Homeराज्यहरियाणाकरनाल : डी.सी. ने सुरक्षा से जुड़े मसलों पर अधिकारियों से ली...

करनाल : डी.सी. ने सुरक्षा से जुड़े मसलों पर अधिकारियों से ली समाधान की रिपोर्ट

प्रवीण वालिया, करनाल :
सडक सुरक्षा समिति की मासिक बैठकों में सडकों के गड्ढे भरने की समस्या पर कई बार की चर्चा के बाद अब एक अच्छा समाधान निकला है। इस काम के लिए प्रदेश के पी.डबल्यू.डी, बी.एण्ड.आर.की ओर से स्टेट लेवल पर एक निजी कम्पनी को ठेका दिए जाने के बाद एक मशीन से सडकों के गड्ढद्दे भरे जा रहे है। शुक्रवार को लघु सचिवालय की मासिक बैठक में मशीन के करनाल में काम करने पर न केवल समिति के चेयरमैन एवं उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने खुशी जताई। यही नहीं मीटिंग के बाद प्रैशराईज इंजैक्शन पैचवर्क मशीन ने लघु सचिवालय के मुख्य गेट के सामने एक गड्ढद्दे को पैच कर दिखाया। कांट्रक्टर के प्रतिनिधि अक्षय उप्पल ने मशीन की खुबियां बताते कहा, इससे घंटों का काम मिन्टों में हो जाता है, बारिश में भी यह काम करती रहती है। औसतन 150 से 200 गड्ढे एक दिन में भर देती है। उन्होंने उपायुक्त को बताया कि करनाल में यह सितम्बर 2022 तक काम करेगी।
बता दें कि इस बार की मासिक बैठक में सडक सुरक्षा से सम्बधित 32 बिन्दू एजेंडे में डाले गए थे। इनमें बीती 23 फरवरी और 31 मार्च 2021 का एक-एक लम्बित मामला था, जिनमें एक निर्मल कुटिया चौंक के पास एनएच 44 से एंट्रीं प्वाईंट देने को लेकर था। जो पीडी अम्बाला के प्रतिनिधि की अनुपस्थिति से यह फिर पैंडिग हो गया। जबकि दूसरे में अम्बेडकर चौंक पर आॅडिटोरियम के आगे एमसी नगर निगम की ओर से सडक की चौड़ाई करवाई जाएगी। इसी प्रकार बीती 31 मई के भी दो बिन्दू थे, इनमें अस्पताल चौंक से मीनार चौंक तक कई जगहों पर लगाए गये बैरिगेट की जगह पक्की ग्रील लगेंगी। नगर निगम प्रतिनिधि ने बताया की इस काम का टेंडर हो गया है। दूसरा बिन्दू नमस्ते चौंक से आगे सर्विस लेन की ड्रेन, की सफाई व साईनेज की पेंटिंग को लेकर था। उपायुक्त ने अगली मिटिंग तक इस पर कार्यवाही करने के  निर्देश दिए।
इसके पश्चात बीती 30 जून की मीटिंग के एजेंडे के 13 बिन्दुओं पर चर्चा हुई। सम्बधित अधिकारियों से इनकी रिपोर्ट ली गई। ये मामले गड्ढÑे भरने व सडक सुरक्षा से जुड़े थे। इस पर सम्बधित अधिकारियों ने 8 पर वर्क डन की रिपोर्ट दी। जबकि 5 बिन्दुओं पर अगली मीटिंग तक कार्यवाही करने की बात कही गई। उपायुक्त ने एनएच 44 के प्रतिनिधि भानु प्रताप को निर्देश दिए कि नमस्ते चौंक से लेकर झिलमिल ढाबे तक जितने फ्लाईओवर हैं उनके नीचे दीवार के साथ खरपतावार उगा हुआ है, इसकी सफाई करवा दी जाए। जंगलात विभाग से यहां झाड़ीनुमा पौधे लगवाए जाएंगे। एक अन्य बिंन्दु में उपायुक्त ने भानु प्रताप गैर सरकारी सदस्य संदीप लाठर और एमई सुनील भल्ला की कमेटी बनाकर एनएच 44 के दोनों ओर बरसाती पानी निकासी की ड्रेन की सफाई और कम्बोपरा के पास इसकी कनैक्टीविटी को चैक करने के निर्देश दिए। तरावड़ी के पास हाईवे की मिट्टी खिसकने को लेकर उन्होंने भानु प्रताप से कारण पूछा। उसने बताया कि इस पर काम किया जा रहा है। स्थाई समाधान के लिए प्लान भी कर रहे हैं।
नए बस स्टैंड को लेकर उपायुक्त काफी नाराज हुए
इसी एजेंडे में पेंडिंग रहे घरौंडा के नए बस स्टैंड को लेकर उपायुक्त काफी नाराज हुए और उन्होंने जीएम रोडवेज को फटकार लगाई। उन्होंने कहा कि यह सरकारी तंत्र की विडम्बना है कि अब तक बस अड्डद्दा चालू नहीं हुआ। हाईवे से कट भी दे दिए हैं। बसों की एंट्री एग्जिट के लिए पीडी अम्बाला एनओसी देने को तैयार है, फिर भी बस अड्डद्दे को चालू क्यों नहीं किया जा रहा। जीएम ने क हा कि आदेशों का पालन किया जाएगा।
चालू मास के एजेंडे में 15 बिंदू शामिल थे। इनमें असंध सीएचसी परिसर में भरे वर्षा के पानी की निकासी, कुंजपुरा रोड पर नेवल के पास क्षतिग्रस्त सडक की मुरम्मत, सैक्टर 9 में शहीद उधम सिंह चौंक से नूर महल चौंक तक सडक पर फैली वृक्षों की टहनियां, सैक्टर 12 में एलआईसी कार्यालय के सामने गड्ढद्दे भरने, सैक्टर 32 में नूर महल के सामने स्पीड बे्रकर बनाने, काछवा गांव के पास सडक के बीच में बिजली के खंभे को हटाने, हांसी रोड पर एक जगह कचरे के ढेर हटाने, असंध-जींद रोड पर अरड़ाना गांव के पास क्षतिग्रस्त सडक की मुरम्मत, इंद्री के खेड़ा गांव में मोड़ पर स्पीड बे्रकर बनाने, महात्मा गांधी चौंक के अपोजिट महिला थाने के आगे फुटपाथ पर अवैध पार्क किए गए वाहनों की चालानिंग तथा इंजीनियरिंग विभागों द्वारा सडकों पर निर्माण के समय वर्क इन प्रोग्रैस, रोड क्लोज जैसे साईन बोर्ड लगाने तथा निर्माण विभागों द्वारा 5 किलोमीटर मॉडल रोड बनाने को लेकर थे। संबंधित विभागों के अधिकारियों को इन सभी पर कार्यवाही करने के लिए उपायुक्त ने निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कुंजपुरा रोड को अच्छे से ठीक कर दें। उन्होंने ट्रैफिक पुलिस प्रतिनिधि से कहा कि महिला थाने के आगे चेतावनी बोर्ड लगाने के बाद भी जो लोग गलत तरीके से वाहन पार्क करते हैं, उनके चालान किए जाएं।
गैर सरकारी सदस्यों ने सडक सुरक्षा को लेकर नई समस्याएं बताई
एजेंडा में शामिल बिंदुओं पर चर्चा के बाद गैर सरकारी सदस्यों ने सडक सुरक्षा को लेकर नई समस्याएं बताई। लाजपत राय चुचरा ने कहा कि मुगल कैनाल जिन-जिन विभागों के हिस्से में आती है वे सभी इसकी प्रोपर सफाई करवा दें। बारिश में इससे जल भराव होने का कारण बन जाता है। इस पर नगरनिगम आयुक्त ने बताया कि इसकी अच्छे से सफाई करवाई गई है और इससे पानी की निकासी हुई है। लाजपत राय ने कहा कि हाईवे से आगे मुगल कैनाल एक नाले का रूप ले लेती है जो ङ्क्षसचाई विभाग के अधीन है, उनको इसकी सफाई के निर्देश दिए जाएं। संदीप लाठर ने बताया कि नगला से अमृतपुर तक सडक कईं जगह से टूटी हुई है। आजकल करनाल-मेरठ रोड पर काम के चलते इस पर ट्रैफिक लोड ज्यादा है, इसकी मरम्मत करवाई जाए। प्रमोद गुप्ता ने कहा कि कलंदरी गेट से कमेटी चौंक तक ट्रैफिक की काफी भीड़ रहती है। पुरानी सब्जी मंडी के सामने स्थित छोटी सडक  से एक रास्ता निकलता है जो पुलिस चौंकी से पहले इसी रोड पर जा मिलता है। इसकी सफाई करवाकर यहां से ट्रैफिक डायवर्ट करवाकर कर्ण गेट पर लोड कम किया जा सकता है। इस पर उपायुक्त ने कहा कि इन सभी समस्याओं  पर गौर कर इनका समाधान करेंगे। बैठक में आरटीए सचिव वीना हुड्डद्दा, सभी उपमंडलाधीश, नगराधीश अभय जांगड़ा, सीईओ जिला परिषद गौरव कुमार तथा आरटीए कार्यालय के निरीक्षक जोगिन्द्र ढुल व गैर सरकारी सदस्य जेआर कालड़ा तथा रमन मिड्डद्दा भी मौजूद रहे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments