Homeहरियाणाभिवानीसैनिकों की कर्तव्यपरायणता से प्रेरणा लेने की जरूरत- बीडीपीओ गुप्ता

सैनिकों की कर्तव्यपरायणता से प्रेरणा लेने की जरूरत- बीडीपीओ गुप्ता

  • झारखंड में नक्सलियों से लोहा मनवाने वाले इंस्पेक्टर शिवकुमार का किया सम्मान

आज समाज डिजिटल , तोशाम:
खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी बलराम गुप्ता ने कहा है कि हमें अपने सैनिकों की कर्तव्यपरायणता से प्रेरणा लेने की जरूरत है, जिस तरह से सैनिक देश की रक्षा के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर देते हैं, उसी तरह हमें भी देश के विकास के लिए अपना योगदान करना चाहिए।

इंस्पेक्टर शिवकुमार को सम्मानित किया गया

बीडीपीओ शुक्रवार रात्रि को गांव साहलेवाला में स्थित बाबा सांवतनाथ डेरे में आयोजित जागरण कार्यक्रम के दौरान नक्सलियों के साथ वीरता से लड़ने वाले सीआरपीएफ के इंस्पेक्टर शिवकुमार जांगड़ा को सम्मानित करते हुए बोल रहे थे। इंस्पेक्टर शिवकुमार की वीरता पर महामहिम राष्ट्रपति द्वारा पुलिस मेडल से सम्मानित किए जाने की घोषणा की गई है। प्रत्येक वर्ष भाद्रपद की सप्तमी को बाबा सांवतनाथ डेरे पर विशाल जागरण व मेले का आयोजन किया जाता है। इस कड़ी में शुक्रवार रात्रि को आयोजित कार्यक्रम में सामाजिक कुप्रथा निषेध अभियान कमेटी व ग्राम पंचायत साहलेवाला द्वारा इंस्पेक्टर शिवकुमार को सम्मानित किया गया। इंस्पेक्टर शिव कुमार ने झारखंड में 2019 में नक्सलियों से मुठभेड़ में अदम्य साहस का परिचय देते हुए नक्सलियों के कैम्प को ध्वस्त कर दिया था। मुकेश श्योराण, अनिल कालीरामण, चन्द्रभान कालीरामण, जयबीर मूंड, संदीप बड़शरा, एडवोकेट पूजा भुक्कल, जेपी हसानियां, सज्जन संडवा, शत्रुघ्न पायल, सुरेंद्र नंबरदार आदि ने बीडीपीओ को शॉल भेंटकर सम्मानित किया।

देश की रक्षा के लिए हमेशा तत्पर: इंस्पेक्टर शिवकुमार

शिवकुमार की वीरता की तारीफ करते हुए बीडीपीओ ने कहा कि सैनिक अपने कर्तव्य पालन व उद्देश्य की पूर्ति के लिए अपना घर-परिवार छोड़कर उनसे मीलों दूर रहकर संपूर्ण भारत को अपना घर व प्रत्येक भारतवासी को अपना पारिवारिक सदस्य मानते हैं। प्रत्येक नागरिक को इससे प्रेरणा लेनी चाहिए। अखिल भारतीय कालीरामण खाप के पूर्व राष्ट्रीय प्रधान वीरेंद्र संडवा ने इंस्पेक्टर शिवकुमार की बहादुरी को साहलेवाला गांव की ही नहीं बल्कि क्षेत्र के लिए गर्व की बात बताया। उन्होंने कहा कि सैनिक हमारे देश के प्रहरी होते है, जब तक वे सीमा पर तैनात हैं, तब तक हम भी चैन की सांस ले पाते हैं। राष्ट्र की सुरक्षा, अखंडता व एकता को बनाए रखने में भारतीय सशस्त्र सेनाओं का योगदान किसी से छुपा नहीं है। देश की रक्षा के लिए हमेशा तत्पर रहने वाले सैनिक अपने परिवार से दूर रहते हैं। अखंडता, एकता व भाईचारे के प्रतीक जाबांज सैनिक हम सबके प्रेरणास्रोत हैं। इंस्पेक्टर शिवकुमार से युवाओं को प्रेरणा लेनी चाहिए।

इस अवसर पर गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे

इस अवसर पर बाबा तारानाथ, बाबा बाघनाथ, बाबा छोटूनाथ,
मंगल सिंह, रमेश प्रधान, रोहताश भुक्कल, नरेश कालीरामण आदि गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें : गांव मालड़ा में बाबा खेमचंद दास जोहड़िया मेले में शनिवार रात्रि को होगा जागरण

ये भी पढ़ें : रेल यात्रियों के लिए बड़ी सौगात, भिवानी से कालका के बीच चलेगी एकता एक्सप्रेस

ये भी पढ़ें : शराब के ठेके में एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली, मानसिक रूप से परेशान था

Connect With Us: Twitter Facebook

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular