Homeराज्यहरियाणाकैथल के एक गुरूद्वारे में गद्दी को लेकर हुआ विवाद, चली गोलियां,...

कैथल के एक गुरूद्वारे में गद्दी को लेकर हुआ विवाद, चली गोलियां, आधा दर्जन लोग घायल

मनोज वर्मा, कैथल:
कैथल के डोगरा गेट के समीप बने एक गुरूद्वारे में गद्दी को लेकर हुए विवाद में गोलियां चली हैं। जिसमें करीब आधा दर्जन लोग बुरी तरह से घायल हो गए। गुरूद्वारे में आए श्रद्वालुओं ने बताया कि आज बाद दोपहर हम लोग दिवान साहिब में बैठे थे। हमें सूचना दी गई की गुरूद्वारे में बने एक कमरे में कुछ लोग गैर कानूनी कार्य करते हैं। वहां पर नशा करते हैं व कई अनैतिक कार्य करते हैं। जिन्हें समझाने के लिए संगत की महिलाएं अंदर गई तो, वहां बैठे लोगों ने उन पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिए। आरोप है कि एक व्यक्ति पिछले काफी अर्से से यहां पर कब्जा करना चाहता है। जिसे कई बार समझाया भी गया है। मगर बाबा महेन्द्र ङ्क्षसह ने दिल्ली वालों को गद्दी दे दी गई थी। जिस बाद से ये लोग खफा चल रहे थे। इसी के चलते उन लोगों ने अपने एक कमरे को ताला लगा रखा है। वे जब चाहे आते हैं और चले जाते हैं। महिलाओं पर पत्थर बरसाने की वारदात को बाद दोनों पक्ष आमने सामने हो गए। आरोप है कि अंदर बैठे युवकों ने बाहर संगत पर गोलियां बरसानी शुरू कर दी तथा उन पर लाठियों व गंडासियों से हमला कर दिया। बाहर की संगत निहत्थे थी। जिस कारण उन्हें चोटें लगी हैं। जिससे करीब आधा दर्जन लोग घायल हो गए। घायलों में एक युवक को पेट में गोली लगी है, जोकि बताया गया है कि गोली आर पार हो गई है। एक युवक की बाजू में गोली लगी है तथा एक व्यक्ति की टांग पर गोली लगी है। एक व्यक्ति को बाजू में छर्रे भी लगे हैं। मौके पर उपस्थित श्रद्वालु ने बताया कि निकटवर्ती गांव के एक पूर्व सरपंच व उसके पुत्र ने अपने साथियों के साथ मिलकर यहां पर गोलियां चलाई हैं। ज्ञात रहे कि बाबा महेन्द्र सिंह ने दिल्ली वालों को यहां पर गद्दी नशीन बनाया हुआ था। जो व्यक्ति यहां पर गद्दी नशीन हैं उनसे उन्हें शिकायत है जोकि वो गद्दी पर काबिज होना चाहते हैं।
क्या कहती है पुलिस
जब इस विषय में मौके पर पहुंचे डी एस पी विवेक चौधरी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि हमें सूचना मिली थी कि यहां पर गोली चली है। जिसके पश्चात हम यहां पर पहुंचे हैं। हमने चली हुई गोलियों के खोल बरामद कर लिए हैं तथा मौके पर कुछ लोगों को पूछताछ के लिए राऊंड अप भी किया है। पुलिस को कुछ असला भी मौके से बरामद हुआ है। यह बाद में बताया जा सकेगा कि असला वैध है या फिर अवैध। मौके पर किसी भी तरह की तनातनी नहीं है, स्थिति निंयत्रण में है।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular