Homeहरियाणागुरुग्राम12वीं पास थे डॉक्टर करा देते थे गर्भपात, अब काबू Fake Doctors...

12वीं पास थे डॉक्टर करा देते थे गर्भपात, अब काबू Fake Doctors Selling Pregnancy Kit in Gurugram

Fake Doctors Selling Pregnancy Kit in Gurugram 12वीं पास थे डॉक्टर करा देते थे गर्भपात, अब काबू

आज समाज डिजिटल, गुरुग्राम:

Fake Doctors Selling Pregnancy Kit in Gurugram :  शहर में कुछ 12वीं पास युवक डॉक्टर बनकर लोगों को दवाएं दे रहे हैं। (Fake Doctors Selling Pregnancy Kit in Gurugram) ये युवक मेडिकल स्टोर पर रहते हैं और लोगों से परेशानी पूछकर उन्हें दवा देते रहते हैं। विभाग को इसकी सूचना मिली कि बादशाहपुर इलाके में दो मेडिकल स्टोर पर ये लोग मौजूद हैं और लोगों को दवाएं दे रहे हैं। इस पर दो दवा दुकानों पर छापा मारा गया। यहां से दो लोगों को गिरफ्तार किया, जिनके पास से गर्भपात के एमटीपी किट भी मौजूद थी, जो लोगों को बेची जा रही थी। साथ ही उसको इस्तेमाल करने का तरीका भी बता रहे थे। पकड़े गए दोनों ही लोग 12वीं पास निकले। अब बादशाहपुर थाने में दो अलग अलग एफआईआर दर्ज की गई हैं जिसके बाद इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।

600 रुपये में मिलती थी ये किट

सोहना रोड के पास स्थित मुस्कान मेडिकल स्टोर पर ऐसे लोगों की शिकायत मिली थी। जिसके बाद सीएमओ ने एक टीम बनाई और इसके लिए एक गर्भवती महिला को भी साथ लिया। महिला को पांच सौ व सौ रुपये का नोट दिया गया जिसका नंबर पहले ही नोट कर लिया गया था। इसके बाद महिला दुकान पर पहुंची और गर्भपात करवाने की बात कही।Fake Doctors Selling Pregnancy Kit in Gurugram)  इस पर खालिद नामक युवक ने उससे 6 सौ रुपये लेकर गर्भपात करवाने का किट दे दिया। साथ ही महिला को किट को यूज करने का तरीका भी समझाया।

तीन साल से चल रहा था धंधा

महिला का इशारा मिलने पर टीम वहां पहुंची और उससे नोट लेकर जांच की। साथ ही गर्भपात की किट भी बरामद की गई। टीम ने जब उसकी योग्यता पूछी तो उसने बताया कि वो 12वीं पास है और पिछले 3 सालों से मेडिकल स्टोर पर दवाएं बेचने का काम कर रहा है। मेडिकल स्टोर का रजिस्टर्ड फार्मा?सिस्ट मोहम्मद रफीक बताया गया, जो स्टोर पर मौजूद नहीं था। (Fake Doctors Selling Pregnancy Kit in Gurugram)

यहां 800 रुपये में मिल रही थी किट

ऐसा ही एक और मामला सामने आया, जिसमें फाजिलपुर गांव स्थित दिव्या मेडिकोज पर अवैध तौर पर 800 रुपये में मेडिकल किट बेची जा रही थी। यहां भी टीम ने वही तरीका अपनाया और आरोपी संदीप कुमार जाल में फंस गया। संदीप कुमार ने भी बताया कि वो 12वीं पास ही है। वहीं फॉर्मासिस्ट लाइसेंस एक महिला के नाम पर था। जांच के दौरान ये पता चला कि सोहना का राहुल उसे ये किट देता है। यहां पर तीन लोगों के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज करवाया गया।

SHARE
Mohit Sainihttps://indianews.in/author/mohit-saini/
Humanity Is the Best Religion In The Word
RELATED ARTICLES

Most Popular