Homeराज्यहरियाणाभिवानी : चौधरी सुरेंद्र सिंह ने खेल परिसर में मनाया 75 वां...

भिवानी : चौधरी सुरेंद्र सिंह ने खेल परिसर में मनाया 75 वां स्वतंत्रता दिवस समारोह

सुमन तोशाम, भिवानी : 
एसडीएम मनीष कुमार फौगाट ने ध्वजारोहण और अपने संबोधन में कहा कि हर वर्ष की भांति आज हम देश के 75 वें स्वतंत्रता दिवस के गौरवमयी एवं सुखद क्षणों का एहसास करने के लिए एकत्र हुए हैं। एक लंबे संघर्ष के बाद भारत को 1947 में आज ही के दिन आजादी प्राप्त हुई थी। स्वतंत्रता दिवस हमारे देश की एकता, सम्मान और समर्पण का प्रतीक है। मातृभूमि पर बलिदान होने वाले सभी स्वतंत्रता सेनानियों के प्रति आज राष्ट्र अपनी कृतज्ञता प्रकट कर रहा है। इस गौरवमयी दिवस पर राष्ट्रीय ध्वजारोहण करना हमारे लिए बेहद गर्व का विषय है, जिसके लिए सभी को हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं।
एसडीएम ने कहा कि आजादी की इस लड़ाई में प्राण न्यौछावर करने वाले शूरवीरों व सरहदों पर शहीद होने वाले सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं तथा स्वतंत्रता सेनानियों, पूर्व सैनिकों एवं उनके परिजनों को नमन करता हूं। उन्होंने कहा कि देश को आजाद करवाने में अनेक शूरवीरो ने अपना बलिदान दिया। उस समय हमारी आंखों के सामने एक ऐसे समृद्व भारत की कल्पना तैर रही थी, जहां प्रत्येक नागरिक सामाजिक, आर्थिक एवं शैक्षणिक तौर पर भी सबल हो। इसे पूरा करने के लिए राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, नेताजी सुभाषचंद्र बोस, लाला लाजपत राय, डॉ राजेन्द्र प्रसाद, पंडित जवाहरलाल नेहरू, सरदार वल्लभभाई पटेल, डॉ भीमराव अंबेडकर आदि अनेक महान स्वतंत्रता सेनानियों ने कड़ा संघर्ष किया। शहीद भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद, राजगुरू, सुखदेव, उधम सिंह जैसे देश पर स्वयं को आहूत करने वाले हजारों बलिदानियों को हमारा जनमानस कभी भुला नहीं सकता।
उन्होंने कहा कि इन महापुरुषों के पदचिन्हों पर चलते हुए सर्वप्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के ओजस्वी नेतृत्व से आज देश में क्रांतिकारी बदलाव दिखाई दे रहे हैं। उनकी वैश्विक एवं प्रगतिशील सोच से अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत को एक शक्तिशाली राष्ट्र के रूप में पहचान मिली है। आज पूरा विश्व उनके चमत्कारी नेतृत्व का लोहा मान रहा है।
एसडीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाकर भारत की आंतरिक सुरक्षा-व्यवस्था को मजबूत किया। इससे देश के लोगों के लिए जहां नए अवसर सृजित होंगे, वहीं कश्मीर से कन्याकुमारी तक ह्यएक भारत, श्रेष्ठ भारतह्ण से नवभारत के निर्माण को बल मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के कुशल नेतृत्व में पहली बार देश को सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अध्यक्षता का अवसर प्राप्त हुआ है। प्रधानमंत्री के नेतृत्व के चलते नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति, राज्यों को बीसी जातियों में सूची बनाने का अधिकार, तीन तलाक कुप्रथा से मुक्ति, स्वच्छ भारत अभियान, अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण आदि अनेकों महत्वपूर्ण फैसले हुए हैं।
एसडीएम फौगाट ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व में हमारी सरकार हरियाणा में ह्यसमान अवसर, समान विकासह्ण के सिद्धांत पर कार्य कर रही है। राज्य के लोगों के लिए हमने खेल, शिक्षा, स्वास्थ्य, सुरक्षा, बिजली, स्वावलम्बन तथा आधारभूत संरचना व अन्य क्षेत्रों के उन्नयन के लिए अनेक कदम उठाए हैं ताकि हरियाणा को एक समृद्व एवं खुशहाल राज्य बनाया जा सके।
मुख्य अतिथि ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहरलाल के नेतृत्व में आज प्रदेशप्रगति के पथ पर अग्रसर है। हरियाणा देश का पहला राज्य है जिसमें खिलाड़ियों को सर्वाधिक पुरस्कार के रूप में नकद राशि दी जा रही है। इसके अलावा खिलाड़ियों के लिए खेल विभाग में 550 नए पद सृजित किए गए हैं।
एसडीएम ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहरलाल के नेतृत्व में प्रदेश सरकार ने भृष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए कदम उठाते हुए सैंकड़ों स्कीमों को डीबीटी से जोड़ा है जिसके माध्यम से पैसा सीधा लाभार्थियों के खाते में जा रहा है। 2020 को सुशासन संकल्प वर्ष के रूप में मनाया गया था और इस वर्ष को सुशासन परिणाम वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। एसडीएम ने कहा कि प्रदेश में विभिन्न 41 विभागों की लगभग 550 सेवाएं और योजनाएं अंत्योदय सरल पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन उपलब्ध करवाई जा रही हैं, जिससे भृष्टाचार पर अंकुश लगा है और लोगों को घर बैठे सरकारी सेवाओं का लाभ मिल रहा है। एसडीएम ने कहा कि प्रदेश सरकार ने नागरिकों की हर समय मदद के लिए डायल-112, मेरी फसल-मेरा ब्यौरा, मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना, भावांतर भरपाई योजना, प्रगति किसान सम्मान योजना, निजी क्षेत्र के उद्योगों में 75 प्रतिशत प्रदेश के युवाओं के लिए आरक्षण , सामाजिक सुरक्षा पेंशन में बढ़ोतरी आदि अनेकों जनहितैषी योजनाएं शुरू की हैं और प्रदेश उन्नति के पथ पर है।
एसडीएम ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस के इस पुनीत अवसर पर आप सभी को बधाई और शुभकामनाएं देता हूं और अपेक्षा रखता हूं कि आप राष्ट्रीय एकता व अखंडता को बनाए रखने के लिए भविष्य में भी सहयोग, समर्पण तथा त्यागभाव से देश के नवनिर्माण में इसी तरह अपना अमूल्य योगदान देते रहेंगे।
समारोह के दौरान मुख्य अतिथि ने स्वतंत्रता सेनानियों व उनकी विधवाओं, युद्ध में शहीद हुए सैनिकों की विरांगनाओं के अलावा उल्लेखनीय कार्य करने वाले विभिन्न विभागों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को प्रशंसा पत्र भेंट कर सम्मानित किया। मुख्य अतिथि ने समारोह में भाग लेने वाले छात्र-छात्राओं को भी सम्मानित किया।
कार्यक्रम से पूर्व एसडीएम शहीद पार्क पहुंचे और शहीद स्मारक पर श्रद्धासुमन अर्पित कर शहीदों को नमन किया।
इस अवसर पर अतिरिक्त सिविल जज (सीनियर डिवीजन) श्री जोगेंद्र सिंह, नायब तहसीलदार रवि कुमार, थाना प्रभारी जयसिंह यादव, एसडीएम की धर्मपत्नी अन्नू देवी, वन राजिक अधिकारी जयपाल राठी, खंड शिक्षा अधिकारी रघुवीर सिंह, चौधरी बंसीलाल राजकीय महिला महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ दलीप सिंह, एससीपीओ अजय कुमार, तोशाम के सरपंच देवराज गोयल, पदम सिंह, महिला एवं बाल विकास विभाग से सुपरवाइजर पंकज व कुसुम, अनिल सांगवान, भारत भूषण शर्मा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी व अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments