Homeराज्यहरियाणाकरनाल-यमुनानगर रेललाइन को मंजूरी मिलने से जिलावासी खुश: बोले थैक्यू सी.एम साहब...

करनाल-यमुनानगर रेललाइन को मंजूरी मिलने से जिलावासी खुश: बोले थैक्यू सी.एम साहब  

प्रवीण वालिया, करनाल:
जिला के लोगों को हरियाणा सरकार ने तोहफा दिया है। लंबे समय से जिला के लोगों की मांग अब पूरी हो गई है। जिससे लोगों में खुशी की लहर है। बता दें कि करनाल यमुनानगर के लोग कई सालों से मांग कर रहे थे की इस रूट पर रेल सेवा शुरू की जाए। हरियाणा सरकार ने अब इस परियोजना को मंजूरी दे दी है। अब करनाल-यमुनानगर के लोगों के लिए सफर आसान हो जाएगा और किसी प्रकार की परेशानी भी न होगी। सरकार द्वारा इस परियोजना को हरी झंडी देने के बाद से लोगों ने सीएम मनोहर लाल का अभार जताया है। दोनों जिलों के बीच यह सेवा शुरू होने से जहां व्यापार को गति मिलेगी वहीं आने जाने में लोगों को सुविधा होगी। बता दें कि सितम्बर 2019 को इस संबंध में रेल मंत्रालय को मसौदा भेजा गया था।

मंत्रालय ने इस बारे कुछ सुझाव दिए थे। इन सभी सुझावों पर अमल करते हुए और लोगों की मांग को देखते हुए हरियाणा सरकार ने डीपीआर को मंजूरी दे दी है। इससे हरियाणा के लोग काफी खुश हैं। बता दें कि 883.78 करोड़ रुपए की लागत से बने वाली यह परियोजना लगभग चार साल में पूरी हो जाएगी। प्रस्तावित करनाल-यमुनानगर नई रेल लाइन के बनने के बाद से लोगों के लिए सफर भी आरामदायक हो जाएगा। इस बारे कुछ लोगों से संवाददाता ने बातचीत की। प्रस्तुत हैं बातचीत के अंश।

युवा संदीप पोपली ने कहा कि करनाल-यमुनानगर रेल लाइन के बनने के बाद से लोगों को आने जाने में काफी सुविधा हो जाएगी। उन्होंने कहा कि सरकार ने यह मंजूरी देकर हरियाणा के लोगों को तोहफा दिया है। उन्होंने कहा कि यह मांग लोगों की काफी अर्से से थी। लेकिन अब यह मांग पूरी हुई है, जिससे लोग मनोहर लाल सरकार के आभारी हैं।  सीनीयर सिटीजन राम प्रकाश सुखीजा ने कहा कि इस मार्ग पर रेल के चलने के बाद लोगों को काफी फायदा होगा। अंबाला छावनी के रास्ते करनाल से यमुनानगर तक मौजूदा रेल मार्ग से दूरी 121 किलोमीटर है। करनाल-यमुनानगर के बीच सड़क मार्ग से दूरी केवल 67 किलोमीटर है। इस तरह से इस रेल लाइन के बिछने से दूरी काफी कम हो जाएगी और लोग सुगमता से सफर कर सकेंगे।

संजीव मल्होत्रा व राजेन्द्र वधवा ने कहा कि कहा कि वे हरियाणा सरकार व सीएम मनोहर लाल के विशेष आभारी हैं जिन्होंने इस परियोजना को मंजूरी देकर लोगों को सुविधा प्रदान की है। उन्होंने कहा कि भले ही इस परियोजना को कार्यान्वित होने में चार साल लगेंगे लेकिन इसके बाद से हरियाणा के लोगों को यात्रा करने की एक अच्छी सुविधा मिल जाएगी। इस रूट पर लोगों का सफर भी आसान हो जाएगा और लोग इस सुविधा का बेहतर लाभ उठा पाएंगे। यश अरोड़ा ने कहा कि कहा कि सचमुच जिला के लोगों के लिए किसी तोहफे से कम नहीं। बल्कि पूरे हरियाणा के लोगों के लिए खुशखबरी है। लोग तो इस रूट कर रेल लाईन की बिछाने की मांग काफी सालों से कर रहे थे लेकिन आज लोगों की मांग पूरी होने के बाद से लोग खुशी का इजहार कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कोई भी परिचोजना हो उसको कार्यान्वित होने में वक्त तो लगता ही है। क्योंकि इममें कई पहलू व पेचीदगियां होती हैं। सर्वे करने के बाद व विशेषज्ञ अधिकारियों के सलाह मंंत्रणा करने के बाद ही निर्णय लेना पड़ता है। मनोहर सरकार ने यह मंजूरी देकर यह बता दिया है कि सरकार प्रदेश में विकास के नये आयाम स्थापित करना चाहती है। पंकज जैन ने कहा कि करनाल से यमुनानगर तक सफर करना अब आसान हो जाएगा। लोगों के लिए यह बड़ी राहत व सुकून की बात है। इससे अब इंद्री लाडवा और रादौर जैसे ग्रामीण इलाकों के लोग भी इस सुविधाजनक रेल यात्रा का लाभ ले पाएंगे। इस इलाके से व्यापारिक गतिविधियों में भी तेजी आएगी।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular