Homeराज्यहरियाणाभिवानी : सैकड़ों ट्रैक्टरों, मोटर साईकिलों एवं पैदल जत्थों के साथ निकाली...

भिवानी : सैकड़ों ट्रैक्टरों, मोटर साईकिलों एवं पैदल जत्थों के साथ निकाली किसान तिरंगा यात्रा

पंकज सोनी, भिवानी :
संयुक्त किसान मोर्चा के आहवान पर भिवानी व बवानीखेड़ा तहसील के सभी किसानों ने अपने साधनों पर व अपने हाथों में तिरंगा झंडा व साथ में किसान आंदोलन के झण्डों को लेकर शहीदे आजम भगत सिंह चौक से आरंभ होकर सभी  शहीद स्मारकों एवं महापुरूषों को सम्मान देते हुए महम गेट, रोहतक गेट, दादरी गेट, हालुवास गेट, दिनोद गेट, घंटाघर, हांसी गेट होते हुए चौ. छाजूराम चौक पर सम्पन्न हुई। यात्रा का नेतृत्व सर्वजातिय जाटू खाप 84 व अन्य किसान संगठनों ने किया। तिरंगा यात्रा में खाप 84 के गांव मित्ताथल, धनाना, तालु, जताई, सुखपुरा, मुंढाल, कालुवास, नाथुवास, चांग, बड़ेसरा, प्रेमनगर, कुंगड़, सिवाड़ा, खेड़ी दौलतपुर, पपोसा, रोहनात, बड़सी, अलखपुरा, जीताखेड़ी, बोहल, जमालपुर, पुर, मंढाणा आदि के साथ बामला व नीमड़ीवाली गांवों के किसानों  ने अपनी भागीदारी दिखाई। यात्रा में महिलाओं एवं यूथ किसानों ने बड़ी संख्या भाग लिया। यात्रा की शुरूआत सर्वजातिय जाटू खाप 84 के कार्यवाहक प्रधान रोहताश पहलवान, कुलदीप धनाना, किसान सभा के कामरेड ओमप्रकाश, कितलाना टोल से गंगाराम श्योराण, संदीप सिवाच, अजीत घणघस, सुरेन्द्र पहलवान, राजेश बूरा आदि ने भगत सिंह की प्रतिमा को माल्यार्पण करे की। सभी ने कहा कि आज देश की आजादी के लिए शहीद हुए वीर जवानों को नमन करने का दिन है। आज हम किसान आंदोलन में शहीद हुए अपने शहीद किसान साथियों के अधूरे सपनों को पूरा करने का संकल्प लेते हैं। आज देश में एक और क्रान्ति की जरूरत है। वर्तमान सरकार द्वारा देश के पूंजीपतियों के हाथों में बेचने से रोक सकती है। एक क्रान्ति जो देश के किसान, मजदूर, कर्मचारी का अस्तित्व बचा सकती है। तिरंगा यात्रा को सफल बनाने के लिए अनेक युवाओं व महिलाओं ने भाग लिया।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular