्रो. रणबीर सिंह गुलिया, वाईआरसी कार्यक्रम समन्वयक डा. अंजू धिमान, प्रोफेसर (इंचार्ज (बागवानी) प्रो. विनीता हुड्डा, निदेशक (खेल) डा. डी.एस ढुल समेत विश्वविद्यालय के विभागाध्यक्ष, प्राध्यापक, अन्य अधिकारी गण कार्यक्रम में उपस्थित रहे। विश्वविद्यालय तथा संबद्ध महाविद्यालयों के एनएसएस वालंटियरस, वाईआरसी वालंटियरस, एनसीसी कैडेट्स समेत संबंधित कार्यक्रम अधिकारी तथा काउंसलर्स कार्यक्रम में शामिल हुए। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आयोजित गांधी जयंती-शास्त्री जयंती कार्यक्रम विश्वविद्यालय की प्रगति यात्रा में विशिष्ट छाप छोड़ गया।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular